बाल श्रम करते चार बच्चों को कराया मुक्त, दुकानदारों के खिलाफ केस दर्ज


ख़बर सुनें

शहर में लेबर डिपार्टमेंट की टीम ने स्वीट्स और गन्ने के जूस की दुकान पर काम कर रहे चार नाबालिग बच्चों को मुक्त कराया। लेबर इंस्पेक्टर ने दोनों दुकानदारों के खिलाफ लेबर चाइल्ड एक्ट के तहत केस दर्ज कराया है।
लेबर इंस्पेक्टर जगराम को सूचना मिली थी कि नारनौल रोड पर मोहल्ला कुतुबपुर के सामने एक स्वीट्स की दुकान पर कुछ बाल श्रमिकों से काम कराया जा रहा है। सूचना के बाद स्वीट्स की दुकान पर छापा मारा गया।
इस दौरान वहां दो बच्चे बाल मजदूरी करते मिले। एक की उम्र 15 साल, जो फिरोजाबाद का रहने वाला है व दूसरे की उम्र 14 साल, जो नेपाल का रहने वाला है। दोनों को मुक्त कराने के बाद रामपुरा थाना में दुकानदार रामबिलास के खिलाफ केस दर्ज कराया है।
वहीं दूसरी तरफ स्वीट्स की दुकान से कुछ ही कदम की दूर एक गन्ने के जूस की दुकान पर छापा मारा। यहां भी दो बच्चे को मजदूरी करते मिले। इनकी उम्र भी 14 से 15 साल ही है। दोनों को उनके परिजनों को सौंप दिया है। दुकानदार चंद्रपाल के खिलाफ चाइल्ड लेबर एक्ट के तहत केस दर्ज कराया है।

शहर में लेबर डिपार्टमेंट की टीम ने स्वीट्स और गन्ने के जूस की दुकान पर काम कर रहे चार नाबालिग बच्चों को मुक्त कराया। लेबर इंस्पेक्टर ने दोनों दुकानदारों के खिलाफ लेबर चाइल्ड एक्ट के तहत केस दर्ज कराया है।

लेबर इंस्पेक्टर जगराम को सूचना मिली थी कि नारनौल रोड पर मोहल्ला कुतुबपुर के सामने एक स्वीट्स की दुकान पर कुछ बाल श्रमिकों से काम कराया जा रहा है। सूचना के बाद स्वीट्स की दुकान पर छापा मारा गया।

इस दौरान वहां दो बच्चे बाल मजदूरी करते मिले। एक की उम्र 15 साल, जो फिरोजाबाद का रहने वाला है व दूसरे की उम्र 14 साल, जो नेपाल का रहने वाला है। दोनों को मुक्त कराने के बाद रामपुरा थाना में दुकानदार रामबिलास के खिलाफ केस दर्ज कराया है।

वहीं दूसरी तरफ स्वीट्स की दुकान से कुछ ही कदम की दूर एक गन्ने के जूस की दुकान पर छापा मारा। यहां भी दो बच्चे को मजदूरी करते मिले। इनकी उम्र भी 14 से 15 साल ही है। दोनों को उनके परिजनों को सौंप दिया है। दुकानदार चंद्रपाल के खिलाफ चाइल्ड लेबर एक्ट के तहत केस दर्ज कराया है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

योग रूपी धरोहर को दुनिया ने उत्तम स्वास्थ्य के लिए अपनाया : बिजली मंत्री

सुबह हुई बारिश से मौसम हुआ सुहाना