Punjab Budget Session: आज से शुरू हो रहा पंजाब का बजट सत्र, सदन में सुनाई देगी सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की गूंज


ख़बर सुनें

भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार का पहला बजट सत्र शुक्रवार को शुरू होगा। सत्र के दौरान विपक्षी दल राज्य की कानून-व्यवस्था और अन्य मुद्दों पर सत्तारूढ़ आप के खिलाफ आक्रामक होंगे। विपक्ष पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड को भी जोरशोर से उठाने की तैयारी में है।

सदन के सदस्य शुक्रवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर श्रद्धांजलि और धन्यवाद प्रस्ताव के लिए एकत्र होंगे, इसके बाद इस पर चर्चा होगी। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा 2022-23 का बजट 27 जून को पेश करेंगे और उसके बाद बजट पर आम चर्चा होगी। कार्यक्रम के अनुसार बजट सत्र 30 जून तक संचालित होगा। 

विपक्षी दल कांग्रेस, भाजपा और शिअद कानून-व्यवस्था को लेकर मान सरकार पर निशाना साधेंगे। खासकर पिछले महीने लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या को लेकर हंगामे के आसार हैं। वादे नहीं पूरा करने पर विपक्षी दल सरकार पर हमलावर होंगे। 

लोगों का बजट पेश करेंगे चीमा
आप सरकार ने राज्य के बजट के लिए आम जनता से सुझाव मांगे थे, जिसे मंत्री चीमा ने जनता बजट (लोगों का बजट) कहा था। मार्च में पंजाब विधानसभा ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के पहले तीन महीनों (अप्रैल-जून) के लिए लेखानुदान पारित किया था। 

शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि पर फोकस
पंजाब सरकार इस बार उपेक्षित रहने वाले शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि क्षेत्रों पर फोकस करेगी। सरकार इन क्षेत्रों में 15 से 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी करने की तैयारी के साथ उतरेगी। इससे पहले की सरकारों में इन क्षेत्रों में मात्र 1.3 फीसदी का आवंटन किया जाता रहा है।

विस्तार

भगवंत मान के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार का पहला बजट सत्र शुक्रवार को शुरू होगा। सत्र के दौरान विपक्षी दल राज्य की कानून-व्यवस्था और अन्य मुद्दों पर सत्तारूढ़ आप के खिलाफ आक्रामक होंगे। विपक्ष पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड को भी जोरशोर से उठाने की तैयारी में है।

सदन के सदस्य शुक्रवार को राज्यपाल के अभिभाषण पर श्रद्धांजलि और धन्यवाद प्रस्ताव के लिए एकत्र होंगे, इसके बाद इस पर चर्चा होगी। वित्त मंत्री हरपाल सिंह चीमा 2022-23 का बजट 27 जून को पेश करेंगे और उसके बाद बजट पर आम चर्चा होगी। कार्यक्रम के अनुसार बजट सत्र 30 जून तक संचालित होगा। 

विपक्षी दल कांग्रेस, भाजपा और शिअद कानून-व्यवस्था को लेकर मान सरकार पर निशाना साधेंगे। खासकर पिछले महीने लोकप्रिय पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या को लेकर हंगामे के आसार हैं। वादे नहीं पूरा करने पर विपक्षी दल सरकार पर हमलावर होंगे। 

लोगों का बजट पेश करेंगे चीमा

आप सरकार ने राज्य के बजट के लिए आम जनता से सुझाव मांगे थे, जिसे मंत्री चीमा ने जनता बजट (लोगों का बजट) कहा था। मार्च में पंजाब विधानसभा ने वित्तीय वर्ष 2022-23 के पहले तीन महीनों (अप्रैल-जून) के लिए लेखानुदान पारित किया था। 

शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि पर फोकस

पंजाब सरकार इस बार उपेक्षित रहने वाले शिक्षा, स्वास्थ्य और कृषि क्षेत्रों पर फोकस करेगी। सरकार इन क्षेत्रों में 15 से 20 प्रतिशत की बढ़ोतरी करने की तैयारी के साथ उतरेगी। इससे पहले की सरकारों में इन क्षेत्रों में मात्र 1.3 फीसदी का आवंटन किया जाता रहा है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पांच प्रश्न हल करने का दिया जाए अवसर

सूचनाओं और जानकारी से होगा मानसिक विकास