हरियाणा: यमुनानगर में NH-344 पर ट्रक से भिड़ी यूपी रोडवेज की बस, एक मौत, छह घायल


ख़बर सुनें

हरियाणा के यमुनानगर में नेशनल हाईवे 344 पर औरंगाबाद के पास सोमवार रात तेज रफ्तार और लापरवाही के चलते बड़ा हादसा हो गया। यहां जिरकपुर से उत्तर प्रदेश के जिला बदायूं जा रही यूपी रोडवेज की बस कांच से भरे ट्रक से टकरा गई। हादसे में बस में सवार एक यात्री की मौत हो गई, जबकि छह यात्री घायल हो गए। हादसे की सूचना मिलने पर रात को ही तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने हाईवे पर बिखरे कांच को जेसीबी की मदद से साफ कर जाम खुलवाया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

बरेली के गांव बरा थानपुर निवासी संतोष कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी पंजाब के जिला मोहाली के जीरकपुर बस स्टैंड के पास दुकान है। सोमवार को देर शाम करीब सवा सात बजे वह जीरकपुर से यूपी रोडवेज की बदायूं जाने वाली बस में सवार हो गया।

उसके साथ बस में यूपी के बदायूं जिले के गांव कनिकमा निवासी विनोद कुमार, संभल जिले के गांव मुंडिया खेड़ा निवासी विजय कुमार भी सवार हो गए। बस में 100 से अधिक यात्री थे। जब उनकी बस नेशनल हाईवे 344 पर औरंगाबाद फ्लाईओवर के नजदीक पहुंची तो तो गलत दिशा में एक चालक ट्रक को पीछे कर रहा था। अचानक हाईवे के बीच ट्रक का पिछला हिस्सा आने से उनकी बस ट्रक से जा टकराई। हादसा इतना तेज था कि बस का अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। 

बस में आगे बैठे यात्री उसमें बुरी तरह फंस गए। टक्कर लगते ही बस में सवार यात्रियों ने चीख पुकार करनी शुरू कर दी। मौके पर लोगों की भीड़ लग गई। बड़ी मुश्किल से बस में फंसे यात्रियों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टर ने कनिकमा निवासी विनोद कुमार को मृत घोषित कर दिया।  संतोष की टांग में फ्रेक्चर बताया जा रहा है।

हादसे में संतोष के अलावा विजय कुमार व तीन चार अन्य यात्री घायल हो गए। इनमें से एक यात्री की हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टर ने उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया। हादसे में घायल विजय व संतोष को अस्पताल में उपचार दिया जा रहा है, जबकि बाकी को उपचार देकर छुट्टी दे दी गई। पुलिस ने संतोष के बयान पर आरोपी ट्रक चालक पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

हाईवे पर कांच बिखरने से लगा जाम 
ट्रक व बस की भिड़ंत के बाद नेशनल हाईवे पर दूर तक कांच बिखर गए। वहीं, दोनों वाहन सड़क के बीच फंस गए। इससे नेशनल हाईवे पर जाम लग गया। सूचना मिलने पर थाना सदर, फर्कपुर व गांधी नगर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों वाहनों की साइड में करवाया और सड़क पर बिखरे पड़े कांच को जेसीबी की मदद से साफ करवाया। तब तक पुलिस ने रूट डाइवर्ट कर वाहनों को सुचारु किया।

सदर थाना प्रभारी सुभाष चंद्र का कहना है कि हादसे की सूचना मिलते ही वे मौके पर गए थे। हादसे में एक की मौत हो गई, जबकि कुछ लोग घायल हो गए। जेसीबी की मदद से सड़क पर बिखरे कांच को हटाकर जाम खुलवा दिया था। आरोपी ट्रक चालक पर केस दर्ज कर लिया है।

विस्तार

हरियाणा के यमुनानगर में नेशनल हाईवे 344 पर औरंगाबाद के पास सोमवार रात तेज रफ्तार और लापरवाही के चलते बड़ा हादसा हो गया। यहां जिरकपुर से उत्तर प्रदेश के जिला बदायूं जा रही यूपी रोडवेज की बस कांच से भरे ट्रक से टकरा गई। हादसे में बस में सवार एक यात्री की मौत हो गई, जबकि छह यात्री घायल हो गए। हादसे की सूचना मिलने पर रात को ही तीन थानों की पुलिस मौके पर पहुंच गई। पुलिस ने हाईवे पर बिखरे कांच को जेसीबी की मदद से साफ कर जाम खुलवाया। पुलिस ने इस मामले में आरोपी ट्रक चालक के खिलाफ केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

बरेली के गांव बरा थानपुर निवासी संतोष कुमार ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी पंजाब के जिला मोहाली के जीरकपुर बस स्टैंड के पास दुकान है। सोमवार को देर शाम करीब सवा सात बजे वह जीरकपुर से यूपी रोडवेज की बदायूं जाने वाली बस में सवार हो गया।

उसके साथ बस में यूपी के बदायूं जिले के गांव कनिकमा निवासी विनोद कुमार, संभल जिले के गांव मुंडिया खेड़ा निवासी विजय कुमार भी सवार हो गए। बस में 100 से अधिक यात्री थे। जब उनकी बस नेशनल हाईवे 344 पर औरंगाबाद फ्लाईओवर के नजदीक पहुंची तो तो गलत दिशा में एक चालक ट्रक को पीछे कर रहा था। अचानक हाईवे के बीच ट्रक का पिछला हिस्सा आने से उनकी बस ट्रक से जा टकराई। हादसा इतना तेज था कि बस का अगला हिस्सा बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया। 

बस में आगे बैठे यात्री उसमें बुरी तरह फंस गए। टक्कर लगते ही बस में सवार यात्रियों ने चीख पुकार करनी शुरू कर दी। मौके पर लोगों की भीड़ लग गई। बड़ी मुश्किल से बस में फंसे यात्रियों को निकालकर अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डॉक्टर ने कनिकमा निवासी विनोद कुमार को मृत घोषित कर दिया।  संतोष की टांग में फ्रेक्चर बताया जा रहा है।

हादसे में संतोष के अलावा विजय कुमार व तीन चार अन्य यात्री घायल हो गए। इनमें से एक यात्री की हालत गंभीर देखते हुए डॉक्टर ने उसे पीजीआई चंडीगढ़ रेफर कर दिया। हादसे में घायल विजय व संतोष को अस्पताल में उपचार दिया जा रहा है, जबकि बाकी को उपचार देकर छुट्टी दे दी गई। पुलिस ने संतोष के बयान पर आरोपी ट्रक चालक पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। 

हाईवे पर कांच बिखरने से लगा जाम 

ट्रक व बस की भिड़ंत के बाद नेशनल हाईवे पर दूर तक कांच बिखर गए। वहीं, दोनों वाहन सड़क के बीच फंस गए। इससे नेशनल हाईवे पर जाम लग गया। सूचना मिलने पर थाना सदर, फर्कपुर व गांधी नगर पुलिस मौके पर पहुंची। पुलिस ने दोनों वाहनों की साइड में करवाया और सड़क पर बिखरे पड़े कांच को जेसीबी की मदद से साफ करवाया। तब तक पुलिस ने रूट डाइवर्ट कर वाहनों को सुचारु किया।

सदर थाना प्रभारी सुभाष चंद्र का कहना है कि हादसे की सूचना मिलते ही वे मौके पर गए थे। हादसे में एक की मौत हो गई, जबकि कुछ लोग घायल हो गए। जेसीबी की मदद से सड़क पर बिखरे कांच को हटाकर जाम खुलवा दिया था। आरोपी ट्रक चालक पर केस दर्ज कर लिया है।

.


What do you think?

कोटा-हिसार-कोटा एक्सप्रेस में एक द्वितीय शयनयान श्रेणी डिब्बे की बढ़ोतरी आज से

कल से शुरू हो जाएगी धान की रोपाई, अबकी 1509 किस्म पर जोर