31 दिन बाद कोरोना के सबसे अधिक सात केस मिले


After 31 days, maximum seven cases of corona were found

ख़बर सुनें

पानीपत। सोमवार को 31 दिन बाद सबसे अधिक सात कोरोना के मरीज मिले। इन रोगियों को होम आइसोलेट कर दिया गया है। सात रोगियों में से पांच ने सिविल अस्पताल में जांच कराई थी। ये रोगी किशनपुरा, जवाहर नगर, सेक्टर 12, समालखा, सेक्टर 11, नूरवाला और पट्टीकल्याणा गांव में मिले हैं। जून में अब तक कोरोना के 27 रोगी मिल चुके हैं। अब जिले में कोरोना के एक्टिव रोगियों की संख्या 15 हो गई। राहत भरी बात यह है कि कोई भी रोगी अस्पताल में आइसोलेट नहीं है। गर्मी की छुट्टियों में कोरोना के रोगी बढ़े हैं। जो भी नए रोगी मिल रहे हैं वो गर्मियों की छुट्टियों में उत्तराखंड, हिमाचल, गोवा, दिल्ली व अन्य राज्यों में घूमने गए थे। वहां से लौटने के बाद ये कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब जिले में कोरोना के रोगियों की संख्या 36135 हो चुकी है। इनमें से 35544 लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक कोरोना से 676 लोगों की मौत हुई है। सिविल सर्जन डॉ. जितेंद्र कादियान ने लोगों से अपील की है कि जिन लोगों ने बूस्टर डोज नहीं लगवाई है, वो लगवां लें। कोरोना के खिलाफ लापरवाही न बरतें। भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें।

पानीपत। सोमवार को 31 दिन बाद सबसे अधिक सात कोरोना के मरीज मिले। इन रोगियों को होम आइसोलेट कर दिया गया है। सात रोगियों में से पांच ने सिविल अस्पताल में जांच कराई थी। ये रोगी किशनपुरा, जवाहर नगर, सेक्टर 12, समालखा, सेक्टर 11, नूरवाला और पट्टीकल्याणा गांव में मिले हैं। जून में अब तक कोरोना के 27 रोगी मिल चुके हैं। अब जिले में कोरोना के एक्टिव रोगियों की संख्या 15 हो गई। राहत भरी बात यह है कि कोई भी रोगी अस्पताल में आइसोलेट नहीं है। गर्मी की छुट्टियों में कोरोना के रोगी बढ़े हैं। जो भी नए रोगी मिल रहे हैं वो गर्मियों की छुट्टियों में उत्तराखंड, हिमाचल, गोवा, दिल्ली व अन्य राज्यों में घूमने गए थे। वहां से लौटने के बाद ये कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। अब जिले में कोरोना के रोगियों की संख्या 36135 हो चुकी है। इनमें से 35544 लोग ठीक हो चुके हैं। अब तक कोरोना से 676 लोगों की मौत हुई है। सिविल सर्जन डॉ. जितेंद्र कादियान ने लोगों से अपील की है कि जिन लोगों ने बूस्टर डोज नहीं लगवाई है, वो लगवां लें। कोरोना के खिलाफ लापरवाही न बरतें। भीड़ भाड़ वाले क्षेत्रों में जाने से बचें।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

दिनचर्या में रमे रहे उम्मीदवार, अब मतगणना का इंतजार

जीत को लेकर आश्वस्त, लड्डू बनवाने किए शुरू