Kaithal News: शिशु और मां के बेहतर स्वास्थ्य की ली जानकारी


संवाद न्यूज एजेंसी

कैथल। सरकार की तरफ से चलाई गई लक्ष्य योजना के तहत जिला नागरिक अस्पताल के जच्चा-बच्चा वार्ड में मंगलवार को स्वास्थ्य विभाग के निदेशालय की टीम ने निरीक्षण किया। टीम में निदेशक कार्यालय से डॉ. रणवीर और दिव्या शामिल रहीं। इन दोनों ही चिकित्सकों ने जच्चा-बच्चा वार्ड में शिशु और मां के बेहतर स्वास्थ्य के लिए इलाज के संबंध में जानकारी ली।

गौरतलब है कि केंद्र सरकार ने शिशुओं और मां के बेहतर स्वास्थ्य के लिए लक्ष्य योजना चलाई गई है। इसके तहत यदि किसी जिले का अस्पताल का चयन होता है तो उस अस्पताल को हर साल छह लाख रुपये प्रोत्साहन राशि के तौर पर दिए जाते हैं।

जिले के नागरिक अस्पताल को इस योजना में शामिल करने के उद्देश्य से ही पंचकूला से पहुंची चिकित्सकाें की टीम ने यहां का दौरा किया है। टीम के सदस्यों ने जच्चा-बच्चा वार्ड में शिशु और मां के बेहतर स्वास्थ्य की जानकारी ली।

निरीक्षण में इन आठ बिंदुओं पर हुआ सर्वे : लक्ष्य कार्यक्रम की टीम ने अस्पताल में पहुंचकर आठ बिंदुओं पर सर्वे किया। इसमें मृत बच्चे पैदा होने की संख्या कम करने, शिशु मृत्यु दर को कम करना, प्रसूता की मौत की संख्या कम करने, सर्विस प्रोविजन, रोगी के अधिकार, इंफ्रास्ट्रक्चर इनपुट, निरीक्षण व रखरखाव, क्लिनिक सर्विस, इंफेक्शन कंट्रोल, गुणवत्ता प्रबंधन, आउटकम इंडिकेटर आदि बिंदुओं पर जानकारी प्राप्त की गई। जानकारी के आधार पर आगे की कार्ययोजना बनाई जाएगी।

जिला नागरिक अस्पताल के प्रधान चिकित्सा अधिकारी सचिन मांडले ने बताया कि अस्पताल के जच्चा-बच्चा वार्ड में स्वास्थ्य विभाग के निदेशालय की टीम ने दौरा किया है। इस दौरे के तहत टीम के सदस्यों ने शिशुओं और मां को दी जा रही सुविधाओं पर जानकारी ली है। यदि इस योजना में अस्पताल का चयन हुआ तो अलग से प्रोत्साहन राशि मिलेगी।

चयन होने से अस्पताल और रोगियों को होंगे ये फायदे

< लक्ष्य योजना में चयन होने के बाद जिला अस्पताल को प्रति वर्ष लेबर रूम और एमसीएच ऑपरेशन थिएटर के लिए तीन-तीन लाख रुपये सालाना प्रोत्साहन राशि मिलेगी। यह राशि लेबर रूम और ऑपरेशन थिएटर में सुविधा विस्तार पर खर्च होगी।

< प्रसूताओं व नवजात शिशु की मृत्यु दर कम होगी। वहीं प्रसूताओं व शिशुओं को लेकर सुविधाओं में विस्तार से फायदा होगा। लक्ष्य कार्यक्रम के तहत विश्वस्तरीय बेहतर सुविधाएं उपलब्ध कराने की योजना है।

.


What do you think?

Kaithal News: बाहरी बच्चों के लिए जल्द खुलेंगे 20 केंद्र

Fatehabad: टोहाना में गोल्डन सपा सेंटर पर पुलिस की रेड, पंजाब की महिलाओं को लाकर करवाया जाता था अनैतिक काम