in

Fatehabad: कार में मिला सिविल सर्जन कार्यालय के क्लर्क का शव, बंद थे कार के शीशे, पुलिस ने शुरू की जांच 


संवाद न्यूज एजेंसी, फतेहाबाद (हरियाणा)
Published by: निवेदिता वर्मा
Updated Thu, 09 Jun 2022 12:20 PM IST

ख़बर सुनें

फतेहाबाद सिविल सर्जन कार्यालय में तैनात क्लर्क कर्ण सिहाग का शव सिरसा रोड पर लजीज होटल के पास कार में मिला है। मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। घटना की सूचना मिलने पर शहर थाना प्रभारी ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे और जांच की। मौके पर सीन ऑफ क्राइम टीम को भी बुलाया गया। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। 

मामले के मुताबिक गुरुवार सुबह सिरसा रोड पर लजीज होटल के पास खाली जगह में खड़ी कार में लोगों ने युवक को बेसुध देखा और पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद शहर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। कार के शीशे बंद थे और आगे की सीट पर बैठा युवक मृत हालत में था। युवक की पहचान अग्रवाल कॉलोनी निवासी कर्ण के रूप में हुई जोकि सिविल सर्जन कार्यलय में तैनात है। पुलिस ने मामले की जानकारी परिवार को दी। पुलिस के मुताबिक कार के शीशे बंद थे। बताया जा रहा है कि कर्ण कल रात से घर नहीं गया था। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।
 

विस्तार

फतेहाबाद सिविल सर्जन कार्यालय में तैनात क्लर्क कर्ण सिहाग का शव सिरसा रोड पर लजीज होटल के पास कार में मिला है। मौत का कारण अभी स्पष्ट नहीं हो सका है। घटना की सूचना मिलने पर शहर थाना प्रभारी ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे और जांच की। मौके पर सीन ऑफ क्राइम टीम को भी बुलाया गया। फिलहाल पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल के शव गृह में रखवा दिया है। 

मामले के मुताबिक गुरुवार सुबह सिरसा रोड पर लजीज होटल के पास खाली जगह में खड़ी कार में लोगों ने युवक को बेसुध देखा और पुलिस को सूचना दी। सूचना के बाद शहर पुलिस टीम मौके पर पहुंची। कार के शीशे बंद थे और आगे की सीट पर बैठा युवक मृत हालत में था। युवक की पहचान अग्रवाल कॉलोनी निवासी कर्ण के रूप में हुई जोकि सिविल सर्जन कार्यलय में तैनात है। पुलिस ने मामले की जानकारी परिवार को दी। पुलिस के मुताबिक कार के शीशे बंद थे। बताया जा रहा है कि कर्ण कल रात से घर नहीं गया था। फिलहाल पुलिस जांच में जुटी है।

 

सूचना मिलने पर टीम मौके पर गई थी, कार में युवक का शव मिला है, जिसकी पहचान अग्रवाल कॉलोनी निवासी कर्ण के रूप में हुई है। वह सिविल सर्जन कार्यालय में तैनात है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट आने के बाद ही कारणों का पता लग पाएगा। – रिसाल सिंह, बस स्टैंड चौकी प्रभारी

.


Sidhu Moose Wala Murder: कौन है सिद्धेश हीरामन कांबले उर्फ सौरभ महाकाल, सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड में ‘केकड़ा’ के बाद शार्पशूटर अरेस्‍ट

Haryana Pharmacy Council: परिषद की कार्यप्रणाली में पारदर्शिता नहीं, जांच में सही मिले कार्यकारी रजिस्ट्रार के आरोप