Sonipat Accident: ट्रक चालक की आंखों के सामने हुआ हादसा, तीन की बचाई जान, सभी को न बचा पाने का मलाल


सोनीपत में राष्ट्रीय राजमार्ग 334बी पर देर रात हुए भीषण सड़क हादसे का प्रत्यक्षदर्शी ट्रक चालक सामने आया है। जो हादसे के समय घटनास्थल के सामने बने रेत के स्टॉक पर अपनी गाड़ी लोड करवाने पहुंचा था। चालक विशाल शर्मा का कहना है कि हादसा देर रात करीब 12 बजकर 40 मिनट पर हुआ। तेज रफ्तार कार सड़क के बीच रखे डिवाइडरों से टकराई और फिर उनके ऊपर चढ़कर झूल गई।

विशाल का कहना है कि धमाके की आवाज सुनकर वह इस दृश्य को देख ही रहा था कि इसी बीच कार के अगले हिस्से में आग लग गई। वह कार की तरफ भागा। इसी बीच उसे पीछे से एक कैंटर आता हुआ दिखाई दिया। जिसके चालक ने हादसा होता देख अपने कैंटर को रोका और उतरकर नीचे आया।

विशाल ने बताया कि उसने कैंटर चालक के साथ मिलकर कार में फंसे युवकों को बाहर निकालने का प्रयास किया, लेकिन टक्कर के बाद क्षतिग्रस्त हुई कार की खिड़कियां नहीं खुल रही थी। ऐसे में उन्होंने सड़क से पत्थर उठाए और एक के बाद एक वार करते हुए कार की डिग्गी का शीशा और पिछली खिड़की का शीशा तोड़ा। जिसके बाद उन्होंने किसी प्रकार तीन युवकों को बाहर निकाला।

आग फैलने के कारण अंदर फंसे रह गए तीन युवक

विशाल का कहना है कि तीन युवकों को निकालने तक आग पूरी तरह कार में फैल चुकी थी। कार के अगले हिस्से में फंसे तीन युवकों को बाहर निकाल पाना संभव नहीं था। हादसे की सूचना पुलिस को दी गई। जिसके करीब 20 मिनट बाद पुलिस और आधे घंटे बाद एंबुलेंस मौके पर पहुंची। जिसके बाद घायलों को अस्पताल भिजवाया गया।

विशाल का कहना है कि अगर कार में आग नहीं लगती तो अगले हिस्से में फंसे तीनों युवकों की भी जान बचाई जा सकती थी। उसे तीन युवकों को न बचा पाने का मलाल रहेगा। हादसे की सूचना पाकर पहुंची दमकल गाड़ी ने आग पर काबू पाया।

बुधवार को ही रखे गए थे डिवाइडर

राष्ट्रीय राजमार्ग- 334बी पर बनाए गए पुल के ऊपर से बिजली के हाई वोल्टेज तार गुजर रहे हैं। बिजली लाइन को शिफ्ट करने का काम किया जाना था। इसलिए सड़क को बंद करने के उद्देश्य से बुधवार को दिन में ही ये डिवाइडर रखे थे। जिसके चलते देर रात को यह हादसा हो गया और तीन युवाओं की जान चली गई।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

कार की टक्कर लगने से बाइक चालक किसान की मौत, केस दर्ज

तीन कोरोना संक्रमित मिले, पांच किए डिस्चार्ज