Gurugram: सीएम मनोहर लाल ने दिए निर्देश- सभी जिलों में खोले जाएंगे विश्वकर्मा यूनिवर्सिटी की तर्ज पर एक्सटेंशन सेंटर


अमर उजाला, न्यूज डेस्क, गुरुग्राम
Published by: अनुराग सक्सेना
Updated Mon, 20 Jun 2022 06:03 PM IST

ख़बर सुनें

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को बताया कि गुरुग्राम स्थित श्री विश्वकर्मा स्किल यूनिवर्सिटी को प्रदेश के अन्य जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोलने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोले जाने के बाद इनमें युवाओं के कौशल विकास के लिए यूनिवर्सिटी की तर्ज पर रोजगारोन्मुखी कोर्स चलाए जाएंगे।

इससे पहले गुरुवार को मनोहर लाल ने पलवल में कहा था कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के युवाओं को शिक्षा के साथ-साथ कौशल में निपुण बनाने के लिए स्थापित देश का पहला कौशल विश्वविद्यालय मील का पत्थर साबित हो रहा है, क्योंकि कौशल ही देश, समाज और राष्ट्र को आगे बढ़ा सकता है। मुख्यमंत्री पलवल के दूर्धाला गांव में स्थित श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के तृतीय स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए समय की मांग के अनुरूप कौशल से जुड़ी शिक्षा प्रदान करने के लक्ष्य के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी थी। यह विश्वविद्यालय प्रधानमंत्री के ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान को आगे बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगा।

विस्तार

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने सोमवार को बताया कि गुरुग्राम स्थित श्री विश्वकर्मा स्किल यूनिवर्सिटी को प्रदेश के अन्य जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोलने के निर्देश दिए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी जिलों में एक्सटेंशन सेंटर खोले जाने के बाद इनमें युवाओं के कौशल विकास के लिए यूनिवर्सिटी की तर्ज पर रोजगारोन्मुखी कोर्स चलाए जाएंगे।

इससे पहले गुरुवार को मनोहर लाल ने पलवल में कहा था कि राज्य सरकार द्वारा प्रदेश के युवाओं को शिक्षा के साथ-साथ कौशल में निपुण बनाने के लिए स्थापित देश का पहला कौशल विश्वविद्यालय मील का पत्थर साबित हो रहा है, क्योंकि कौशल ही देश, समाज और राष्ट्र को आगे बढ़ा सकता है। मुख्यमंत्री पलवल के दूर्धाला गांव में स्थित श्री विश्वकर्मा कौशल विश्वविद्यालय के तृतीय स्थापना दिवस कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।

उन्होंने कहा कि युवाओं के लिए समय की मांग के अनुरूप कौशल से जुड़ी शिक्षा प्रदान करने के लक्ष्य के साथ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस विश्वविद्यालय की आधारशिला रखी थी। यह विश्वविद्यालय प्रधानमंत्री के ‘आत्मनिर्भर भारत’ अभियान को आगे बढ़ाने में मील का पत्थर साबित होगा।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

मॉडल संस्कृति स्कूलों के खराब परिणाम के बाद शिक्षा विभाग मंथन करने में जुटा

हादसा: पलवल में हाईटेंशन लाइन की तार टूटी, करंट लगने से छत पर खेल रही दो लड़कियों की मौत