लुधियाना में बड़ी सफलता: पुलिस ने गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के सहपाठी समेत एक अन्य को दबोचा, दो पिस्तौल और 11 कारतूस बरामद


संवाद न्यूज एजेंसी, लुधियाना (पंजाब)
Published by: ajay kumar
Updated Mon, 20 Jun 2022 12:50 AM IST

ख़बर सुनें

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में पुलिस रिमांड पर चल रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के साथ पढ़ने वाले उसके साथी समेत दो आरोपियों को सीआईए टू की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस को इनके कब्जे से दो पिस्तौल और 11 कारतूस मिले हैं। आरोपियों की पहचान बलदेव चौधरी और अंकित शर्मा के रूप में हुई है। 

बलदेव चौधरी लॉरेंस बिश्नोई का करीबी बताया जा रहा है और अंकित बलदेव का साथी है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से दोनों को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। सीआईए टू के प्रभारी इंस्पेक्टर बेअंत जुनेजा ने बताया कि थाना मोती नगर में ट्रांसपोर्टर से एक लूट का मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में जांच के दौरान पता चला कि आरोपी बलदेव चौधरी और अंकित शर्मा इस लूट में शामिल थे। इसके बाद पुलिस ने आरोपी बलदेव चौधरी को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उसकी निशानदेही पर अंकित को घंटाघर चौक के पास से गिरफ्तार किया। 

पुलिस के मुताबिक आरोपी बलदेव और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई साथ पढ़ाते थे और दोनों की अच्छी दोस्ती थी। दोनों काफी समय से एक-दूसरे के संपर्क में थे। पुलिस के मुताबिक आरोपी बलदेव के खिलाफ पहले भी एक मामला दर्ज है। अब पुलिस यह जांच करने में जुटी है कि आरोपी बलदेव चौधरी लॉरेंस बिश्नोई का कितना करीबी था और लॉरेंस के जेल में बंद होने के बाद वह उसके संपर्क में कैसे रहता था।

विस्तार

पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला की हत्या के मामले में पुलिस रिमांड पर चल रहे गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई के साथ पढ़ने वाले उसके साथी समेत दो आरोपियों को सीआईए टू की पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस को इनके कब्जे से दो पिस्तौल और 11 कारतूस मिले हैं। आरोपियों की पहचान बलदेव चौधरी और अंकित शर्मा के रूप में हुई है। 

बलदेव चौधरी लॉरेंस बिश्नोई का करीबी बताया जा रहा है और अंकित बलदेव का साथी है। पुलिस ने दोनों आरोपियों को अदालत में पेश किया, जहां से दोनों को दो दिन के पुलिस रिमांड पर भेज दिया है। पुलिस आरोपियों से पूछताछ कर रही है। सीआईए टू के प्रभारी इंस्पेक्टर बेअंत जुनेजा ने बताया कि थाना मोती नगर में ट्रांसपोर्टर से एक लूट का मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में जांच के दौरान पता चला कि आरोपी बलदेव चौधरी और अंकित शर्मा इस लूट में शामिल थे। इसके बाद पुलिस ने आरोपी बलदेव चौधरी को गिरफ्तार कर लिया। बाद में उसकी निशानदेही पर अंकित को घंटाघर चौक के पास से गिरफ्तार किया। 

पुलिस के मुताबिक आरोपी बलदेव और गैंगस्टर लॉरेंस बिश्नोई साथ पढ़ाते थे और दोनों की अच्छी दोस्ती थी। दोनों काफी समय से एक-दूसरे के संपर्क में थे। पुलिस के मुताबिक आरोपी बलदेव के खिलाफ पहले भी एक मामला दर्ज है। अब पुलिस यह जांच करने में जुटी है कि आरोपी बलदेव चौधरी लॉरेंस बिश्नोई का कितना करीबी था और लॉरेंस के जेल में बंद होने के बाद वह उसके संपर्क में कैसे रहता था।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

बच्चों के झगड़े से बड़ों में विवाद, तलवार व डंडों से सुनार पर हमला

अवैध निर्माण चिह्नित कर भेजे जाएंगे नोटिस फिर भी मानक पूरे न किए तो होंगे सील