Haryana Weather: एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय, आज प्रदेश के उत्तरी जिलों में ज्यादातर जगहों पर बारिश की संभावना


ख़बर सुनें

सोमवार रात से उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से राजस्थान पर एक चक्रवातीय परिसंचरण बन गया है। इसे अरब सागर से प्रचुर मात्रा में नमी मिलेगी। इसके असर से सम्पूर्ण इलाके पर विपरीत हवाओं के मिलन से बादलवाही देखने को मिलेगी। वहीं मंगलवार अलसुबह से ही राजस्थान, हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में प्री मानसून गतिविधियों दर्ज की जाएंगी। हरियाणा के उत्तरी जिलों पर अधिकतर स्थानों और शेष हरियाणा के जिलों में बिखराव के रूप में बारिश की गतिविधियों की संभावना बन रही है। इसे लेकर भारतीय मौसम विभाग ने सम्पूर्ण इलाके पर येलो अलर्ट जारी कर दिया है।

पिछले चार पांच दिनों से सम्पूर्ण हरियाणा व एनसीआर में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से प्री मानसून बारिश की गतिविधियों को दर्ज किया गया है। इसकी वजह से सम्पूर्ण इलाके में तापमान में गिरावट और भीषण गर्मी व लू नदारद है। सोमवार को मौसम प्रणाली का असर राजस्थान पर अधिक देखने को मिला।

प्रदेश में सिर्फ पंचकूला, यमुनानगर, अम्बाला व कैथल जिले में बारिश संबंधी गतिविधियां दर्ज की गईं। इस दौरान हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में अधिकतम तापमान 30.0 से 35.0 और न्यूनतम तापमान 21.4 से 26.0 दर्ज किया गया है। प्रदेश में महेंद्रगढ़ का रात्रि का तापमान सबसे कम दर्ज किया गया।

प्रदेश में बारिश का आंकड़ा

  • बापौनी फरीदाबाद-1.0
  • कुरुक्षेत्र केवीके-0.5
  • पंचकूला एडब्लयूएस-21.0

नोट – बारिश का यह आंकड़ा सोमवार सुबह साढ़े 8 बजे से शाम साढ़े 5 बजे तक का है।

विस्तार

सोमवार रात से उत्तरी पर्वतीय क्षेत्रों में एक नया पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने से राजस्थान पर एक चक्रवातीय परिसंचरण बन गया है। इसे अरब सागर से प्रचुर मात्रा में नमी मिलेगी। इसके असर से सम्पूर्ण इलाके पर विपरीत हवाओं के मिलन से बादलवाही देखने को मिलेगी। वहीं मंगलवार अलसुबह से ही राजस्थान, हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में प्री मानसून गतिविधियों दर्ज की जाएंगी। हरियाणा के उत्तरी जिलों पर अधिकतर स्थानों और शेष हरियाणा के जिलों में बिखराव के रूप में बारिश की गतिविधियों की संभावना बन रही है। इसे लेकर भारतीय मौसम विभाग ने सम्पूर्ण इलाके पर येलो अलर्ट जारी कर दिया है।

पिछले चार पांच दिनों से सम्पूर्ण हरियाणा व एनसीआर में पश्चिमी विक्षोभ के प्रभाव से प्री मानसून बारिश की गतिविधियों को दर्ज किया गया है। इसकी वजह से सम्पूर्ण इलाके में तापमान में गिरावट और भीषण गर्मी व लू नदारद है। सोमवार को मौसम प्रणाली का असर राजस्थान पर अधिक देखने को मिला।

प्रदेश में सिर्फ पंचकूला, यमुनानगर, अम्बाला व कैथल जिले में बारिश संबंधी गतिविधियां दर्ज की गईं। इस दौरान हरियाणा, एनसीआर व दिल्ली में अधिकतम तापमान 30.0 से 35.0 और न्यूनतम तापमान 21.4 से 26.0 दर्ज किया गया है। प्रदेश में महेंद्रगढ़ का रात्रि का तापमान सबसे कम दर्ज किया गया।

प्रदेश में बारिश का आंकड़ा

  • बापौनी फरीदाबाद-1.0
  • कुरुक्षेत्र केवीके-0.5
  • पंचकूला एडब्लयूएस-21.0

नोट – बारिश का यह आंकड़ा सोमवार सुबह साढ़े 8 बजे से शाम साढ़े 5 बजे तक का है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पिस्तौल लेकर चुनावी माहौल देखने आए थे युवक, दोनों पर केस दर्ज

योग मैराथन में खेवड़ा के आशु व सुनीता रहे अव्वल