in

शौचालय का टैंक खोदते समय मिट्टी धंसने से मजदूर की मौत


ख़बर सुनें

महेंद्रगढ़। गांव सोहला में बुधवार की शाम शौचालय के टैंक की खुदाई करते समय मिट्टी धंसने से 28 वर्षीय मजदूर सोहला निवासी दिनेश कुमार की मौत हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर डायल 112 पुलिस पहुंची और ए घंटे तक जेसीबी मशीन से खुदाई कर मजदूर को निकाला गया। परिजन मजदूर को नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई मनेश के बयान पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया।
मृतक के भाई मनेश ने पुलिस दिए बयान में आरोप लगाया है कि एक मई को मिंटू शौचालय के टैंक की खुदाई करने के लिए उसके भाई को मजदूरी करने के लिए ले गया। उसने उसके भाई दिनेश कुमार पर दबाव बनाकर शौचालय के टैंक के लिए 12 फुट की जगह 20 फुट खुदाई कराई। जब दिनेश दोपहर को घर पर खाना खाने आया था तो बताया था कि 12 फुट की खुदाई हो चुकी है। अब टैंक की और खुदाई करने से खतरा हो सकता है। उसके भाई ने मिंटू से टैंक और खोदने से मना कर दिया था लेकिन मिंटू ने 20 फुट तक खुदाई करने का दबाव बनाया था। खुदाई के दौरान मिट्टी धंसने से उसका भाई दिनेश दब गया जिससे उसकी मौत हो गई।
मृतक के भाई ने बताया कि बुधवार शाम छह बजे उसे सूचना मिली कि खुदाई के समय मिट्टी धंसने से उसका भाई दब गया है। इस सूचना पर वह मौके पर पहुंचा। वहां गांव के काफी संख्या में लोग खड़े थे। उसने व ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस और जेसीबी मशीन को दी। मौके पर आई जेसीबी मशीन ने एक घंटे तक खुदाई कर उसके भाई को कुई में से निकाला और उसे उपचार के लिए सरकारी अस्पताल लेकर गए जहां चिकित्सकों ने उसकी जांच करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

महेंद्रगढ़। गांव सोहला में बुधवार की शाम शौचालय के टैंक की खुदाई करते समय मिट्टी धंसने से 28 वर्षीय मजदूर सोहला निवासी दिनेश कुमार की मौत हो गई। ग्रामीणों की सूचना पर डायल 112 पुलिस पहुंची और ए घंटे तक जेसीबी मशीन से खुदाई कर मजदूर को निकाला गया। परिजन मजदूर को नागरिक अस्पताल महेंद्रगढ़ ले गए जहां चिकित्सकों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मृतक के भाई मनेश के बयान पर कार्रवाई करते हुए पुलिस ने पोस्टमार्टम कराने के बाद शव को परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

मृतक के भाई मनेश ने पुलिस दिए बयान में आरोप लगाया है कि एक मई को मिंटू शौचालय के टैंक की खुदाई करने के लिए उसके भाई को मजदूरी करने के लिए ले गया। उसने उसके भाई दिनेश कुमार पर दबाव बनाकर शौचालय के टैंक के लिए 12 फुट की जगह 20 फुट खुदाई कराई। जब दिनेश दोपहर को घर पर खाना खाने आया था तो बताया था कि 12 फुट की खुदाई हो चुकी है। अब टैंक की और खुदाई करने से खतरा हो सकता है। उसके भाई ने मिंटू से टैंक और खोदने से मना कर दिया था लेकिन मिंटू ने 20 फुट तक खुदाई करने का दबाव बनाया था। खुदाई के दौरान मिट्टी धंसने से उसका भाई दिनेश दब गया जिससे उसकी मौत हो गई।

मृतक के भाई ने बताया कि बुधवार शाम छह बजे उसे सूचना मिली कि खुदाई के समय मिट्टी धंसने से उसका भाई दब गया है। इस सूचना पर वह मौके पर पहुंचा। वहां गांव के काफी संख्या में लोग खड़े थे। उसने व ग्रामीणों ने इसकी सूचना पुलिस और जेसीबी मशीन को दी। मौके पर आई जेसीबी मशीन ने एक घंटे तक खुदाई कर उसके भाई को कुई में से निकाला और उसे उपचार के लिए सरकारी अस्पताल लेकर गए जहां चिकित्सकों ने उसकी जांच करने के बाद उसे मृत घोषित कर दिया।

.


अमर उजाला ग्राउंड रिपोर्ट: नस-नस में बस नशा, रिश्ते आने भी बंद… बहू-बेटियां भी आईं नशे की गिरफ्त में

बिजली संकट से नाराज पांच गांवों के लोगों ने दिया धरना