सीएम फ्लाइंग और विजिलेंस के राडार पर निगम के विकास कार्य


ख़बर सुनें

पानीपत। नगर निगम के विकास कार्यों पर अब सीएम फ्लाइंग करनाल और विजिलेंस ने अपनी पैनी नजर गड़ा ली है। निगम कार्यालय में विजिलेंस और सीएम फ्लाइंग स्कवायड ने कई विकास कार्यों का रिकॉर्ड तलब किया है। अब निगम अफसर पूरा दिन इनके ही जवाब देने के काम पर जुटे हुए हैं। इसके लिए संबंधित विकास कार्यों के टेंडर से लेकर उनकी अनुमति और बिलों के भुगतान की भी जानकारी जुटाई जा रही है। इनमें कुछ विकास कार्य ऐसे हैं जिनका भुगतान भी हो चुका है। जबकि कुछ का भुगतान बाकी है। इनमें वे दो नाले भी शामिल हैं, जिनका मेयर अवनीत कौर और उनके पिता एवं पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह ने मामला उठाया था और निगम से सैंपल भरवाए थे।
इसके अलावा सीएम के आदेश पर डिप्टी मेयर के वार्ड नंबर छह के चार विकास कार्यों में गड़बड़झाले की रिपोर्ट तैैयार की जा रही है। अफसरों ने मौके का मुआयना करते हुए टेंडर संबंधित सभी रिकार्ड के दस्तावेज तलब कर लिए हैं। इसकी जांच रिपोर्ट बृहस्पतिवार को डीसी के समक्ष प्रस्तुत की जाएगी। बता दें कि विजिलेंस और सीएम फ्लाइंग की इन इन्क्वायरी से निगम का माहौल गरमा चुका है। निगम के रूटीन के कामों की वजह अफसर दिन भर इनके रिकार्ड को तलाश कर जवाब देने पर ही जुटे हुए हैं।

ये दो मामले जिन पर मेयर और पूर्व मेयर ने उठाए थे सवाल
कुछ दिन पहले वार्ड नंबर चार के अंतर्गत बने नाले की जांच करने मेयर अवनीत कौर पहुंची थीं। इस नाले में घटिया मैटेरियल के इस्तेमाल करने के आरोप लगे थे। विपक्षी दलों ने भी इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल किया और मौके पर पहुंचकर विरोध प्रदर्शन भी किया। इसके बाद निगम ने इनके सैंपल भरवाए, जो पास भी हो गए।
इसके अलावा कुछ माह पहले मेयर के पिता एवं पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह वार्ड नंबर 10 के सेक्टर 11-12 के नाले में बनाए नाले का निरीक्षण किया। उन्होंने भी नाले में घटिया मैटेरियल और कम सरिया लगाने के आरोप लगाए। इसकी भी निगम ने जांच करवाई और लैब से सैंपल भरवाए। इसके भी सैंपल पास हो गए। अब सीएम फ्लाइंग ने इन नालों से संबंधित पूरी डिटेल निगम से मांगी है।
वर्जन-
जो डिटेल मांगी, करवाएंगे उपलब्ध
सीएम फ्लाइंग या विजिलेंस ने निगम से जिन विकास कार्यों की जो जो डिटेल मांगी है उसे उपलब्ध करवाया जाएगा। निगम के सभी विकास कार्य गुणवत्ता पूर्ण ढंग से किए गए हैं। इनमें कोई कमी नहीं है।
– नवीन सहरावत, एक्सईएन, नगर निगम।

पानीपत। नगर निगम के विकास कार्यों पर अब सीएम फ्लाइंग करनाल और विजिलेंस ने अपनी पैनी नजर गड़ा ली है। निगम कार्यालय में विजिलेंस और सीएम फ्लाइंग स्कवायड ने कई विकास कार्यों का रिकॉर्ड तलब किया है। अब निगम अफसर पूरा दिन इनके ही जवाब देने के काम पर जुटे हुए हैं। इसके लिए संबंधित विकास कार्यों के टेंडर से लेकर उनकी अनुमति और बिलों के भुगतान की भी जानकारी जुटाई जा रही है। इनमें कुछ विकास कार्य ऐसे हैं जिनका भुगतान भी हो चुका है। जबकि कुछ का भुगतान बाकी है। इनमें वे दो नाले भी शामिल हैं, जिनका मेयर अवनीत कौर और उनके पिता एवं पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह ने मामला उठाया था और निगम से सैंपल भरवाए थे।

इसके अलावा सीएम के आदेश पर डिप्टी मेयर के वार्ड नंबर छह के चार विकास कार्यों में गड़बड़झाले की रिपोर्ट तैैयार की जा रही है। अफसरों ने मौके का मुआयना करते हुए टेंडर संबंधित सभी रिकार्ड के दस्तावेज तलब कर लिए हैं। इसकी जांच रिपोर्ट बृहस्पतिवार को डीसी के समक्ष प्रस्तुत की जाएगी। बता दें कि विजिलेंस और सीएम फ्लाइंग की इन इन्क्वायरी से निगम का माहौल गरमा चुका है। निगम के रूटीन के कामों की वजह अफसर दिन भर इनके रिकार्ड को तलाश कर जवाब देने पर ही जुटे हुए हैं।



ये दो मामले जिन पर मेयर और पूर्व मेयर ने उठाए थे सवाल

कुछ दिन पहले वार्ड नंबर चार के अंतर्गत बने नाले की जांच करने मेयर अवनीत कौर पहुंची थीं। इस नाले में घटिया मैटेरियल के इस्तेमाल करने के आरोप लगे थे। विपक्षी दलों ने भी इस मुद्दे को सोशल मीडिया पर खूब ट्रोल किया और मौके पर पहुंचकर विरोध प्रदर्शन भी किया। इसके बाद निगम ने इनके सैंपल भरवाए, जो पास भी हो गए।

इसके अलावा कुछ माह पहले मेयर के पिता एवं पूर्व मेयर भूपेंद्र सिंह वार्ड नंबर 10 के सेक्टर 11-12 के नाले में बनाए नाले का निरीक्षण किया। उन्होंने भी नाले में घटिया मैटेरियल और कम सरिया लगाने के आरोप लगाए। इसकी भी निगम ने जांच करवाई और लैब से सैंपल भरवाए। इसके भी सैंपल पास हो गए। अब सीएम फ्लाइंग ने इन नालों से संबंधित पूरी डिटेल निगम से मांगी है।

वर्जन-

जो डिटेल मांगी, करवाएंगे उपलब्ध

सीएम फ्लाइंग या विजिलेंस ने निगम से जिन विकास कार्यों की जो जो डिटेल मांगी है उसे उपलब्ध करवाया जाएगा। निगम के सभी विकास कार्य गुणवत्ता पूर्ण ढंग से किए गए हैं। इनमें कोई कमी नहीं है।

– नवीन सहरावत, एक्सईएन, नगर निगम।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

सिविल अस्पताल में निजी एंबुलेंस खड़ी करने पर रोक

डिप्टी मेयर के वार्ड में विकास कार्यों की जांच में अभी लगेगा कुछ समय