भाजपा-जजपा कार्यकर्ताओं भिड़े, पुलिस को करना पड़ा अलग


ख़बर सुनें

पानीपत। प्रदेश में ढाई साल से गठबंधन सरकार चला रही भाजपा-जजपा के कार्यकर्ता समालखा नगर पालिका चुनाव में मतदान के दौरान कई जगहों पर भिड़ गए। दोनों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए। जजपा ने निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता को खुलकर समर्थन दिया, जिस पर भाजपा के नेता खफा दिखे। यही रविवार को मतदान के दौरान झगड़े की वजह बनी।
पुलिस ने दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं को अलग-थलग कर मतदान केंद्र से बाहर निकाला। दोनों पार्टियों के प्रत्याशियों ने अपनी रिपोर्ट पार्टी को दी है। सुबह साढ़े नौ बजे सीता मातापुरी रोड स्थित बूथ पर पहुंचे भाजपा प्रत्याशी अशोक कुच्छल ने जजपा के कार्यकर्ताओं को मतदान केंद्र से बाहर जाने के लिए कहा। उन्होंने मतदान केंद्र के अधिकारियों और पुलिस से इसकी शिकायत कर आरोप लगाया कि जजपा कार्यकर्ता निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता के समर्थन में मतदान केंद्रों पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। इस पर जजपा कार्यकर्ता भड़क गए। हंगामा शुरू हो गया। पुलिस ने विवाद शांत कराया। इसके बाद बूथ संख्या-14 पर जजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता ने भाजपा पर बाहर से लोगों को बुलाकर मतदाताओं पर दबाव बनाने का आरोप लगाया। इसकी शिकायत अधिकारियों से की गई। इस पर कुच्छल ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को कहीं से भी बुलाया जा सकता है।
लोगों को बरगला रहे थे अशोक गुप्ता के समर्थक : कुच्छल
भाजपा प्रत्याशी अशोक कुच्छल ने कहा कि हम जब बूथ पर पहुंचे तो वहां पर पहले से अशोक गुप्ता के समर्थक लोगों को बरगला रहे थे। यह गलत है। इसका विरोध किया गया। कई जगहों पर ऐसा ही हुआ है।
हम जीत रहे हैं, दूसरे इससे घबरा रहे हैं : गुप्ता
जजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता ने कहा कि हम चुनाव जीत रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी गलत आरोप लगा रहे हैं। वह दिनभर नियम तोड़ते रहे और चिह्न लगाकर मतदान केंद्रों में जाते रहे। बाहर से भी लोगों को बुलाया।

पानीपत। प्रदेश में ढाई साल से गठबंधन सरकार चला रही भाजपा-जजपा के कार्यकर्ता समालखा नगर पालिका चुनाव में मतदान के दौरान कई जगहों पर भिड़ गए। दोनों ने एक दूसरे पर आरोप लगाए। जजपा ने निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता को खुलकर समर्थन दिया, जिस पर भाजपा के नेता खफा दिखे। यही रविवार को मतदान के दौरान झगड़े की वजह बनी।

पुलिस ने दोनों पार्टियों के कार्यकर्ताओं को अलग-थलग कर मतदान केंद्र से बाहर निकाला। दोनों पार्टियों के प्रत्याशियों ने अपनी रिपोर्ट पार्टी को दी है। सुबह साढ़े नौ बजे सीता मातापुरी रोड स्थित बूथ पर पहुंचे भाजपा प्रत्याशी अशोक कुच्छल ने जजपा के कार्यकर्ताओं को मतदान केंद्र से बाहर जाने के लिए कहा। उन्होंने मतदान केंद्र के अधिकारियों और पुलिस से इसकी शिकायत कर आरोप लगाया कि जजपा कार्यकर्ता निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता के समर्थन में मतदान केंद्रों पर लोगों को गुमराह कर रहे हैं। इस पर जजपा कार्यकर्ता भड़क गए। हंगामा शुरू हो गया। पुलिस ने विवाद शांत कराया। इसके बाद बूथ संख्या-14 पर जजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता ने भाजपा पर बाहर से लोगों को बुलाकर मतदाताओं पर दबाव बनाने का आरोप लगाया। इसकी शिकायत अधिकारियों से की गई। इस पर कुच्छल ने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं को कहीं से भी बुलाया जा सकता है।

लोगों को बरगला रहे थे अशोक गुप्ता के समर्थक : कुच्छल

भाजपा प्रत्याशी अशोक कुच्छल ने कहा कि हम जब बूथ पर पहुंचे तो वहां पर पहले से अशोक गुप्ता के समर्थक लोगों को बरगला रहे थे। यह गलत है। इसका विरोध किया गया। कई जगहों पर ऐसा ही हुआ है।

हम जीत रहे हैं, दूसरे इससे घबरा रहे हैं : गुप्ता

जजपा समर्थित निर्दलीय प्रत्याशी अशोक गुप्ता ने कहा कि हम चुनाव जीत रहे हैं। भाजपा प्रत्याशी गलत आरोप लगा रहे हैं। वह दिनभर नियम तोड़ते रहे और चिह्न लगाकर मतदान केंद्रों में जाते रहे। बाहर से भी लोगों को बुलाया।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

सुबह सात बजे शुरू हुई तोबड़तोड़ वोटिंग, दस बजे से 12 बजे तक हुआ कम

मतदाताओं ने ईवीएम में लॉक किया प्रत्याशियों का भाग्य, 78.2 प्रतिशत हुआ मतदान