सख्ती : 28 नशा तस्करों की संपत्ति अटैच करने की तैयारी


ख़बर सुनें

अंबाला। हरियाणा में नशे का अवैध कारोबार करने वाले तस्कर प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज के रडार पर है। नशा तस्करी से अवैध संपत्ति बनाने वाले 28 लोगों की संपत्तियों को जल्द ही अटैच किया जा सकता है। इसके साथ ही बुलडोजर भी चलाया जा सकता है। इसको लेकर गृहमंत्री विज ने साफ कर दिया है।
गृहमंत्री अनिल विज ने बताया कि ऐसे ही 28 केसों को उन्होंने चिह्नित करते हुए केंद्र के पास क्लीयरेंस के लिए भेजा है और जैसे ही क्लीयरेंस मिल जाएगी अरबों की संपत्ति वाले इन सभी केसों में संपत्ति को अटैच कर कार्रवाई की जाएगी। गृहमंत्री ने कहा कि पूरे हरियाणा में हमारा बुलडोजर दौड़ रहा है और सबसे पहले उन्होंने अपने जिले अंबाला से शुरूआत करते हुए अवैध तरीके से संपत्ति बनाने वालों पर कार्रवाई करके शुरूआत की थी।
लगातार अटैच की जा रही हैं संपत्तियां
गृहमंत्री विज ने बताया कि तस्करों की संपत्ति को भी अटैच किया जा रहा है और कुछ संपत्तियां अटैच करने की तैयारियां कर रहे है। कुरुक्षेत्र व अन्य जिलों में करोड़ों रुपये मूल्य की प्रापर्टी अब तक अटैच की जा चुकी है।
पंचायत स्तर तक समितियां बनाई
गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि लोगों को शिक्षित करने के लिए प्रदेश स्तर से पंचायत स्तर तक समितियां बनाई गई हैं ताकि वह लोगों को नशे के दुष्प्रचार के बारे में बताए और अगर कोई इससे ग्रस्त हो गया है तो उसका नशा छुड़ाने के लिए उन्हें नशा मुक्ति केंद्र तक ले जा सके।

अंबाला। हरियाणा में नशे का अवैध कारोबार करने वाले तस्कर प्रदेश के गृहमंत्री अनिल विज के रडार पर है। नशा तस्करी से अवैध संपत्ति बनाने वाले 28 लोगों की संपत्तियों को जल्द ही अटैच किया जा सकता है। इसके साथ ही बुलडोजर भी चलाया जा सकता है। इसको लेकर गृहमंत्री विज ने साफ कर दिया है।

गृहमंत्री अनिल विज ने बताया कि ऐसे ही 28 केसों को उन्होंने चिह्नित करते हुए केंद्र के पास क्लीयरेंस के लिए भेजा है और जैसे ही क्लीयरेंस मिल जाएगी अरबों की संपत्ति वाले इन सभी केसों में संपत्ति को अटैच कर कार्रवाई की जाएगी। गृहमंत्री ने कहा कि पूरे हरियाणा में हमारा बुलडोजर दौड़ रहा है और सबसे पहले उन्होंने अपने जिले अंबाला से शुरूआत करते हुए अवैध तरीके से संपत्ति बनाने वालों पर कार्रवाई करके शुरूआत की थी।

लगातार अटैच की जा रही हैं संपत्तियां

गृहमंत्री विज ने बताया कि तस्करों की संपत्ति को भी अटैच किया जा रहा है और कुछ संपत्तियां अटैच करने की तैयारियां कर रहे है। कुरुक्षेत्र व अन्य जिलों में करोड़ों रुपये मूल्य की प्रापर्टी अब तक अटैच की जा चुकी है।

पंचायत स्तर तक समितियां बनाई

गृहमंत्री अनिल विज ने कहा कि लोगों को शिक्षित करने के लिए प्रदेश स्तर से पंचायत स्तर तक समितियां बनाई गई हैं ताकि वह लोगों को नशे के दुष्प्रचार के बारे में बताए और अगर कोई इससे ग्रस्त हो गया है तो उसका नशा छुड़ाने के लिए उन्हें नशा मुक्ति केंद्र तक ले जा सके।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

Kurukshetra News: नशे के खिलाफ निकाली पदयात्रा

बीएसएफ ने अमृतसर बॉर्डर पर मार गिराया पाकिस्तानी ड्रोन, दो महिला जवानों ने दिया कार्रवाई को अंजाम