Ranji Final: रजत पाटीदार सहित 3 शतकों के दम पर मप्र खिताब के नजदीक, मुंबई पर 162 रन की बढ़त


बेंगलुरु. रजत पाटीदार (Rajat Patidar) सहित 3 शतक के दम पर मप्र की टीम अपने पहले रणजी खिताब के और नजदीक पहुंच गई है. मैच के चौथे दिन शनिवार को टीम फाइनल में पहली पारी में 536 रन बनाकर आउट हुई. रजत पाटीदार ने 122, यश दुबे ने 133 और शुभम शर्मा ने 116 रन बनाए. इसके अलावा तेज गेंदबाज सारांश जैन ने भी 57 रन की महत्वपूर्ण पारी खेली. मुंबई ने पहली पारी में 374 रन बनाए थे. इस तरह से मप्र को 162 रन की अच्छी खासी बढ़त मिल चुकी है. मुंबई की ओर से बाएं हाथ के स्पिनर शम्स मुलानी ने एक बार फिर अच्छा प्रदर्शन किया और 173 रन देकर 5 विकेट लिए. अभी एक से अधिक दिन का खेल बाकी है.

मैच के चौथे दिन मप्र ने पहली पारी में 3 विकेट पर 368 रन से आगे खेलना शुरू किया. टीम अभी भी मुंबई ने 6 रन से पीछे थी. रजत पाटीदार 67 और कप्तान आदित्य श्रीवास्तव 11 रन पर नाबाद रहे. टीम को 400 रन तक इन्हीं दोनों बल्लेबाजों ने पहुंचाया. आदित्य लेकिन बड़ी पारी नहीं खेल सके. वे 69 गेंद पर 25 रन बनाकर तज गेंदबाज मोहित अवस्थी का शिकार हुए. इसके बाद उतरे अक्षत रघुवंशी 9 रन बनाकर तुषार देशपांडे और पार्थ सहानी 11 रन बनाकर मुलानी का शिकार हुए. मप्र का स्कोर 6 विकेट पर 430 रन हो गया.

पाटीदार और सारांश ने की अर्धशतकीय साझेदारी

इसके बाद रजत पाटीदार ने अपना मौजूदा सीजन का दूसरा शतक पूरा किया और सारांश जैन के साथ 7वें विकेट के लिए 53 रन की साझेदारी करके स्कोर को 500 के नजदीक पहुंचाया. पाटीदार 219 गेंद पर 122 रन बनाकर आउट हुए. 20 चौका लगाया. उन्हें तीसरे दिन 52 रन के स्कोर पर भाग्य का साथ मिला था. वे आउट हो गए थे, लेकिन मुलानी की गेंद नोबॉल हो गई थी.

Ranji Trophy Final: रजत पाटीदार का रणजी फाइनल में सैकड़ा, 7 पारियों ने बदल दिया MP का भाग्य

इसके बाद सारांश ने अपने फर्स्ट क्लास करियर का पहला अर्धशतक लगाया. वे 97 गेंद पर 57 रन बनाकर अंतिम विकेट के रूप में आउट हुए. उन्हाेंने 7 चौका लगाया. इससे पहले 35 रन उनका बेस्ट स्कोर था. मुंबई की ओर से तुषार देशपांडे ने भी 3 और मोहित अवस्थी ने 2 विकेट लिया. मुंबई की टीम ने सबसे अधिक 41 बार रणजी का खिताब जीता है. लेकिन पहली पारी में पृथ्वी शॉ की अगुआई वाली टीम बड़ा स्कोर बनाने में सफल रही.

Tags: Mumbai, Prithvi Shaw, Ranji Trophy

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पंजाब के घूसखोर IAS अफसर संजय पोपली के बेटे ने खुद को गोली मारी, परिवार से पूछताछ को घर पहुंची थी विजिलेंस टीम

बिटकॉइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म बिटपांडा ने 250 कर्मचारियों की छंटनी की