in

हरियाणा: बहादुरगढ़ में बड़ी मात्रा में पकड़ा अवैध रूप से शराब का स्टॉक, मामला दर्ज


ख़बर सुनें

नगर निकाय चुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद अवैध रूप से शराब स्टॉक को लेकर लगातार छापेमारी की जा रही है। आबकारी कराधान विभाग और पुलिस की टीम ने बहादुरगढ़ में भी अवैध रूप से शराब स्टॉक की सैकड़ों पेटियां पकड़ी हैं। बताया गया है कि यह शराब एल-1 से आई है। पुलिस ने बिना अनुमति के शराब स्टॉक करने के आरोप में एक्साइज इंस्पेक्टर की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चुनाव के चलते स्टॉक करने की इजाजत नहीं है।

एक्साइज इंस्पेक्टर सविता ने बताया कि शहर में बालौर मोड़ के पास एक दुकान में सैकड़ों पेटी शराब का स्टॉक मिला है। नप चुनाव से पहले इतनी बड़ी मात्रा में शराब मिलने से यह आशंका है कि यह शराब चुनावों में लोगों को बांटने के लिए स्टॉक की गई थी। एक्साइज विभाग और पुलिस की टीमें मौके पर मौजूद हैं और शराब की पेटियों की गिनती की जा रही है।

उन्होंने कहा कि यह शराब एल-1 से आई है, लेकिन शराब स्टॉक करने के लिए यह जगह विभाग द्वारा अलॉट नहीं की गई है। सविता कुमारी ने बताया कि आचार संहिता के चलते प्रदेश में किसी को भी शराब स्टॉक करने की इजाजत नहीं है। इसलिए इस मामले में उनकी शिकायत पुलिस ने मामला दर्ज किया है। 

दरअसल दुकान के अंदर भारी संख्या में शराब की बोतलें और बीयर के कैन थे। ये शराब बड़े बड़े गत्ते के डिब्बों में रखी गई थी। जब आबकारी विभाग ने इसे गिना तो विभिन्न ब्रांड की कुल 43 पेटी अंग्रेजी शराब और 149 पेटी बीयर ब्रांड की बरामद हुई। शराब की पेटियों को गिनने में काफी समय लग गया।

इसके बाद सिटी पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची सिटी पुलिस ने आरोपी नरेश के खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। बता दें कि हरियाणा में अवैध शराब के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है और भारी मात्रा में शराब भी बरामद की गई है। 

विस्तार

नगर निकाय चुनाव की तारीखों की घोषणा होने के बाद अवैध रूप से शराब स्टॉक को लेकर लगातार छापेमारी की जा रही है। आबकारी कराधान विभाग और पुलिस की टीम ने बहादुरगढ़ में भी अवैध रूप से शराब स्टॉक की सैकड़ों पेटियां पकड़ी हैं। बताया गया है कि यह शराब एल-1 से आई है। पुलिस ने बिना अनुमति के शराब स्टॉक करने के आरोप में एक्साइज इंस्पेक्टर की शिकायत पर मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। चुनाव के चलते स्टॉक करने की इजाजत नहीं है।

एक्साइज इंस्पेक्टर सविता ने बताया कि शहर में बालौर मोड़ के पास एक दुकान में सैकड़ों पेटी शराब का स्टॉक मिला है। नप चुनाव से पहले इतनी बड़ी मात्रा में शराब मिलने से यह आशंका है कि यह शराब चुनावों में लोगों को बांटने के लिए स्टॉक की गई थी। एक्साइज विभाग और पुलिस की टीमें मौके पर मौजूद हैं और शराब की पेटियों की गिनती की जा रही है।

उन्होंने कहा कि यह शराब एल-1 से आई है, लेकिन शराब स्टॉक करने के लिए यह जगह विभाग द्वारा अलॉट नहीं की गई है। सविता कुमारी ने बताया कि आचार संहिता के चलते प्रदेश में किसी को भी शराब स्टॉक करने की इजाजत नहीं है। इसलिए इस मामले में उनकी शिकायत पुलिस ने मामला दर्ज किया है। 

दरअसल दुकान के अंदर भारी संख्या में शराब की बोतलें और बीयर के कैन थे। ये शराब बड़े बड़े गत्ते के डिब्बों में रखी गई थी। जब आबकारी विभाग ने इसे गिना तो विभिन्न ब्रांड की कुल 43 पेटी अंग्रेजी शराब और 149 पेटी बीयर ब्रांड की बरामद हुई। शराब की पेटियों को गिनने में काफी समय लग गया।

इसके बाद सिटी पुलिस को सूचना दी गई। मौके पर पहुंची सिटी पुलिस ने आरोपी नरेश के खिलाफ एक्साइज एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है। बता दें कि हरियाणा में अवैध शराब के खिलाफ लगातार कार्रवाई की जा रही है और भारी मात्रा में शराब भी बरामद की गई है। 

.


माहिरा होम्स के 7500 खरीदारों को पैसा डूबने की चिंता

नौकरी या कॉलेज की पेशकश नहीं? कोई बात नहीं, नया वीज़ा दुनिया भर के शीर्ष विश्वविद्यालयों के छात्रों को यूके में प्रवेश की अनुमति देता है