शहर में जल निकासी प्रबंधों की व्यवस्था सुनिश्चित हो : डीसी


ख़बर सुनें

डीसी अशोक कुमार गर्ग ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि रेवाड़ी शहर में जल निकासी के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं ताकि बरसात के समय में शहर में किसी भी रूप से जलभराव की स्थिति उत्पन्न न हो और आमजन को परेशानी का सामना न करना पड़े।
डीसी शहर के विभिन्न नालों व जलभराव वाले क्षेत्रों का दौरा करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि बरसात के मौसम को मद्देनजर रखते हुए सभी नालों की अच्छी तरह से सफाई कराएं और जहां जरूरत हो वहां पंप सेट की व्यवस्था सुनिश्चित करें।
नगर परिषद व जनस्वास्थ्य विभाग सजग रहकर करें कार्य
डीसी ने अग्रसेन चौक, झज्जर चौक से रेलवे लाइन की ओर वाले नाले, गोपाल देव चौक, मोती चौक पर नगर परिषद के नालों की सफाई का निरीक्षण किया। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को कहा कि केवल रिपोर्ट भेजने से काम नहीं चलेगा, धरातल पर काम नजर आना चाहिए। उन्होंने कहा कि तीन दिन के बाद दोबारा से नालों की सफाई का निरीक्षण किया जाएगा और संतोषजनक सफाई व्यवस्था नहीं मिली तो कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। डीसी ने जनस्वास्थ्य विभाग के बाल भवन, सिविल अस्पताल, रेलवे स्टेशन व नसिया जी रोड पर नालों की सफाई का निरीक्षण किया। उन्होंने जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि रेलवे स्टेशन के नाले की सफाई अच्छी तरह से कराई जाए।
पंप सेट की व्यवस्था की
शहर के नागरिक अस्पताल व बाल भवन क्षेत्र का निरीक्षण करने पर कार्यकारी अभियंता जनस्वास्थ्य विभाग विनय चौहान ने डीसी को बताया कि संभावित जलभराव की स्थिति को देखते हुए दोनों क्षेत्रों में पंप सेट की व्यवस्था कर दी गई है ताकि बारिश का पानी सुचारु रूप से निकल सके। निरीक्षण के दौरान डीएमसी भारत भूषण गोगिया, एसडीएम रेवाड़ी सिद्धार्थ दहिया, जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता विनय चौहान, कार्यकारी अभियंता लोक निर्माण विभाग आदित्य देशवाल, नगरपरिषद के अजय सिक्का व सुनील कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी साथ रहे।

डीसी अशोक कुमार गर्ग ने संबंधित विभागों के अधिकारियों को सख्त निर्देश दिए कि रेवाड़ी शहर में जल निकासी के पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए जाएं ताकि बरसात के समय में शहर में किसी भी रूप से जलभराव की स्थिति उत्पन्न न हो और आमजन को परेशानी का सामना न करना पड़े।

डीसी शहर के विभिन्न नालों व जलभराव वाले क्षेत्रों का दौरा करते हुए संबंधित अधिकारियों को दिशा-निर्देश दे रहे थे। उन्होंने निर्देश दिए कि बरसात के मौसम को मद्देनजर रखते हुए सभी नालों की अच्छी तरह से सफाई कराएं और जहां जरूरत हो वहां पंप सेट की व्यवस्था सुनिश्चित करें।

नगर परिषद व जनस्वास्थ्य विभाग सजग रहकर करें कार्य

डीसी ने अग्रसेन चौक, झज्जर चौक से रेलवे लाइन की ओर वाले नाले, गोपाल देव चौक, मोती चौक पर नगर परिषद के नालों की सफाई का निरीक्षण किया। उन्होंने नगर परिषद के अधिकारियों को कहा कि केवल रिपोर्ट भेजने से काम नहीं चलेगा, धरातल पर काम नजर आना चाहिए। उन्होंने कहा कि तीन दिन के बाद दोबारा से नालों की सफाई का निरीक्षण किया जाएगा और संतोषजनक सफाई व्यवस्था नहीं मिली तो कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। डीसी ने जनस्वास्थ्य विभाग के बाल भवन, सिविल अस्पताल, रेलवे स्टेशन व नसिया जी रोड पर नालों की सफाई का निरीक्षण किया। उन्होंने जनस्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि रेलवे स्टेशन के नाले की सफाई अच्छी तरह से कराई जाए।

पंप सेट की व्यवस्था की

शहर के नागरिक अस्पताल व बाल भवन क्षेत्र का निरीक्षण करने पर कार्यकारी अभियंता जनस्वास्थ्य विभाग विनय चौहान ने डीसी को बताया कि संभावित जलभराव की स्थिति को देखते हुए दोनों क्षेत्रों में पंप सेट की व्यवस्था कर दी गई है ताकि बारिश का पानी सुचारु रूप से निकल सके। निरीक्षण के दौरान डीएमसी भारत भूषण गोगिया, एसडीएम रेवाड़ी सिद्धार्थ दहिया, जनस्वास्थ्य विभाग के कार्यकारी अभियंता विनय चौहान, कार्यकारी अभियंता लोक निर्माण विभाग आदित्य देशवाल, नगरपरिषद के अजय सिक्का व सुनील कुमार सहित अन्य संबंधित अधिकारी साथ रहे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

लगातार बढ़ते जा रहे कोरोना संक्रमण के मामले, पांच नए मामले आए सामने

अग्निपथ योजना: युवाओं के समर्थन में उतरा एसकेएम, 24 जून को देशभर में प्रदर्शन का एलान, आज जींद में बैठक होगी