Fatehabad: फतेहाबाद में प्रशासन बंद करने लगा लिंक मार्ग, कई रूटों पर नहीं चलीं बसें, ऑनलाइन भुगतान भी ठप


Administration busy to closing link road in Fatehabad Due to kisan Andolan

फतेहाबाद के गांव रोझांवाली के पास सड़क पर रखे सीमेंट के ब्लॉक्स।
– फोटो : संवाद न्यूज एजेंसी

विस्तार


किसानों के दिल्ली कूच को देखते हुए अब प्रशासन ने फतेहाबाद में पंजाब से आने वाले लिंग मार्गों पर भी भारी पहरा बैठा दिया है। रोझांवाली के सेम नाले के साथ-साथ अब लिंक मार्ग को बंद कर दिया गया है। नेशनल हाइवे पर हिसार सीमा से लगते गांव भोडा होशनाक पर भी पुलिस ने एक तरफ सीमेंट के ब्लॉक लगा दिए हैं। 

गांव ढाणी छतरियां से पंजाब को जाने वाली सड़क पर भी पुलिस का पहरा बैठा दिया गया है। पंजाब को जाने वाली बसों का संचालन बंद कर दिया गया है। टोहाना से 11 बसों का संचालन चंडीगढ़ व कटरा के लिए बंद किया गया है और बसों को बस स्टैंड में रखा गया है। इसके अलावा रोडवेज की आठ बसों को चांदपुरा, टोहाना, रतिया व जाखल में रिजर्व में रखा गया है। फतेहाबाद को अर्द्धसैनिक बलों की छह कंपनियां मिली हैं। इनमें से चार को तैनात कर दिया गया है। पंजाब से रतिया, जाखल व टोहाना सब्जियां भी नहीं पहुंच पा रही हैं। 

इंटरनेट बंद होने के कारण जहां ऑनलाइन भुगतान पर असर पड़ा है, वहीं राशन डिपो पर ओपीएस मशीनें नहीं चलने के कारण लोग राशन नहीं ले पा रहे हैं। ज्ञात रहे कि ओपीएस मशीन भी सिम आधारित हैं और इंटरनेट बंद होने के कारण लोग राशन डिपुओं के चक्कर काट रहे हैं। फतेहाबाद के अन्य किसान संगठनों ने दिल्ली कूच से किनारा किया है लेकिन खेती बचाओ संघर्ष समिति के प्रदेशाध्यक्ष जरनैल सिंह मलवाला ने कहा है कि दिल्ली कूच के लिए उनकी तैयारियां पूरी हैं। पंजाब से आने वाली किसान संगठनों का रतिया के गुरुद्वारा अजीतसर में स्वागत किया जाएगा और यहां से खेती बचाओ संघर्ष समिति के सदस्य उनके साथ दिल्ली कूच करेंगे।

.


What do you think?

क्रिकेट के मैदान पर घटी अजीबोगरीब घटना, रन आउट होकर भी बच गया बल्लेबाज, जानें ऐसा क्या हुआ – India TV Hindi

Tata Punch Is Best-Selling SUV In India, Outsells Nexon & Brezza In Jan 2024