in

सुपर 100 के तहत 443 विद्यार्थियों ने दी परीक्षा


ख़बर सुनें

जींद। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को सुपर-100 परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा के लिए पंजीकृत 507 में से 64 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे।
यह परीक्षा वर्ष 2022-24 बैच के लिए लेवल वन के लिए थी। परीक्षा तय समयानुसार सुबह 11 बजे शुरू हुई। परीक्षा के लिए जिले से 507 छात्रों ने आवेदन किया था, जिनमें से 64 छात्र गैरहाजिर रहे। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में बनाए गए परीक्षा केंद्र पर 305 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी, लेकिन 260 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी जबकि 45 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में 159 परीक्षार्थियों में से 140 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी और 19 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे। लेवल एक का परीक्षा परिणाम 20 जून को घोषित किया जाएगा। इसके बाद लेवल दो के लिए आरिएंटेशन प्रोग्राम 24 जून से लेकर आठ जुलाई तक किया जाएगा। दस जुलाई को लेवल दो का परीक्षा परिणाम घोषित होगा। 15 जुलाई से मेधावी विद्यार्थियों की कोचिंग शुरू हो जाएगी।
हरियाणा सरकार की इस योजना के तहत प्रदेश में मंडल स्तर पर 100 बच्चों का चयन किया जाता है, जबकि प्रदेशभर से 600 विद्यार्थियों का सुपर100 में चयन होता है। परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थी को दसवीं के बाद 11वीं तथा 12 वीं कक्षा में ही प्रतियोगी परीक्षा जेईई व नीट की तैयारी करवाई जाती है। चयनित छात्रों में से 400 विद्यार्थियों को शिक्षा विभाग आफ लाइन व 200 विद्यार्थियों को आनलाइन कोचिंग दी जाएगी। आनलाइन कोचिंग वाले विद्यार्थी वेटिंग लिस्ट में रहेंगे। इस बीच कोई विद्यार्थी आफ लाइन कोचिंग छोड़ देता है तो आनलाइन कोचिंग वाले विद्यार्थियों को मौका मिलेगा।
वर्जन
सुपर 100 के लिए पहले जिला स्तर पर विद्यार्थियों की लेवल वन की परीक्षा ली जाती है। परीक्षा पास करने वाले बच्चों की रेवाड़ी या पंचकूला ट्रेनिंग होती है। लेवल टू पास करने वाले बच्चों को सुपर 100 में जगह मिलती है। सुपर 100 में सरकार रेवाड़ी, हिसार, करनाल, पंचकूला के सेंटर में विद्यार्थियों को दो साल की मुफ्त कोचिंग देती है। विद्यार्थियों के रहने खाने व पढ़ाई का खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाता है।
–मदन सिंह चोपड़ा जिला शिक्षा अधिकारी जींद।

जींद। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय तथा राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में शनिवार को सुपर-100 परीक्षा का आयोजन किया गया। परीक्षा के लिए पंजीकृत 507 में से 64 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे।

यह परीक्षा वर्ष 2022-24 बैच के लिए लेवल वन के लिए थी। परीक्षा तय समयानुसार सुबह 11 बजे शुरू हुई। परीक्षा के लिए जिले से 507 छात्रों ने आवेदन किया था, जिनमें से 64 छात्र गैरहाजिर रहे। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में बनाए गए परीक्षा केंद्र पर 305 परीक्षार्थियों को परीक्षा देनी थी, लेकिन 260 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी जबकि 45 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे। राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय में 159 परीक्षार्थियों में से 140 परीक्षार्थियों ने परीक्षा दी और 19 परीक्षार्थी गैर हाजिर रहे। लेवल एक का परीक्षा परिणाम 20 जून को घोषित किया जाएगा। इसके बाद लेवल दो के लिए आरिएंटेशन प्रोग्राम 24 जून से लेकर आठ जुलाई तक किया जाएगा। दस जुलाई को लेवल दो का परीक्षा परिणाम घोषित होगा। 15 जुलाई से मेधावी विद्यार्थियों की कोचिंग शुरू हो जाएगी।

हरियाणा सरकार की इस योजना के तहत प्रदेश में मंडल स्तर पर 100 बच्चों का चयन किया जाता है, जबकि प्रदेशभर से 600 विद्यार्थियों का सुपर100 में चयन होता है। परीक्षा उत्तीर्ण करने वाले विद्यार्थी को दसवीं के बाद 11वीं तथा 12 वीं कक्षा में ही प्रतियोगी परीक्षा जेईई व नीट की तैयारी करवाई जाती है। चयनित छात्रों में से 400 विद्यार्थियों को शिक्षा विभाग आफ लाइन व 200 विद्यार्थियों को आनलाइन कोचिंग दी जाएगी। आनलाइन कोचिंग वाले विद्यार्थी वेटिंग लिस्ट में रहेंगे। इस बीच कोई विद्यार्थी आफ लाइन कोचिंग छोड़ देता है तो आनलाइन कोचिंग वाले विद्यार्थियों को मौका मिलेगा।

वर्जन

सुपर 100 के लिए पहले जिला स्तर पर विद्यार्थियों की लेवल वन की परीक्षा ली जाती है। परीक्षा पास करने वाले बच्चों की रेवाड़ी या पंचकूला ट्रेनिंग होती है। लेवल टू पास करने वाले बच्चों को सुपर 100 में जगह मिलती है। सुपर 100 में सरकार रेवाड़ी, हिसार, करनाल, पंचकूला के सेंटर में विद्यार्थियों को दो साल की मुफ्त कोचिंग देती है। विद्यार्थियों के रहने खाने व पढ़ाई का खर्च सरकार द्वारा वहन किया जाता है।

–मदन सिंह चोपड़ा जिला शिक्षा अधिकारी जींद।

.


समय की बाधा पार कर भिवानी की सिम्मी वर्ल्ड एथलेक्टिस के लिए क्वालिफाई

पुलिस कर्मी से 12 लाख की ठगी