मांडी कलां में विवाहिता की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत


ख़बर सुनें

उचाना। मांडी कलां गांव में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों के चलते मौत हो गई। मायका पक्ष के लोगों ने ससुरालजनों पर पीट पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया। उचाना थाना पुलिस ने मृतका के भाई की शिकायत पर पति समेत तीन लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।
हिसार जिला के गांव छान निवासी कुलबीर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी छोटी बहन साक्षी की शादी 27 मार्च को गांव मांडी कलां निवासी अमन के साथ हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही दहेज की मांग को लेकर उसकी बहन को प्रताड़ित किया जाने लगा। उसके जीजा अमन ने विदेश जाने के नाम पर उससे 20 लाख की मांग की। हालांकि इस दौरान पंचायतों का दौर भी चला लेकिन ससुरालजन अपनी हरकतों से बाज नहीं आए और उसकी बहन को प्रताड़ित करना जारी रखा। 24 सितंबर को बहन के घर मांडी कलां गए तो बहन बेहोशी की हालात में अपने कमरे में मिली, जिस पर वह तुरंत उसे हिसार के निजी अस्पताल ले आए। रास्ते में उसकी बहन ने बताया था कि अमन और उसके परिवार वालों ने दहेज की मांग को लेकर उसके साथ मारपीट की है। 27 सितंबर को अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी बहन साक्षी की मौत हो गई।
शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि उसकी बहन के शरीर पर चोट के निशान भी थे और ससुरालजनों ने दहेज की मांग पूरी न होने पर उसकी बहन की हत्या की है। उचाना पुलिस ने कुलबीर की शिकायत पर उसके पति अमन, ससुर कृष्ण तथा दादी सास भरपाई के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।
घटना की शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर मृतका के पति समेत तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।
राजेश, जांच अधिकारी

उचाना। मांडी कलां गांव में एक महिला की संदिग्ध परिस्थितियों के चलते मौत हो गई। मायका पक्ष के लोगों ने ससुरालजनों पर पीट पीटकर हत्या करने का आरोप लगाया। उचाना थाना पुलिस ने मृतका के भाई की शिकायत पर पति समेत तीन लोगों के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।

हिसार जिला के गांव छान निवासी कुलबीर ने पुलिस को दी शिकायत में बताया कि उसकी छोटी बहन साक्षी की शादी 27 मार्च को गांव मांडी कलां निवासी अमन के साथ हुई थी। शादी के कुछ दिन बाद ही दहेज की मांग को लेकर उसकी बहन को प्रताड़ित किया जाने लगा। उसके जीजा अमन ने विदेश जाने के नाम पर उससे 20 लाख की मांग की। हालांकि इस दौरान पंचायतों का दौर भी चला लेकिन ससुरालजन अपनी हरकतों से बाज नहीं आए और उसकी बहन को प्रताड़ित करना जारी रखा। 24 सितंबर को बहन के घर मांडी कलां गए तो बहन बेहोशी की हालात में अपने कमरे में मिली, जिस पर वह तुरंत उसे हिसार के निजी अस्पताल ले आए। रास्ते में उसकी बहन ने बताया था कि अमन और उसके परिवार वालों ने दहेज की मांग को लेकर उसके साथ मारपीट की है। 27 सितंबर को अस्पताल में उपचार के दौरान उसकी बहन साक्षी की मौत हो गई।

शिकायतकर्ता ने आरोप लगाया कि उसकी बहन के शरीर पर चोट के निशान भी थे और ससुरालजनों ने दहेज की मांग पूरी न होने पर उसकी बहन की हत्या की है। उचाना पुलिस ने कुलबीर की शिकायत पर उसके पति अमन, ससुर कृष्ण तथा दादी सास भरपाई के खिलाफ दहेज हत्या का मामला दर्ज किया है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

घटना की शिकायत मिली है। शिकायत के आधार पर मृतका के पति समेत तीन लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

राजेश, जांच अधिकारी

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

गोवा के सीएम ने शहीद करनैल सिंह की पत्नी चरणजीत कौर को किया सम्मानित

जमीन बेचने के नाम पर 16 लाख रुपये की धोखाधड़ी