in

मिठड़ी व जलालआना में अवैध रूप से चल रहे थे शराब ठेके, मुख्यमंत्री उड़नदस्ते ने मारा छापा


ख़बर सुनें

ओढां। गांव मिठड़ी व जलालआना में शराब ठेकों पर मुख्यमंत्री उड़नदस्ते ने छापा मारा। दस्ते ने ठेकों का रिकॉर्ड की जांच की तो वे अवैध पाए गए। इसके बाद दोनों ठेकों की शराब को कब्जे में ले लिया है।
मुख्यमंत्री उड़नदस्ते के निरीक्षक ईश्वर सिंह को सूचना मिली थी कि ओढां थाना क्षेत्र में शराब के अवैध ठेके बनाकर शराब की बिक्री की जा रही है। टीम ने सर्वप्रथम गांव मिठड़ी में ठेके पर छापा मारा और ठेके का रिकॉर्ड मांगा। हालांकि ठेकेदार कोई रिकॉर्ड प्रस्तुत नहीं कर पाया। टीम ने ठेके में मौजूद देसी व अंग्रेजी शराब को कब्जे में ले लिया।
मिठड़ी के बाद टीम ने गांव जलालआना में शराब ठेके पर दबिश दी। उक्त ठेका भी अवैध रूप से चलता पाया गया। इसके बाद पुलिस ने उक्त ठेके पर मौजूद अंग्रेजी व देसी शराब को भी कब्जे में लेते हुए कार्रवाई ओढां पुलिस को सौंप दी। निरीक्षक ईश्वर सिंह ने बताया कि सूचना के आधार पर उक्त कार्रवाई की गई है। दोनों ठेके अवैध रूप से चलते पाए गए हैं। आगामी कार्रवाई ओढां पुलिस को सौंपी गई है। अधिकारी के मुताबिक ऐसी कार्रवाई भविष्य में भी जारी रहेगी। उड़नदस्ते में उपनिरीक्षक रूप सिंह, एएसआई साधु राम, एचसी अनिल कुमार व एचसी सतपाल सिंह शामिल थे। वहीं, इस कार्रवाई को लेकर ठेकेदारों ने राजनीतिक दबाव बनाने की भी कोशिश की। टीम ने अपनी कार्रवाई पूरी की।

ओढां। गांव मिठड़ी व जलालआना में शराब ठेकों पर मुख्यमंत्री उड़नदस्ते ने छापा मारा। दस्ते ने ठेकों का रिकॉर्ड की जांच की तो वे अवैध पाए गए। इसके बाद दोनों ठेकों की शराब को कब्जे में ले लिया है।

मुख्यमंत्री उड़नदस्ते के निरीक्षक ईश्वर सिंह को सूचना मिली थी कि ओढां थाना क्षेत्र में शराब के अवैध ठेके बनाकर शराब की बिक्री की जा रही है। टीम ने सर्वप्रथम गांव मिठड़ी में ठेके पर छापा मारा और ठेके का रिकॉर्ड मांगा। हालांकि ठेकेदार कोई रिकॉर्ड प्रस्तुत नहीं कर पाया। टीम ने ठेके में मौजूद देसी व अंग्रेजी शराब को कब्जे में ले लिया।

मिठड़ी के बाद टीम ने गांव जलालआना में शराब ठेके पर दबिश दी। उक्त ठेका भी अवैध रूप से चलता पाया गया। इसके बाद पुलिस ने उक्त ठेके पर मौजूद अंग्रेजी व देसी शराब को भी कब्जे में लेते हुए कार्रवाई ओढां पुलिस को सौंप दी। निरीक्षक ईश्वर सिंह ने बताया कि सूचना के आधार पर उक्त कार्रवाई की गई है। दोनों ठेके अवैध रूप से चलते पाए गए हैं। आगामी कार्रवाई ओढां पुलिस को सौंपी गई है। अधिकारी के मुताबिक ऐसी कार्रवाई भविष्य में भी जारी रहेगी। उड़नदस्ते में उपनिरीक्षक रूप सिंह, एएसआई साधु राम, एचसी अनिल कुमार व एचसी सतपाल सिंह शामिल थे। वहीं, इस कार्रवाई को लेकर ठेकेदारों ने राजनीतिक दबाव बनाने की भी कोशिश की। टीम ने अपनी कार्रवाई पूरी की।

.


लापरवाही बरतने पर जेई और बैंक मैनेजर को चार्जशीट करने के निर्देश

बदमाश बोला-ताऊ लेटा रहिये, ना तै गोली मार द्यूंगा, आधे घंटे तक खौफ में रहा बुजुर्ग दंपती