in

रेलवे ने गर्मी की छुट्टियों में बढ़ती यात्रियों की संख्या को देखते हुए बढाई रेल में कोच की संख्या


Railways increased 9 coaches in 6 trains, take a walk comfortably

ख़बर सुनें

जींद। गर्मी की छुट्टियों में यात्रियों को पर्यटन स्थल पर घूमने जाने लगे हैं इस कारण ट्रेनों में यात्रियों की संख्या बढ़ती देख रेलवे ने जींद से गुजरने वाली अपनी 6 ट्रेनों में नौ कोच बढ़ा दिए हैं। एक कोच में 72 सवारियां बैठती हैं। फिलहाल इन्हें 30 जून तक बढ़ाया गया है।
रेलवे ने जींद जंक्शन से गुजरने वाली सरबत दा भला एक्सप्रेस व साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस ट्रेन शामिल हैं। ट्रेन नंबर 22479 सरबत दा भला एक्सप्रेस सुबह सात बजे दिल्ली से चलती है जो बहादुरगढ़, रोहतक, जींद, नरवाना, टोहाना, जाखल, संगरूर, धुरी, लुधियाना, जालंधर होते हुए लोहिया खास जंक्शन तक जाती है। वहीं वापसी में ट्रेन नंबर 22480 लोहिया खास से दोपहर तीन बजकर 35 मिनट पर चलकर जालंधर, लुधियाना, संगरूर, जाखल टोहाना, नरवाना और जींद से होते हुए नई दिल्ली जाती है। इस रूट पर यात्री दिल्ली और पंजाब स्थित पर्यटन स्थलों पर घूमने जाते हैं। साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा एक द्वितीय स्पीलर क्लास का डिब्बा बढ़ाया जा रहा है। ट्रेन नंबर 19717 में एक जून से लेकर 30 जून तक और ट्रेन नंबर 19718 में दो जून से लेकर एक जुलाई तक एक द्वितीय स्लीपर क्लास डिब्बे की अस्थाई तौर पर बढ़ोतरी की गई है। इससे लंबे रूट पर चलने वाले जिले के यात्रियों को भी फायदा होगा क्योंकि इस ट्रेन का ठहराव जींद जंक्शन पर भी होता है।
ट्रेन नंबर 19717 साबरमती से पौने दस बजे चलकर अजमेर, जयपुर, अलवर, रेवाड़ी, झज्जर, रोहतक से होते हुए दोपहर दो बजकर 22 मिनट पर जीद जंक्शन पर पहुंचती है। यहां तीन मिनट के ठहराव के बाद ट्रेन उचाना, कैथल, कुरुक्षेत्र, चंडीगढ़ होते हुए दौलतपुर पहुंचती है। वहीं ट्रेन नंबर 19718 दोपहर बाद दो बजकर 25 मिनट पर दौलतपुर से चलकर रुपनगर, चंडीगढ़, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, नरवाना और उचाना होते हुए रात दस बजकर 21 मिनट पर जींद जंक्शन पर पहुंचती है। जो जुलाना, रोहतक, रेवाड़ी, अलवर, राजगढ़ होते हुए अजमेर पहुंचती है। इसके अलावा जींद से गुजरने वाली दिल्ली-गंगानगर, साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस, नांदेड एक्सप्रेस व अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन भी शामिल हैं। ट्रेन में एक कोच बढ़ाए जाने पर 72 यात्रियों को फायदा होगा।
बाक्स
यात्रियों को होगा फ ायदा
कुछ एक्सप्रेस ट्रेन में रेलवे द्वारा एक या दो डिब्बे की बढ़ोतरी की है। इससे यात्रियों को काफी फ ायदा होगा। अभी गर्मी की छुट्टियां पड़ रही हैं। यात्रियों को पर्यटन स्थल पर जाने में कोई परेशानी न हो। इसके लिए यह व्यवस्था की है। गर्मी की छुट्टी समाप्त होने के बाद डिब्बे ट्रेन से हटाए जा सकते हैं।
-जयप्रकाश स्टेशन अधीक्षक जींद जंक्शन।

जींद। गर्मी की छुट्टियों में यात्रियों को पर्यटन स्थल पर घूमने जाने लगे हैं इस कारण ट्रेनों में यात्रियों की संख्या बढ़ती देख रेलवे ने जींद से गुजरने वाली अपनी 6 ट्रेनों में नौ कोच बढ़ा दिए हैं। एक कोच में 72 सवारियां बैठती हैं। फिलहाल इन्हें 30 जून तक बढ़ाया गया है।

रेलवे ने जींद जंक्शन से गुजरने वाली सरबत दा भला एक्सप्रेस व साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस ट्रेन शामिल हैं। ट्रेन नंबर 22479 सरबत दा भला एक्सप्रेस सुबह सात बजे दिल्ली से चलती है जो बहादुरगढ़, रोहतक, जींद, नरवाना, टोहाना, जाखल, संगरूर, धुरी, लुधियाना, जालंधर होते हुए लोहिया खास जंक्शन तक जाती है। वहीं वापसी में ट्रेन नंबर 22480 लोहिया खास से दोपहर तीन बजकर 35 मिनट पर चलकर जालंधर, लुधियाना, संगरूर, जाखल टोहाना, नरवाना और जींद से होते हुए नई दिल्ली जाती है। इस रूट पर यात्री दिल्ली और पंजाब स्थित पर्यटन स्थलों पर घूमने जाते हैं। साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस ट्रेन में यात्रियों की सुविधा के लिए रेलवे द्वारा एक द्वितीय स्पीलर क्लास का डिब्बा बढ़ाया जा रहा है। ट्रेन नंबर 19717 में एक जून से लेकर 30 जून तक और ट्रेन नंबर 19718 में दो जून से लेकर एक जुलाई तक एक द्वितीय स्लीपर क्लास डिब्बे की अस्थाई तौर पर बढ़ोतरी की गई है। इससे लंबे रूट पर चलने वाले जिले के यात्रियों को भी फायदा होगा क्योंकि इस ट्रेन का ठहराव जींद जंक्शन पर भी होता है।

ट्रेन नंबर 19717 साबरमती से पौने दस बजे चलकर अजमेर, जयपुर, अलवर, रेवाड़ी, झज्जर, रोहतक से होते हुए दोपहर दो बजकर 22 मिनट पर जीद जंक्शन पर पहुंचती है। यहां तीन मिनट के ठहराव के बाद ट्रेन उचाना, कैथल, कुरुक्षेत्र, चंडीगढ़ होते हुए दौलतपुर पहुंचती है। वहीं ट्रेन नंबर 19718 दोपहर बाद दो बजकर 25 मिनट पर दौलतपुर से चलकर रुपनगर, चंडीगढ़, अंबाला, कुरुक्षेत्र, कैथल, नरवाना और उचाना होते हुए रात दस बजकर 21 मिनट पर जींद जंक्शन पर पहुंचती है। जो जुलाना, रोहतक, रेवाड़ी, अलवर, राजगढ़ होते हुए अजमेर पहुंचती है। इसके अलावा जींद से गुजरने वाली दिल्ली-गंगानगर, साबरमती-दौलतपुर एक्सप्रेस, नांदेड एक्सप्रेस व अवध-असम एक्सप्रेस ट्रेन भी शामिल हैं। ट्रेन में एक कोच बढ़ाए जाने पर 72 यात्रियों को फायदा होगा।

बाक्स

यात्रियों को होगा फ ायदा

कुछ एक्सप्रेस ट्रेन में रेलवे द्वारा एक या दो डिब्बे की बढ़ोतरी की है। इससे यात्रियों को काफी फ ायदा होगा। अभी गर्मी की छुट्टियां पड़ रही हैं। यात्रियों को पर्यटन स्थल पर जाने में कोई परेशानी न हो। इसके लिए यह व्यवस्था की है। गर्मी की छुट्टी समाप्त होने के बाद डिब्बे ट्रेन से हटाए जा सकते हैं।

-जयप्रकाश स्टेशन अधीक्षक जींद जंक्शन।

.


जिले में फिर पैर परासने लगा कोरोना संक्रमण, दो दिन में पांच मामले आए सामने

पेड़ धरती का शृंगार, यही हमारे जीवन का आधार