महेंद्रगढ़: नक्सली हमले में शहीद एएसआई शिवलाल की सैनिक सम्मान के साथ अंत्येष्टि, नम आंखों से दी अंतिम विदाई


संवाद न्यूज एजेंसी, महेंद्रगढ़ (हरियाणा)
Published by: भूपेंद्र सिंह
Updated Wed, 22 Jun 2022 11:44 PM IST

ख़बर सुनें

ओडिशा में नक्सली हमले में शहीद हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव पायगा के एएसआई शिवलाल का बुधवार को उनके पैतृक गांव में सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। आसपास के गांवों से सैंकड़ों की संख्या में गणमान्य लोगों ने पहुंचकर अपने लाड़ले को नम आंखों से अंतिम विदाई दी। प्रशासन की ओर से उपायुक्त डॉ. जयकृष्ण आभीर ने शहीद के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद को श्रद्धांजलि दी।

सीआरपीएफ में एएसआई पद पर तैनात शिवलाल ओडिशा में तैनात थे। मंगलवार को रोड पेट्रोलिंग के दौरान नक्सलियों ने चारों ओर से जवानों पर हमला कर दिया। नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों पर हमले के लिए ग्रेनेड लांचर का उपयोग किया था।

इस हमले में तीन जवान शहीद हुए थे जिनमें जिला महेंद्रगढ़ के गांव पायगा के एएसआई शिवलाल भी शामिल हैं। उपायुक्त ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। शहीद शिवलाल अपने पीछे दो पुत्रियां तथा एक पुत्र के अलावा पत्नी शकुंतला को छोड़कर गए हैं।

विस्तार

ओडिशा में नक्सली हमले में शहीद हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव पायगा के एएसआई शिवलाल का बुधवार को उनके पैतृक गांव में सैनिक सम्मान के साथ अंतिम संस्कार किया गया। आसपास के गांवों से सैंकड़ों की संख्या में गणमान्य लोगों ने पहुंचकर अपने लाड़ले को नम आंखों से अंतिम विदाई दी। प्रशासन की ओर से उपायुक्त डॉ. जयकृष्ण आभीर ने शहीद के पार्थिव शरीर पर पुष्प चक्र अर्पित कर शहीद को श्रद्धांजलि दी।

सीआरपीएफ में एएसआई पद पर तैनात शिवलाल ओडिशा में तैनात थे। मंगलवार को रोड पेट्रोलिंग के दौरान नक्सलियों ने चारों ओर से जवानों पर हमला कर दिया। नक्सलियों ने सीआरपीएफ जवानों पर हमले के लिए ग्रेनेड लांचर का उपयोग किया था।

इस हमले में तीन जवान शहीद हुए थे जिनमें जिला महेंद्रगढ़ के गांव पायगा के एएसआई शिवलाल भी शामिल हैं। उपायुक्त ने शोक संतप्त परिवारों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। शहीद शिवलाल अपने पीछे दो पुत्रियां तथा एक पुत्र के अलावा पत्नी शकुंतला को छोड़कर गए हैं।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

झाड़सा गांव में विरोध के बीच हटाया 30 साल पुराना कब्जा

डबवाली में इनेलो व रानिया-ऐलनाबाद में निर्दलिय ने जीती चेयरमैन की कुर्सी