in

RS चुनाव: गहलोत सरकार पर फोन टैपिंग के आरोप, कटारिया बोले- सीएम करा रहे हैं भाजपा विधायकों के फोन टैप; बताई ये वजह


राजस्थान में राज्यसभा चुनाव को लेकर एक फिर से प्रदेश में फोन टैपिंग का मामला सुर्खियों में है। नेता प्रतिपक्ष गुलाब चंद कटारिया ने गहलोत सरकार पर फोन टैपिंग करने का आरोप लगाया है। कटारिया ने कहा कि सीएम गहलोत बीजेपी विधायकों के फोन टैप करवा रहे है। कटारिया ने कहा कि फोन टैपिंग कराने का अधिकार सीएम गहलोत को कैसे मिल गया। सीएम गहलोत को यह बताना चाहिए कि आखिर विभाग को ऐसे कौन से तर्क दिए गए, जो इन चुनावों में फोन टैपिंग कराने का अधिकार दिया गया है। उन्होंने कहा कि प्रदेश की जनता देख रही है। मुख्यमंत्री अपने विभाग को दबाव में लेकर इस प्रकार अनाधिकृत रूप से फोन टैपिंग करवाते हैं। उल्लेखनीय है कि पायलट गुट की बगावत के समय भी गहलोत सरकार पर फोन टैपिंग के आरोप लगे थे।

गहलोत सरकार पर फोन टैपिंग के आरोप

राजस्थान के पूर्व गृह मंत्री और मौजूदा नेता प्रतिपक्ष गुलाबचंद कटारिया ने बुधवार को इस मामले में कहा कि प्रदेश सरकार और कांग्रेस ने इस बार राज्यसभा के चुनाव में सभी हदें पार कर दी हैं। कटारिया ने कहा कि फोन टैपिंग के अधिकार होम सेक्रेट्री तब देता है। जब देशद्रोह या कोई ऐसी बहुत बड़ी स्थिति बने, जिससे नुकसान होने वाला हो। राजस्थान में सरकार भी कांग्रेस की और गृह विभाग के मुखिया भी खुद मुख्यमंत्री हैं, चाहे जिसका फोन टैप करा लो और उसकी परमिशन ले लो, सब सरकार के हाथ में ही है।

कटारिया बोले- भाजपा ने बनाया तथा मुद्दा 

गुलाबचंद कटारिया ने कहा कि पिछली बार राज्य में सियासी संकट के दौरान भी गहलोत सरकार ने अनाधिकृत रूप से फोन टैप कराए थे। इसका ऑडियो वायरल होने के बाद विधानसभा में भाजपा ने इसे मुद्दा बनाया और एक बड़ा विवाद खड़ा हुआ। अब मंत्री महेश जोशी विभाग में पहले जबरन की शिकायत दर्ज कराते हैं, ताकि उसके आधार पर विभाग फोन टैपिंग के लिए होम सेक्रेट्री से अनुमति ले और चाहे जिसके फोन टैप करवाकर दबाव बनाएं।

संबंधित खबरें

.


महिला साइक्लिस्ट ने कोच पर लगाया था ‘गलत व्यवहार’ का आरोप, SAI ने पूरी टीम ही वापस बुलाई

रामाकृष्णा ने पैरा शूटिंग वर्ल्ड कप में जीता गोल्ड, पेरिस-2024 पैरालंपिक का कोटा भी मिला