Chandigarh News: चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन पर प्रवेश शुल्क लेने का विरोध, कांग्रेस ने दिया धरना


प्रदर्शन करते कांग्रेसी।

प्रदर्शन करते कांग्रेसी।
– फोटो : CHANDIGARH

ख़बर सुनें

चंडीगढ़। युवा कांग्रेस चंडीगढ़ ने सोमवार को रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार पर प्रवेश शुल्क लेने के विरोध में धरना दिया। युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मनोज लुबाना ने बताया कि जब तक मांग पूरी नहीं होती, तब तक शांतिपूर्वक धरना जारी रहेगा। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हरमोहिंदर सिंह लक्की भी साथ रहे।
मनोज लुबाना ने मांग की है कि कम से कम 20 मिनट का समय दें ताकि लोग रेलवे स्टेशन पर जाकर गाड़ियों से सामान उतार सकें। उन्होंने कहा कि युवा तो तुरंत गाड़ी से उतर जाते हैं लेकिन बुजुर्गों को परेशानी होती है। रेलवे के अधिकारियों को यह बात समझनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रेल प्रशासन के खिलाफ हर रोज दोपहर 12 बजे से पांच बजे तक शांतिपूर्वक धरना जारी रहेगा। युवा कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि रेलवे लोगों की लाइफ लाइन है। बड़ी संख्या में लोग रेल से यात्रा करते हैं। प्रवेश शुल्क होने के कारण गाड़ियां मुख्य सड़क पर ही छोड़कर चली जाती है। ऐसे में बड़े बड़े बैग लेकर रेलवे स्टेशन पर जाना मुश्किल है। बुजुर्गों और बच्चों को बहुत परेशानी होती है। रेलवे का यह निर्णय गलत है। हरमोहिंदर सिंह लक्की ने कहा कि यह चंडीगढ़ के लोगों के साथ धोखा है। ऑटो चालक के अलावा कैब चालकों की भी परेशानी बढ़ गई है। इससे आम लोगों के हित प्रभावित हो रहे हैं। कांग्रेस पार्टी इस फैसले का विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार रेलवे का पूरी तरह से निजीकरण करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि कि चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार पर लगे प्रवेश शुल्क को तत्काल हटाया जाए। धरना स्थल पर युवा कांग्रेस के नेताओं में संदीप कुमार, प्रदीप कुमार, रंजोत सिंह, हरमन सिंह, लवली ठाकुर, अंकराज ठाकुर, मंजूर खान, प्रमोद, सुरजीत ढिल्लों, लेखराम, संजीव गाबा, अंश उपाध्याय, नेतराम, सुभाष पाल, राहुल कुमार और ओम पाल भी मौजूद थे।

चंडीगढ़। युवा कांग्रेस चंडीगढ़ ने सोमवार को रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार पर प्रवेश शुल्क लेने के विरोध में धरना दिया। युवा कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष मनोज लुबाना ने बताया कि जब तक मांग पूरी नहीं होती, तब तक शांतिपूर्वक धरना जारी रहेगा। इस मौके पर प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष हरमोहिंदर सिंह लक्की भी साथ रहे।

मनोज लुबाना ने मांग की है कि कम से कम 20 मिनट का समय दें ताकि लोग रेलवे स्टेशन पर जाकर गाड़ियों से सामान उतार सकें। उन्होंने कहा कि युवा तो तुरंत गाड़ी से उतर जाते हैं लेकिन बुजुर्गों को परेशानी होती है। रेलवे के अधिकारियों को यह बात समझनी चाहिए। उन्होंने कहा कि रेल प्रशासन के खिलाफ हर रोज दोपहर 12 बजे से पांच बजे तक शांतिपूर्वक धरना जारी रहेगा। युवा कांग्रेस के नेताओं ने कहा कि रेलवे लोगों की लाइफ लाइन है। बड़ी संख्या में लोग रेल से यात्रा करते हैं। प्रवेश शुल्क होने के कारण गाड़ियां मुख्य सड़क पर ही छोड़कर चली जाती है। ऐसे में बड़े बड़े बैग लेकर रेलवे स्टेशन पर जाना मुश्किल है। बुजुर्गों और बच्चों को बहुत परेशानी होती है। रेलवे का यह निर्णय गलत है। हरमोहिंदर सिंह लक्की ने कहा कि यह चंडीगढ़ के लोगों के साथ धोखा है। ऑटो चालक के अलावा कैब चालकों की भी परेशानी बढ़ गई है। इससे आम लोगों के हित प्रभावित हो रहे हैं। कांग्रेस पार्टी इस फैसले का विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि सरकार रेलवे का पूरी तरह से निजीकरण करने की कोशिश कर रही है। उन्होंने कहा कि कि चंडीगढ़ रेलवे स्टेशन के प्रवेश द्वार पर लगे प्रवेश शुल्क को तत्काल हटाया जाए। धरना स्थल पर युवा कांग्रेस के नेताओं में संदीप कुमार, प्रदीप कुमार, रंजोत सिंह, हरमन सिंह, लवली ठाकुर, अंकराज ठाकुर, मंजूर खान, प्रमोद, सुरजीत ढिल्लों, लेखराम, संजीव गाबा, अंश उपाध्याय, नेतराम, सुभाष पाल, राहुल कुमार और ओम पाल भी मौजूद थे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

उपेन यादव को जमानत मिलने के बाद आज होंगे रिहा, पुलिस को कोर्ट ने फटकारा

Sonipat News: अलग-अलग हादसों में तीन लोगों की मौत