हरियाणा: शार्प-शूटर प्रियव्रत व मोनू डागर का साथी इनामी नवीन गिरफ्तार, एसटीएफ बहादुरगढ़ ने मुरथल पुलिस को सौंपा


ख़बर सुनें

शार्प-शूटर प्रियव्रत व मोनू डागर के साथी रहे पांच हजार के इनामी नवीन उर्फ अमन उर्फ काबरी को एसटीएफ बहादुरगढ़ ने पकड़कर मुरथल थाना पुलिस को सौंपा है। मुरथल थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां उसे जेल भेज दिया गया। वह हसनपुर निवासी नवीन हत्या, हत्या की कोशिश, लूट व चोरी की घटनाओं में नामजद रहा है। 

एसटीएफ बहादुरगढ़ प्रभारी विवेक मलिक ने बताया कि उनकी टीम को गांव हसनपुर निवासी नवीन उर्फ अमन उर्फ काबरी के बारे में इनपुट मिला था। इस पर कार्रवाई करते हुए उसे पकड़ लिया गया। आरोपी मुरथल थाना में दर्ज हत्या, हत्या की कोशिश, लूट व चोरी के मामलों में नामजद रहा है।

उसकी गिरफ्तारी पर आईजी ममता सिंह ने 16 जून को पांच हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। उस पर 11 अगस्त, 2021 को दर्ज लूट के मामले में इनाम घोषित किया गया था। आरोपी को पकड़कर मुरथल थाना पुलिस को सौंपा गया है। पुलिस ने आरोपी को लूट के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। एसआई सुरेंद्र की टीम ने उसे अदालत में पेश किया, जहां उसे जेल भेज दिया गया। 

हत्या के मामले में रहा नामजद 
नवीन उर्फ काबरी शार्प-शूटर प्रियव्रत व मोनू डागर का साथी रहा है। वह जुलाई, 2015 में गोहाना के गांव रूखी के मंजीत की हत्या के मामले में नामजद रहा है।

विस्तार

शार्प-शूटर प्रियव्रत व मोनू डागर के साथी रहे पांच हजार के इनामी नवीन उर्फ अमन उर्फ काबरी को एसटीएफ बहादुरगढ़ ने पकड़कर मुरथल थाना पुलिस को सौंपा है। मुरथल थाना पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर अदालत में पेश किया, जहां उसे जेल भेज दिया गया। वह हसनपुर निवासी नवीन हत्या, हत्या की कोशिश, लूट व चोरी की घटनाओं में नामजद रहा है। 

एसटीएफ बहादुरगढ़ प्रभारी विवेक मलिक ने बताया कि उनकी टीम को गांव हसनपुर निवासी नवीन उर्फ अमन उर्फ काबरी के बारे में इनपुट मिला था। इस पर कार्रवाई करते हुए उसे पकड़ लिया गया। आरोपी मुरथल थाना में दर्ज हत्या, हत्या की कोशिश, लूट व चोरी के मामलों में नामजद रहा है।

उसकी गिरफ्तारी पर आईजी ममता सिंह ने 16 जून को पांच हजार रुपये का इनाम घोषित किया था। उस पर 11 अगस्त, 2021 को दर्ज लूट के मामले में इनाम घोषित किया गया था। आरोपी को पकड़कर मुरथल थाना पुलिस को सौंपा गया है। पुलिस ने आरोपी को लूट के मामले में गिरफ्तार कर लिया है। एसआई सुरेंद्र की टीम ने उसे अदालत में पेश किया, जहां उसे जेल भेज दिया गया। 

हत्या के मामले में रहा नामजद 

नवीन उर्फ काबरी शार्प-शूटर प्रियव्रत व मोनू डागर का साथी रहा है। वह जुलाई, 2015 में गोहाना के गांव रूखी के मंजीत की हत्या के मामले में नामजद रहा है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

रोहतक: कुताना बस्ती के नजदीक चलती बाइक से महिला का छीना बैग, पति के साथ लौट रही थी घर

Angipath Scheme: अग्निवीरों को हरियाणा सरकार में गारंटी के साथ मिलेगी नौकरी, सीएम मनोहर लाल का बड़ा एलान