माता पिता का कहना घर से 10 साल दूर रहने की तपस्या से मिल रही कामयाबी


ख़बर सुनें

पानीपत। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा ने मंगलवार को फिनलैंड में आयोजित टूर्नामेंट ने नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया। नीरज के पिता सतीश चोपड़ा एवं मां सरोज ने अमर उजाला के साथ विशेष बातचीत में बताया कि 10 साल घर से दूर रहने की तपस्या और मेहनत से नीरज को कामयाबी मिल रही है। नीरज ने मंगलवार की रात फिनलैंड में अपना पूर्व रिकार्ड तोड़ दिया।
मां सरोज ने कहा कि नीरज महज 11 साल की उम्र में घर से दूर रहकर खेल का अभ्यास कर रहे हैं। इसका फल अब मिल रहा है। टोक्यो ओलंपिक के बाद नीरज ने अपने पहले टूर्नामेंट में ही रजत पदक प्राप्त करने के साथ ही नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया है। नीरज ने फिनलैंड में पावो नुरमी गेम्स-2022 में मंगलवार को अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया। वहां 89.30 मीटर तक जैवलिन फेंक अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।
लगातार दूसरी बार तोड़ा खुद का रिकॉर्ड
नीरज ने लगातार तीसरे साल अपना खुद का नेशनल रिकॉर्ड तोड़ा। 2020 में नीरज ने अपने नाम 88.06 मीटर का पहला नेशनल रिकॉर्ड बनाया था। इसके बाद पांच मार्च 2021 को ओलंपिक ट्रायल में अपना रिकॉर्ड तोड़कर 88.07 मीटर भाला फेंका। अब फिनलैंड में 89.30 मीटर का नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया है। लगातार तीसरे साल उन्होंने अपना नेशनल रिकॉर्ड बनाया है। नीरज के पिता सतीश चोपड़ा ने कहा कि अभी फिनलैंड में टूर्नामेंट कुछ दिन और चलेंगे।
नीरज से दूसरे थ्रो में 90 की उम्मीद थी। फिर भी उन्होंने नया रिकार्ड बनाया। इस वर्ष वह अपना नया नेशनल रिकॉर्ड बना सकते हैं। टीवी पर खेलता देख काफी खुुशी होती है कि गांव खंडरा का अपना भाई इतना आगे जा रहा है।
– दीपक खंडरा, युवा

पूरा गांव नीरज को देखकर प्रोत्साहित होता है। हमारे गांव में जब भी कोई खिलाड़ी खेलना शुरू करता है तो वह नीरज को ही आदर्श मानता है। वहीं गांव में उनके वीडियो देखकर मोटिवेट होते है।
– वेदपाल, युवा गांव खंडरा

वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी स्वर्ण की उम्मीद
पर्सनल बेस्ट बढ़ाया है। वर्ल्ड चैंपियनशिप में इस वर्ष 90 मीटर क्रॉस कर देने की उम्मीद है। हाइट ज्यादा चली गई नहीं तो 90 मीटर से ज्यादा का थ्रो था। नीरज पूरी कोशिश कर रहे हैं। उम्मीद है कि ओलंपिक की तरह वर्ल्ड चैंपियनशिप में देश के लिए सोना लेकर वापस लौटेंगे।
– जितेंद्र जागलान, नीरज के पहले कोच

पानीपत। ओलंपिक चैंपियन नीरज चोपड़ा ने मंगलवार को फिनलैंड में आयोजित टूर्नामेंट ने नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया। नीरज के पिता सतीश चोपड़ा एवं मां सरोज ने अमर उजाला के साथ विशेष बातचीत में बताया कि 10 साल घर से दूर रहने की तपस्या और मेहनत से नीरज को कामयाबी मिल रही है। नीरज ने मंगलवार की रात फिनलैंड में अपना पूर्व रिकार्ड तोड़ दिया।

मां सरोज ने कहा कि नीरज महज 11 साल की उम्र में घर से दूर रहकर खेल का अभ्यास कर रहे हैं। इसका फल अब मिल रहा है। टोक्यो ओलंपिक के बाद नीरज ने अपने पहले टूर्नामेंट में ही रजत पदक प्राप्त करने के साथ ही नेशनल रिकॉर्ड भी बनाया है। नीरज ने फिनलैंड में पावो नुरमी गेम्स-2022 में मंगलवार को अपना ही राष्ट्रीय रिकॉर्ड तोड़ दिया। वहां 89.30 मीटर तक जैवलिन फेंक अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया।

लगातार दूसरी बार तोड़ा खुद का रिकॉर्ड

नीरज ने लगातार तीसरे साल अपना खुद का नेशनल रिकॉर्ड तोड़ा। 2020 में नीरज ने अपने नाम 88.06 मीटर का पहला नेशनल रिकॉर्ड बनाया था। इसके बाद पांच मार्च 2021 को ओलंपिक ट्रायल में अपना रिकॉर्ड तोड़कर 88.07 मीटर भाला फेंका। अब फिनलैंड में 89.30 मीटर का नया नेशनल रिकॉर्ड बनाया है। लगातार तीसरे साल उन्होंने अपना नेशनल रिकॉर्ड बनाया है। नीरज के पिता सतीश चोपड़ा ने कहा कि अभी फिनलैंड में टूर्नामेंट कुछ दिन और चलेंगे।

नीरज से दूसरे थ्रो में 90 की उम्मीद थी। फिर भी उन्होंने नया रिकार्ड बनाया। इस वर्ष वह अपना नया नेशनल रिकॉर्ड बना सकते हैं। टीवी पर खेलता देख काफी खुुशी होती है कि गांव खंडरा का अपना भाई इतना आगे जा रहा है।

– दीपक खंडरा, युवा



पूरा गांव नीरज को देखकर प्रोत्साहित होता है। हमारे गांव में जब भी कोई खिलाड़ी खेलना शुरू करता है तो वह नीरज को ही आदर्श मानता है। वहीं गांव में उनके वीडियो देखकर मोटिवेट होते है।

– वेदपाल, युवा गांव खंडरा


वर्ल्ड चैंपियनशिप में भी स्वर्ण की उम्मीद

पर्सनल बेस्ट बढ़ाया है। वर्ल्ड चैंपियनशिप में इस वर्ष 90 मीटर क्रॉस कर देने की उम्मीद है। हाइट ज्यादा चली गई नहीं तो 90 मीटर से ज्यादा का थ्रो था। नीरज पूरी कोशिश कर रहे हैं। उम्मीद है कि ओलंपिक की तरह वर्ल्ड चैंपियनशिप में देश के लिए सोना लेकर वापस लौटेंगे।

– जितेंद्र जागलान, नीरज के पहले कोच

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

बच्चों का अच्छी शिक्षा की ओर करें अग्रसर – सुदेश

हनुमान ढाणी में घर में घुसकर की एक परिवार के सदस्यों से मारपीट, दो महिलाओं सहित चार घायल