वार्ड 18 में पार्षद प्रत्याशी के पति भिड़े, कपड़े फाड़ने का आरोप, 15 मिनट रुका मतदान


ख़बर सुनें

फतेहाबाद। नगर निकाय चुनाव को लेकर रविवार को मतदान के दिन फतेहाबाद में कई बूथों पर उम्मीदवार और उनके समर्थक आपस में भिड़ते नजर आए। वार्ड नंबर 18 के मतदान को लेकर विद्युत निगम के एसडीओ कार्यालय में बनाए गए मतदान केंद्र पर पार्षद उम्मीदवार के पति आपस में भिड़ गए। यहां तक पार्षद उम्मीदवार अनीता गोयल के पति ललित गोयल के साथ मारपीट हुई और कपड़े फाड़ दिए गए। ललित गोयल ने पार्षद उम्मीदवार स्नेहलता गर्ग के पति अनिल गर्ग पर मारपीट और कपड़े फाड़ने के आरोप लगाए।
मारपीट के बाद जमकर हंगामा हुआ और करीब 15 मिनट तक मतदान रुका रहा। ललित गोयल ने मतदान केंद्र को बंद करके धरने पर बैठने का प्रयास किया। सूचना मिलने पर डीएसपी सुभाष चंद्र और एसएचओ ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे। पार्षद उम्मीदवार प्रतिनिधि ललित गोयल ने आरोप लगाया कि उम्मीदवार स्नेहलता के पति अनिल गर्ग ने केंद्र के अंदर आकर उसके साथ मारपीट की और गाली-गलौच किया। आरोपी अनिल गर्ग ने कपड़े तक फाड़ दिए। मामले को लेकर ललित गोयल ने शहर थाना प्रभारी को लिखित शिकायत भी दी। बता दें कि अनिल गर्ग खुद वार्ड नंबर 24 से भी उम्मीदवार है और उनकी पत्नी स्नेहलता गर्ग वार्ड नंबर 18 से उम्मीदवार है।
वार्ड नंबर 11 के उम्मीदवारों के समर्थक भी आपस में भिड़े
वार्ड नंबर 11 के मतदाताओं के लिए बीडीपीओ कार्यालय में बूथ बनाए गए। यहां पर वार्ड नंबर 11 के उम्मीदवार मनोज भ्याणा और चंद्रकांता के समर्थक आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों के बीच कई देर तक कहासुनी हुई। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति संभाली।
हंस कॉलोनी में दिनभर आमने-सामने रहे उम्मीदवार
हंस कॉलोनी वार्ड नंबर 17 में नगर निकाय चुनाव को लेकर मतदान केंद्रों के बाहर दिनभर उम्मीदवार समर्थक आमने-सामने रहे। यहां पर समर्थकों के बीच दिनभर कहासुनी होती रही। बूथ के अंदर जाने को लेकर उम्मीदवार समर्थक एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे।
वार्ड नंबर 12 में पार्षद उम्मीवार और समर्थकों के बीच हुई कहासुनी
वार्ड नंबर 12 के मतदान बूथों पर पार्षद उम्मीदवार और दूसरी तरफ पार्षद उम्मीदवार समर्थकों के बीच कहासुनी हो गई। यहां पर एक फर्जी मतदाता पकड़ा गया था। इसको लेकर यहां पर पार्षद उम्मीदवार सुभाष पपीया और पार्षद उम्मीदवार नीलम मेहता के समर्थकों के बीच कहासुनी हुई। सुभाष पपीया का कहना है कि यहां पर एक फर्जी मतदाता पकड़ा गया जिसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।
कोट
वार्ड नंबर 18 के बूथ पर पार्षद उम्मीदवार के उम्मीदवारों के बीच वोटरों को लेकर कहासुनी हुई थी। एक पक्ष की तरफ से शिकायत आई है, जो कार्रवाई होगी वह की जाएगी।
-ओमप्रकाश, शहर थाना प्रभारी

फतेहाबाद। नगर निकाय चुनाव को लेकर रविवार को मतदान के दिन फतेहाबाद में कई बूथों पर उम्मीदवार और उनके समर्थक आपस में भिड़ते नजर आए। वार्ड नंबर 18 के मतदान को लेकर विद्युत निगम के एसडीओ कार्यालय में बनाए गए मतदान केंद्र पर पार्षद उम्मीदवार के पति आपस में भिड़ गए। यहां तक पार्षद उम्मीदवार अनीता गोयल के पति ललित गोयल के साथ मारपीट हुई और कपड़े फाड़ दिए गए। ललित गोयल ने पार्षद उम्मीदवार स्नेहलता गर्ग के पति अनिल गर्ग पर मारपीट और कपड़े फाड़ने के आरोप लगाए।

मारपीट के बाद जमकर हंगामा हुआ और करीब 15 मिनट तक मतदान रुका रहा। ललित गोयल ने मतदान केंद्र को बंद करके धरने पर बैठने का प्रयास किया। सूचना मिलने पर डीएसपी सुभाष चंद्र और एसएचओ ओमप्रकाश मौके पर पहुंचे। पार्षद उम्मीदवार प्रतिनिधि ललित गोयल ने आरोप लगाया कि उम्मीदवार स्नेहलता के पति अनिल गर्ग ने केंद्र के अंदर आकर उसके साथ मारपीट की और गाली-गलौच किया। आरोपी अनिल गर्ग ने कपड़े तक फाड़ दिए। मामले को लेकर ललित गोयल ने शहर थाना प्रभारी को लिखित शिकायत भी दी। बता दें कि अनिल गर्ग खुद वार्ड नंबर 24 से भी उम्मीदवार है और उनकी पत्नी स्नेहलता गर्ग वार्ड नंबर 18 से उम्मीदवार है।

वार्ड नंबर 11 के उम्मीदवारों के समर्थक भी आपस में भिड़े

वार्ड नंबर 11 के मतदाताओं के लिए बीडीपीओ कार्यालय में बूथ बनाए गए। यहां पर वार्ड नंबर 11 के उम्मीदवार मनोज भ्याणा और चंद्रकांता के समर्थक आपस में भिड़ गए। दोनों पक्षों के बीच कई देर तक कहासुनी हुई। मौके पर पहुंची पुलिस ने स्थिति संभाली।

हंस कॉलोनी में दिनभर आमने-सामने रहे उम्मीदवार

हंस कॉलोनी वार्ड नंबर 17 में नगर निकाय चुनाव को लेकर मतदान केंद्रों के बाहर दिनभर उम्मीदवार समर्थक आमने-सामने रहे। यहां पर समर्थकों के बीच दिनभर कहासुनी होती रही। बूथ के अंदर जाने को लेकर उम्मीदवार समर्थक एक-दूसरे पर आरोप लगाते रहे।

वार्ड नंबर 12 में पार्षद उम्मीवार और समर्थकों के बीच हुई कहासुनी

वार्ड नंबर 12 के मतदान बूथों पर पार्षद उम्मीदवार और दूसरी तरफ पार्षद उम्मीदवार समर्थकों के बीच कहासुनी हो गई। यहां पर एक फर्जी मतदाता पकड़ा गया था। इसको लेकर यहां पर पार्षद उम्मीदवार सुभाष पपीया और पार्षद उम्मीदवार नीलम मेहता के समर्थकों के बीच कहासुनी हुई। सुभाष पपीया का कहना है कि यहां पर एक फर्जी मतदाता पकड़ा गया जिसे पुलिस के हवाले कर दिया गया।

कोट

वार्ड नंबर 18 के बूथ पर पार्षद उम्मीदवार के उम्मीदवारों के बीच वोटरों को लेकर कहासुनी हुई थी। एक पक्ष की तरफ से शिकायत आई है, जो कार्रवाई होगी वह की जाएगी।

-ओमप्रकाश, शहर थाना प्रभारी

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

योग दिवस पर साधकों को सरकारी बस की सवारी, रूट पर यात्रियों को हो सकती है परेशानी

प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला ईवीएम में लॉक