Agnipath Scheme Protest : हरियाणा में महापंचायत, बड़ा आंदोलन खड़ा करने की तैयारी, संयुक्त छात्र बेरोजगार संघर्ष मोर्चा का गठन


ख़बर सुनें

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में हरियाणा के रोहतक जिले के सांपला स्थित सर छोटूराम स्मारक स्थल पर  बुधवार को कई प्रदेश से किसान यूनियनें, खाप व विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने आगामी रणनीति के लिए महापंचायत की। इस दौरान सर्वसम्मति से सरकार के विरुद्ध अनिश्चितकालीन धरना शुरू करने का फैसला लिया। चार घंटे चली महापंचायत में आंदोलन को बड़ा रूप देने की चर्चा की गई। महापंचायत की अध्यक्षता डॉ. ओमप्रकाश धनखड़ ने की। 
 

महापंचायत में पहुंच दो दर्जन से अधिक खाप व संगठनों के प्रतिनिधियों ने अग्निपथ योजना को गलत बताते हुए केंद्र सरकार पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। महापंचायत में फैसला लिया गया कि इस योजना को वापस करवाने के लिए किसान आंदोलन की तरह शांतिपूर्ण आंदोलन खड़ा किया जाएगा।

 

सभी संगठनों को एकजुट कर आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए संयुक्त छात्र बेरोजगार संघर्ष मोर्चा का गठन किया गया। खाप प्रधानों ने आंदोलन में केवल राष्ट्रीय ध्वज का इस्तेमाल करने का फैसला लिया। युवाओं से अपील की कि वे किसी भी राष्ट्रीय संपत्ति को नुकसान न पहुंचाएं।

 

पूरा आंदोलन किसान आंदोलन की तरह शांतिपूर्ण तरीके से चलाया जाए। सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि आंदोलन की अगुवाई युवा करेंगे, जिसमें किसान यूनियन, खाप प्रतिनिधि व अन्य संगठन उनका सहयोग करेंगे। सभी वक्ताओं ने अग्निपथ योजना को नकारते हुए भाजपा सरकार को निशाने पर लिया। 
 

युवाओं ने बताया कि जल्द ही प्रदेश स्तर पर एक युवा संघर्ष मोर्चे का भी गठन किया जाएगा। पूर्व सैनिक वीर सिंह चौहान ने कहा कि 26 जून को दिल्ली के किराला गांव में अग्निपथ योजना को रद्द करवाने के लिए महापंचायत होगी। महापंचायत में डॉ. ओमप्रकाश धनखड़, मनोज सहरावत, वीरेंद्र हुड्डा, किसान यूनियन अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी, जयसिंह अहलावत, जोगेंद्र नैन, विकास सीसर, राहुल दादू, अभिमन्यु कोहाड़, आत्माराम, रणबीर सिंह मलिक, सैयद असलम, सुदेश गोयत, गीता अहलावत, ताराचंद जाखड़ व अन्य मौजूद रहे।

27 जून को भिवानी में निकाली जाएगी विरोध यात्रा 
महापंचायत में फैसला लिया गया कि 27 जून को जो युवा बेरोजगारी से तंग आकर अपनी जान गंवा चुके हैं उनके गांवों से अग्निपथ योजना के खिलाफ विरोध यात्रा निकाली जाएगी।

अलर्ट मोड में रही पुलिस 
महापंचायत को लेकर पुलिस अलर्ट मोड पर रही। एएसपी मेधा भूषण की निगरानी में सुबह से ही पुलिस बल सांपला बाईपास हाईवे ब्रिज के नीचे पहुंच गई थी। थाना प्रभारी राकेश कुमार व अन्य पुलिस कर्मचारी शाम करीब छह बजे तक तैनात रहे। पंचायत खत्म होने के बाद पुलिस ने राहत की सांस ली।

गुरनाम चढूनी की तबीयत खराब
सांपला में आयोजित महापंचायत की कॉल देने वाले किसान नेता गुरनाम चढूनी भी बैठक में पहुंचे। हालांकि उनका स्वास्थ्य सही नहीं होने के कारण वह जल्द ही वापस चले गए। उन्होंने मंच के माध्यम से अपने विचार नहीं रखे। उनकी ओर से उनके सहयोगी ने उनका पक्ष रखते हुए कहा कि आंदोलन में जो भी ड्यूटी लगाई जाएगी वह कंधे से कंधा मिलाकर साथ होंगे।

विस्तार

केंद्र सरकार की अग्निपथ योजना के विरोध में हरियाणा के रोहतक जिले के सांपला स्थित सर छोटूराम स्मारक स्थल पर  बुधवार को कई प्रदेश से किसान यूनियनें, खाप व विभिन्न संगठनों के सदस्यों ने आगामी रणनीति के लिए महापंचायत की। इस दौरान सर्वसम्मति से सरकार के विरुद्ध अनिश्चितकालीन धरना शुरू करने का फैसला लिया। चार घंटे चली महापंचायत में आंदोलन को बड़ा रूप देने की चर्चा की गई। महापंचायत की अध्यक्षता डॉ. ओमप्रकाश धनखड़ ने की। 

 

महापंचायत में पहुंच दो दर्जन से अधिक खाप व संगठनों के प्रतिनिधियों ने अग्निपथ योजना को गलत बताते हुए केंद्र सरकार पर युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने का आरोप लगाया। महापंचायत में फैसला लिया गया कि इस योजना को वापस करवाने के लिए किसान आंदोलन की तरह शांतिपूर्ण आंदोलन खड़ा किया जाएगा।

 

सभी संगठनों को एकजुट कर आंदोलन को आगे बढ़ाने के लिए संयुक्त छात्र बेरोजगार संघर्ष मोर्चा का गठन किया गया। खाप प्रधानों ने आंदोलन में केवल राष्ट्रीय ध्वज का इस्तेमाल करने का फैसला लिया। युवाओं से अपील की कि वे किसी भी राष्ट्रीय संपत्ति को नुकसान न पहुंचाएं।

 

पूरा आंदोलन किसान आंदोलन की तरह शांतिपूर्ण तरीके से चलाया जाए। सर्वसम्मति से फैसला लिया गया कि आंदोलन की अगुवाई युवा करेंगे, जिसमें किसान यूनियन, खाप प्रतिनिधि व अन्य संगठन उनका सहयोग करेंगे। सभी वक्ताओं ने अग्निपथ योजना को नकारते हुए भाजपा सरकार को निशाने पर लिया। 

 

युवाओं ने बताया कि जल्द ही प्रदेश स्तर पर एक युवा संघर्ष मोर्चे का भी गठन किया जाएगा। पूर्व सैनिक वीर सिंह चौहान ने कहा कि 26 जून को दिल्ली के किराला गांव में अग्निपथ योजना को रद्द करवाने के लिए महापंचायत होगी। महापंचायत में डॉ. ओमप्रकाश धनखड़, मनोज सहरावत, वीरेंद्र हुड्डा, किसान यूनियन अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी, जयसिंह अहलावत, जोगेंद्र नैन, विकास सीसर, राहुल दादू, अभिमन्यु कोहाड़, आत्माराम, रणबीर सिंह मलिक, सैयद असलम, सुदेश गोयत, गीता अहलावत, ताराचंद जाखड़ व अन्य मौजूद रहे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

महेंद्रगढ़, नांगल चौधरी में भाजपा तो नारनौल में निर्दलीय प्रत्याशी चेयरमैन निर्वाचित

भिवानी, बवानीखेड़ा, लोहारू में 10 एमएम तो बहल में 30 एमएम हुई बारिश