मानूसन सिर पर, ऑटो मार्केट से भैंस फार्म तक मेजर ड्रेन की सफाई बाकी


ख़बर सुनें

हिसार। शहर में मानसून आने में अब सिर्फ 10 दिन ही बचे हैं, जबकि अभी तक बरसाती नालों की सफाई का काम पूरा नहीं हुआ है। जन स्वास्थ्य विभाग की मानें तो वह बरसाती नालों की सफाई का 80 प्रतिशत तक काम पूरा करवा चुके हैं। हालांकि अभी भी कुछ मेजर व माइनर ड्रेन की सफाई बाकी है। इस पर अधिकारियों का कहना है कि वह मानसून से पहले बचा हुआ काम भी पूरा करवा देंगे।
जन स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अगर मेजर ड्रेन की बात करें तो ऑटो मार्केट से बरवाला चुंगी होते हुए भैंस फार्म ड्रेन की सफाई अभी बाकी है। अधिकारियों का दावा है कि वह एक सप्ताह में इसकी सफाई करवा देंगे। वहीं माइनर ड्रेन की बात करें तो फव्वारा चौक से मधुबन पार्क और नागरिक अस्पताल से सेक्टर 14 होते हुए ऋषि नगर ड्रेन की सफाई का काम बचा हुआ है।
हर साल नहीं करवाते माइनर ड्रेन की सफाई –
जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि विभाग हर साल माइनर ड्रेन की सफाई नहीं करवाता, क्योंकि एक साल में ही इनमें सील्ट जमा नहीं होती। वहीं, मेजर ड्रेन की सफाई हर साल करवानी पड़ती है। शहर में करीब 17 किलोमीटर लंबी मेजर ड्रेन हैं।
एक मेजर ड्रेन रह गई थी, उसकी सफाई का काम भी शुरू करवा दिया है। एक सप्ताह में सफाई पूरी हो जाएगी। बारिश में शहर में जलभराव की समस्या नहीं आएगी।
– जसबीर, एसडीओ, जन स्वास्थ्य विभाग।
पार्षद प्रीतम सैनी ने वार्ड की सीवर व बरसाती नालों की सफाई की मांग को लेकर मेयर को सौंपा ज्ञापन
नगर निगम स्थित मेयर कार्यालय में वार्ड 15 पार्षद प्रीतम सैनी ने महापौर गौतम सरदाना से मुलाकात की। पार्षद प्रीतम सैनी ने महापौर गौतम सरदाना को वार्ड 15 में बारिश से पहले के हालातों के बारे में अवगत करवाया। पार्षद प्रीतम सैनी ने कहा कि वार्ड 15 के सुभाष नगर, बैंक कॉलोनी, इंदिरा कॉलोनी, जयदेव नगर में सीवर लाइनें अभी तक पानी से पूर्ण रूप से भरी हुई है, क्योंकि फव्वारा चौक से लेकर डाबड़ा तक की मुख्य लाइन की सफाई जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने नहीं करवाई है। एरिया में अभी से लाइनें भरी होने से लोगों को बरसाती पानी की निकासी नहीं होने का डर सता रहा है। मेयर ने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मुख्य लाइन की जल्द से जल्द सफाई कारवाई जाए। यदि बरसाती पानी की निकासी नहीं हुई तो संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

हिसार। शहर में मानसून आने में अब सिर्फ 10 दिन ही बचे हैं, जबकि अभी तक बरसाती नालों की सफाई का काम पूरा नहीं हुआ है। जन स्वास्थ्य विभाग की मानें तो वह बरसाती नालों की सफाई का 80 प्रतिशत तक काम पूरा करवा चुके हैं। हालांकि अभी भी कुछ मेजर व माइनर ड्रेन की सफाई बाकी है। इस पर अधिकारियों का कहना है कि वह मानसून से पहले बचा हुआ काम भी पूरा करवा देंगे।

जन स्वास्थ्य विभाग के अनुसार अगर मेजर ड्रेन की बात करें तो ऑटो मार्केट से बरवाला चुंगी होते हुए भैंस फार्म ड्रेन की सफाई अभी बाकी है। अधिकारियों का दावा है कि वह एक सप्ताह में इसकी सफाई करवा देंगे। वहीं माइनर ड्रेन की बात करें तो फव्वारा चौक से मधुबन पार्क और नागरिक अस्पताल से सेक्टर 14 होते हुए ऋषि नगर ड्रेन की सफाई का काम बचा हुआ है।

हर साल नहीं करवाते माइनर ड्रेन की सफाई –

जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने बताया कि विभाग हर साल माइनर ड्रेन की सफाई नहीं करवाता, क्योंकि एक साल में ही इनमें सील्ट जमा नहीं होती। वहीं, मेजर ड्रेन की सफाई हर साल करवानी पड़ती है। शहर में करीब 17 किलोमीटर लंबी मेजर ड्रेन हैं।

एक मेजर ड्रेन रह गई थी, उसकी सफाई का काम भी शुरू करवा दिया है। एक सप्ताह में सफाई पूरी हो जाएगी। बारिश में शहर में जलभराव की समस्या नहीं आएगी।

– जसबीर, एसडीओ, जन स्वास्थ्य विभाग।

पार्षद प्रीतम सैनी ने वार्ड की सीवर व बरसाती नालों की सफाई की मांग को लेकर मेयर को सौंपा ज्ञापन

नगर निगम स्थित मेयर कार्यालय में वार्ड 15 पार्षद प्रीतम सैनी ने महापौर गौतम सरदाना से मुलाकात की। पार्षद प्रीतम सैनी ने महापौर गौतम सरदाना को वार्ड 15 में बारिश से पहले के हालातों के बारे में अवगत करवाया। पार्षद प्रीतम सैनी ने कहा कि वार्ड 15 के सुभाष नगर, बैंक कॉलोनी, इंदिरा कॉलोनी, जयदेव नगर में सीवर लाइनें अभी तक पानी से पूर्ण रूप से भरी हुई है, क्योंकि फव्वारा चौक से लेकर डाबड़ा तक की मुख्य लाइन की सफाई जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों ने नहीं करवाई है। एरिया में अभी से लाइनें भरी होने से लोगों को बरसाती पानी की निकासी नहीं होने का डर सता रहा है। मेयर ने जन स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिए कि मुख्य लाइन की जल्द से जल्द सफाई कारवाई जाए। यदि बरसाती पानी की निकासी नहीं हुई तो संबंधित अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

काले कपड़े पहनकर किया योग, अंतरराष्ट्रीय योगा दिवस को ब्लैक योगा डे किया घोषित

मूसेवाला हत्याकांड: कभी बेहतरीन पहलवान था प्रियव्रत, सेना में स्वर्ण पदक जीत बना सूबेदार, पढ़िए शार्प शूटर बनने की कहानी