in

Bhiwani nagar parishad election : समझौते के बाद भाजपा के खाते में जाएगा चेयरपर्सन का टिकट, मान परिवार को झटका


ख़बर सुनें

भिवानी। टिकट मिलने के दूसरे ही दिन जजपा के उम्मीदवार शमा मान सहित पूरे मान परिवार को उस समय झटका लगा जब भाजपा और जजपा ने एक साथ लड़ने का फैसला किया। निर्णय के अनुसार भिवानी नगर परिषद चेयरपर्सन का टिकट अब भाजपा के खाते में जाएगा। वहीं, जजपा नेता और निवर्तमान पार्षद ईश्वर मान को अभी भी उम्मीद है कि वे चुनाव लड़ेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी ने उनकी पुत्रवधू शमा को टिकट दिया। अब हाईकमान के जो निर्देश होंगे वे मानेंगे। शुक्रवार सुबह इस बारे में हाईकमान से बात करेंगे।
उल्लेखनीय है कि भाजपा ने पहले जजपा से अलग अकेले निकाय चुनाव लड़ने का निर्णय लिया था। जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला ने मंगलवार को अपने 8 उम्मीदवारों के नाम की सूची जारी की। भिवानी से ईश्वर मान की पुत्रवधू शमा मान को उम्मीदवार घोषित किया। इसके बाद मान परिवार में खुशी का माहौल था और शहर में प्रचार अभियान भी शुरू कर दिया था। बुधवार देर रात के बाद वीरवार देर शाम तक भी ईश्वर मान शहर की विभिन्न कॉलोनियों में जनसंपर्क अभियान चलाए हुए थे। वीरवार देर शाम अचानक सूचना आई कि भाजपा और जजपा ने निकाय चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे। 18 में से 14 सीटों पर भाजपा का उम्मीदवार होगा और 4 सीटों पर जजपा चुनाव लड़ेगी। भिवानी की सीट भाजपा के खाते में रहेगी। इस सूचना के बाद मान परिवार हैरान रह गया।
हाईकमान का निर्देश मानेंगे
मुझे पार्टी ने टिकट दिया था, जो मेरे पास है। आगे हाईकमान जो निर्देश देगा वैसा ही काम करेंगे। इस संबंध में सुबह पार्टी के पदाधिकारियों से बात करेंगे। इस बारे में कल तक ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।
– ईश्वर मान, निवर्तमान पार्षद।

भिवानी। टिकट मिलने के दूसरे ही दिन जजपा के उम्मीदवार शमा मान सहित पूरे मान परिवार को उस समय झटका लगा जब भाजपा और जजपा ने एक साथ लड़ने का फैसला किया। निर्णय के अनुसार भिवानी नगर परिषद चेयरपर्सन का टिकट अब भाजपा के खाते में जाएगा। वहीं, जजपा नेता और निवर्तमान पार्षद ईश्वर मान को अभी भी उम्मीद है कि वे चुनाव लड़ेंगे। साथ ही उन्होंने कहा कि पार्टी ने उनकी पुत्रवधू शमा को टिकट दिया। अब हाईकमान के जो निर्देश होंगे वे मानेंगे। शुक्रवार सुबह इस बारे में हाईकमान से बात करेंगे।

उल्लेखनीय है कि भाजपा ने पहले जजपा से अलग अकेले निकाय चुनाव लड़ने का निर्णय लिया था। जजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ. अजय सिंह चौटाला ने मंगलवार को अपने 8 उम्मीदवारों के नाम की सूची जारी की। भिवानी से ईश्वर मान की पुत्रवधू शमा मान को उम्मीदवार घोषित किया। इसके बाद मान परिवार में खुशी का माहौल था और शहर में प्रचार अभियान भी शुरू कर दिया था। बुधवार देर रात के बाद वीरवार देर शाम तक भी ईश्वर मान शहर की विभिन्न कॉलोनियों में जनसंपर्क अभियान चलाए हुए थे। वीरवार देर शाम अचानक सूचना आई कि भाजपा और जजपा ने निकाय चुनाव साथ मिलकर लड़ेंगे। 18 में से 14 सीटों पर भाजपा का उम्मीदवार होगा और 4 सीटों पर जजपा चुनाव लड़ेगी। भिवानी की सीट भाजपा के खाते में रहेगी। इस सूचना के बाद मान परिवार हैरान रह गया।

हाईकमान का निर्देश मानेंगे

मुझे पार्टी ने टिकट दिया था, जो मेरे पास है। आगे हाईकमान जो निर्देश देगा वैसा ही काम करेंगे। इस संबंध में सुबह पार्टी के पदाधिकारियों से बात करेंगे। इस बारे में कल तक ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।

– ईश्वर मान, निवर्तमान पार्षद।

.


कश्मीर टारगेट किलिंग : कब्ज़े में बेगुनाहों की हत्या कब तक?

चोरी में बाधा बनने पर फैक्टरी के पूर्व कारिंदे ने की थी चौकीदार सुरेंद्र की हत्या