in

रास्ता रोककर हमला करने का एक आरोपी काबू, भेजा जेल


ख़बर सुनें

गत माह गांव ईशरगढ़ में बाइक चालक का रास्ता रोककर जानलेवा हमला करने के मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल दो बिंडे बरामद किए गए। पुलिस ने आरोपी अंकुश उर्फ लाडी वासी जालखेड़ी को अदालत के आदेश के आदेश पर जेल भेज दिया।
गुरजिंद्र सिंह निवासी मंडोखरा ने 21 जून को थाना बाबैन पुलिस को दिए अपने बयान में बताया था कि 16 जून को वह अपनी बाइक पर करनाल में रहने वाली बुआ से मिलकर वापस अपने घर आ रहा था। जैसे ही वह गांव ईशरगढ़ में पहुंचा तो पीछे से दो बाइक आकर उसके आगे रुकी, जिन पर तीन-तीन युवक सवार थे। उन्होंने अपने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था और उनके हाथों में डंडे-बिंडे थे।
उन्होंने बाइक से उतरते ही उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी और उसे घायल कर दिया था। शोर मचाने पर वहां काफी भीड़ इकट्ठा होने लगी तो आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गए थे।
शिकायतकर्ता ते अनुसार लाडी, शुभम वासी जालखेड़ी, लक्की वासी बाबैन, तुषार वासी रामपुरा, विरेंद्र वासी कलाल माजरा ने उस पर हमला किया था। बयान पर मामला दर्ज करके जांच करते हुए पुलिस ने आरोपी अंकुश उर्फ लाडी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल दो बिंडे बरामद किए। इसके बाद आरोपी को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने आरोपी को जेल भेजने का आदेश दिया। पुलिस के अनुसार अन्य आरोपियों की तलाश में छापे मारे जा रहे हैं।

गत माह गांव ईशरगढ़ में बाइक चालक का रास्ता रोककर जानलेवा हमला करने के मामले में कार्रवाई करते हुए पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार किया है। आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल दो बिंडे बरामद किए गए। पुलिस ने आरोपी अंकुश उर्फ लाडी वासी जालखेड़ी को अदालत के आदेश के आदेश पर जेल भेज दिया।

गुरजिंद्र सिंह निवासी मंडोखरा ने 21 जून को थाना बाबैन पुलिस को दिए अपने बयान में बताया था कि 16 जून को वह अपनी बाइक पर करनाल में रहने वाली बुआ से मिलकर वापस अपने घर आ रहा था। जैसे ही वह गांव ईशरगढ़ में पहुंचा तो पीछे से दो बाइक आकर उसके आगे रुकी, जिन पर तीन-तीन युवक सवार थे। उन्होंने अपने मुंह पर कपड़ा बांध रखा था और उनके हाथों में डंडे-बिंडे थे।

उन्होंने बाइक से उतरते ही उसके साथ मारपीट करनी शुरू कर दी और उसे घायल कर दिया था। शोर मचाने पर वहां काफी भीड़ इकट्ठा होने लगी तो आरोपी उसे जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से फरार हो गए थे।

शिकायतकर्ता ते अनुसार लाडी, शुभम वासी जालखेड़ी, लक्की वासी बाबैन, तुषार वासी रामपुरा, विरेंद्र वासी कलाल माजरा ने उस पर हमला किया था। बयान पर मामला दर्ज करके जांच करते हुए पुलिस ने आरोपी अंकुश उर्फ लाडी को गिरफ्तार कर लिया। पुलिस ने आरोपी के कब्जे से वारदात में इस्तेमाल दो बिंडे बरामद किए। इसके बाद आरोपी को अदालत में पेश किया गया। अदालत ने आरोपी को जेल भेजने का आदेश दिया। पुलिस के अनुसार अन्य आरोपियों की तलाश में छापे मारे जा रहे हैं।

.


हरियाणा, महाराष्ट्र व कर्नाटक कुश्ती संघ की कार्यकारिणी भंग

एनसीआर के चार जिलों में साल के अंत तक चलेगी 50 इलेक्ट्रिक बसें, दो साल में 200 चलेंगी