युवक ने निगला जहरीला पदार्थ, मौत


ख़बर सुनें

कैरू। सुंगरपुर गांव में संदिग्ध परिस्थितियों ने एक युवक ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। जिससे उसकी मौत हो गई। हादसा रात का है। पूरा परिवार रात को सोया हुआ था। इसी दौरान युवक ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। मृतक गांव सुंगरपुर निवासी युवक प्रवीन राजपूत (20) था। मृतक के पिता लंबे समय से पैरालाईसिस है। मृतक गांव दुल्हेड़ी में खंभे बनाने की फैक्टरी में काम करता था। पिता की तबीयत खराब होने के बाद घर की सारी जिम्मेवारी उसी के कंधों पर थी। सुबह करीब 7 बजे सूचना मिलने पर पुलिस घर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल में पहुंचाया। कैरू पुलिस चौकी के जांच अधिकारी संदीप ने बताया कि सूचना पर पुलिस गांव में पहुंची थी। हालांकि परिजनों व ग्रामीणों के द्वारा किसी के खिलाफ पुलिस कार्रवाई नहीं कराई है। मृतक की माता बबली की शिकायत पर इतेफाकिया मौत की कार्रवाई की है। शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। परिजनों ने गमगीन माहौल में शव का अंतिम संस्कार किया है। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

कैरू। सुंगरपुर गांव में संदिग्ध परिस्थितियों ने एक युवक ने जहरीले पदार्थ का सेवन कर लिया। जिससे उसकी मौत हो गई। हादसा रात का है। पूरा परिवार रात को सोया हुआ था। इसी दौरान युवक ने जहरीला पदार्थ निगल लिया। मृतक गांव सुंगरपुर निवासी युवक प्रवीन राजपूत (20) था। मृतक के पिता लंबे समय से पैरालाईसिस है। मृतक गांव दुल्हेड़ी में खंभे बनाने की फैक्टरी में काम करता था। पिता की तबीयत खराब होने के बाद घर की सारी जिम्मेवारी उसी के कंधों पर थी। सुबह करीब 7 बजे सूचना मिलने पर पुलिस घर पहुंची। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सामान्य अस्पताल में पहुंचाया। कैरू पुलिस चौकी के जांच अधिकारी संदीप ने बताया कि सूचना पर पुलिस गांव में पहुंची थी। हालांकि परिजनों व ग्रामीणों के द्वारा किसी के खिलाफ पुलिस कार्रवाई नहीं कराई है। मृतक की माता बबली की शिकायत पर इतेफाकिया मौत की कार्रवाई की है। शव का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। परिजनों ने गमगीन माहौल में शव का अंतिम संस्कार किया है। युवक की मौत से परिजनों में कोहराम मचा हुआ है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

रंजिशन ई-रिक्शा चालक का रास्ता रोककर की मारपीट

पराली प्रबंधन के लिए नेपाल के वैज्ञानिकों का करेंगे सहयोग : प्रो. कांबोज