in

6 मकान में बनाए 69 फ्लैट्स सील, टीसीपी डिपार्टमेंट का पालम विहार के सी-टू ब्लॉक में चला सीलिंग अभियान


गुड़गांव: मंगलवार शाम को टाउन एंड कंट्री प्लानिंग डिपार्टमेंट ने पालम विहार के सी-टू ब्लॉक में सीलिंग अभियान चलाया। ऑक्युपेंसी सर्टिफिकेट (ओसी) का उल्लंघन करके 6 मकान में बनाए गए 69 फ्लैट्स सील किए। नियमानुसार एक मकान में सिर्फ 4 फ्लोर (4 किचन) बना सकते हैं, लेकिन इनमें अवैध रूप से किसी इमारत में 8 तो किसी में 24 फ्लैट्स बनाए गए थे। एकाध दिन में इन इमारतों के मालिकों, प्रॉपर्टी डीलर और आर्किटेक्ट के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी।

टीसीपी डिपार्टमेंट के डीटीपीई अमित मधोलिया के नेतृत्व में सीलिंग अभियान चला। प्लॉट नंबर 1251 में अवैध रूप से 16 फ्लैट्स बनाए जा रहे थे। इस इमारत को जारी ऑक्युपेंसी सर्टिफिकेट के मुताबिक इस मकान को 4 परिवारों के लिए बनाया जाना था। ओसी लेने के बाद इस मकान में बिल्डिंग प्लान का जमकर उल्लंघन हुआ।

इमारत में एक फ्लोर पर 6 फ्लैट्स
इस तरह मकान नंबर 956 में 8 फ्लैट्स, प्लॉट नंबर 913 में 16 फ्लैट्स, प्लॉट नंबर 921 में पहली और दूसरी मंजिल पर बने 5 फ्लैट्स, बी-1340 में 24 फ्लैट्स सील किए। इस इमारत में एक फ्लोर पर 6 फ्लैट्स बनाए गए हैं। प्लॉट नंबर एच-534सी में प्रॉपर्टी डीलर का ऑफिस सील किया। इन इमारतों को लेकर तहसीलदार को पत्र लिखकर रजिस्ट्री नहीं करने का आग्रह किया जाएगा। डीएचबीवीएन से बिजली कनेक्शन जारी नहीं करने का आग्रह किया जाएगा। इनका ऑक्युपेंसी सर्टिफिकेट कैंसल करने का आग्रह डीटीपी प्लानिंग से किया जाएगा।

व्यापार केंद्र को करवाया अतिक्रमणमुक्त
फ्लैट्स सील करने के बाद पालम विहार के व्यापार केंद्र में डीटीपीई अमित मधोलिया पहुंच गए। कॉमन एरिया और गैलरी पर दुकानदारों ने कब्जा किया हुआ था। मार्केट को अतिक्रमणमुक्त करवाकर दुकानदारों को चेतावनी दी कि वे दोबारा औचक निरीक्षण करेंगे। यदि दोबारा कब्जा मिला तो विडियोग्राफी करवाकर सामान जब्त किया जाएगा। साथ ही एफआईआर दर्ज करवाई जाएगी। आरडब्ल्यूए की तरफ से मार्केट के अतिक्रमणयुक्त होने की शिकायत दी गई थी।

.


गुरुग्राम: भ्रष्टाचार की 52 फाइलें कर रहीं रिपोर्ट का इंतजार, सीएम ऑफिस से रिपोर्ट मांगने पर पूरे निगम में खलबली

उद्यमिता तेजी से नए भारत को परिभाषित कर रही है: राज्य के आईटी मंत्री