वोट देने आए लोगों के पहचान पत्र जरूर देखें


ख़बर सुनें

कैथल। आरकेएसडी कॉलेज में बुधवार को चुनावी प्रक्रिया प्रशिक्षण कार्यक्रम में ड्यूटी मजिस्ट्रेट, सेक्टर सुपरवाइजर व पोलिंग पार्टियों के कर्मचारियों को कई निर्देश दिए गए। बताया गया कि वोट देने आए लोगों के पहचान पत्र जरूर देखें। इसके बाद ही उन्हें वोट डालने की अनुमति देेें।
रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम ब्रह्म प्रकाश की अगुवाई में यह कार्यक्रम चला। विशेष प्रशिक्षण शिविर में उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियां निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार निकाय चुनाव को निष्पक्ष व पारदर्शिता से संपन्न करवाने का कार्य करें। जिन भी अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में लगी है, वे सभी पूरी गंभीरता से कार्य करें। मतदान के लिए आने वाले व्यक्तियों के पहचान पत्रों को ध्यान से देखें। कोई भी मतदाता मतदान से वंचित नहीं रहना चाहिए।
इस मौके पर हॉल में डयूटी मजिस्ट्रेट, सेक्टर सुपरवाइजर सभी पोलिंग पार्टियों की रिहर्सल भी करवाई गई। पीठासीन अधिकारी पुस्तिका का अध्ययन गहनता से करने को कहा गया। मास्टर ट्रेनर शमशेर सिंह ने रिहर्सल में ईवीएम की विस्तृत जानकारी देते हुए यूनिट, बैलेट यूनिट तथा इवीएम मशीन से संबंधित विभिन्न सोपानों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया अच्छी तरह से समझ लें ताकि इस दौरान वोट की गोपनीयता भी भंग न हो पाए। इस मौके पर नायब तहसीलदार आशीष, सुभाष चंद मौजूद रहे।

कैथल। आरकेएसडी कॉलेज में बुधवार को चुनावी प्रक्रिया प्रशिक्षण कार्यक्रम में ड्यूटी मजिस्ट्रेट, सेक्टर सुपरवाइजर व पोलिंग पार्टियों के कर्मचारियों को कई निर्देश दिए गए। बताया गया कि वोट देने आए लोगों के पहचान पत्र जरूर देखें। इसके बाद ही उन्हें वोट डालने की अनुमति देेें।

रिटर्निंग अधिकारी एवं एसडीएम ब्रह्म प्रकाश की अगुवाई में यह कार्यक्रम चला। विशेष प्रशिक्षण शिविर में उन्होंने कहा कि पोलिंग पार्टियां निर्वाचन आयोग की हिदायतों के अनुसार निकाय चुनाव को निष्पक्ष व पारदर्शिता से संपन्न करवाने का कार्य करें। जिन भी अधिकारियों व कर्मचारियों की ड्यूटी चुनाव में लगी है, वे सभी पूरी गंभीरता से कार्य करें। मतदान के लिए आने वाले व्यक्तियों के पहचान पत्रों को ध्यान से देखें। कोई भी मतदाता मतदान से वंचित नहीं रहना चाहिए।

इस मौके पर हॉल में डयूटी मजिस्ट्रेट, सेक्टर सुपरवाइजर सभी पोलिंग पार्टियों की रिहर्सल भी करवाई गई। पीठासीन अधिकारी पुस्तिका का अध्ययन गहनता से करने को कहा गया। मास्टर ट्रेनर शमशेर सिंह ने रिहर्सल में ईवीएम की विस्तृत जानकारी देते हुए यूनिट, बैलेट यूनिट तथा इवीएम मशीन से संबंधित विभिन्न सोपानों की विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि चुनाव प्रक्रिया अच्छी तरह से समझ लें ताकि इस दौरान वोट की गोपनीयता भी भंग न हो पाए। इस मौके पर नायब तहसीलदार आशीष, सुभाष चंद मौजूद रहे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

भाजपा का काम है कांग्रेसी नेताओं को कोसना, मेरा नहीं : बीरेंद्र

टॉप तीन स्थानों पर म्हारी बेटियों ने जमाया कब्जा