बहादुरगढ़: 122 किलो 500 ग्राम गांजा के साथ एक गिरफ्तार, गांजा सप्लाई का धंधा करता रहा है आरोपी


ख़बर सुनें

हरियाणा के बहादुरगढ़ में पुलिस की अपराध शाखा ने सोनीपत जिले के निवासी एक युवक को 122 किलो, 500 ग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार किया है। यह व्यक्ति गांजे की तस्करी के आरोप में पहले भी गिरफ्तार हो चुका है। आरोपी दिल्ली, बहादुरगढ़, रोहतक व सोनीपत के एरिया में गांजा सप्लाई का धंधा करता रहा है। 

अपराध जांच शाखा प्रथम बहादुरगढ़ के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि सहायक उप निरीक्षक पुनीत कुमार के नेतृत्व में पुलिस की टीम थाना शहर बहादुरगढ़ क्षेत्र में खुफिया तौर पर तैनात थी। टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि सोनीपत जिले के गांव फरमाना का निवासी वीरेंद्र उर्फ काला नशा तस्करी का धंधा करता है। वह एक स्विफ्ट गाड़ी में काफी मात्रा में नशीला पदार्थ गांजा लिए हुए है और उसे सप्लाई करने के लिए दिल्ली की तरफ से आकर बहादुरगढ़ बाईपास से होते हुए रोहतक, सोनीपत की तरफ जाएगा।

उन्होंने बताया कि सीआईए की टीम गुप्त सूचना के आधार पर सेक्टर-9 बाईपास बहादुरगढ़ नया बस अड्डा के नजदीक पहुंची। बाईपास पर नाकाबंदी करके छोटे वाहनों पर निगाह रखनी शुरू कर दी। इस बीच आई एक स्विफ्ट गाड़ी को टीम में रुकने के लिए इशारा किया तो नाके से कुछ कदम पहले गाड़ी रोककर चालक ने भागने की कोशिश की, जिसे टीम काबू कर लिया।

ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष हुई तलाशी के दौरान गाड़ी की डिग्गी से छह कट्टों (बोरियों) में 122 किलो 500 ग्राम गांजा पाया गया। पुलिस ने गाड़ी सहित उपरोक्त आरोपी को काबू कर लिया। उसके खिलाफ थाना शहर बहादुरगढ़ में मामला दर्ज किया गया।

आरोपी से बरामद गांजा की मार्केट में कीमत लाखों रुपये बताई गई है। मामले की गहन जांच की जा रही है। आरोपी को उप निरीक्षक राजेश कुमार की टीम ने अदालत में पेश किया। अदालत से आरोपी को पूछताछ के लिए 06 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।

अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी दिल्ली, बहादुरगढ़, रोहतक व सोनीपत के एरिया में गांजा सप्लाई का धंधा करता रहा है। उसके खिलाफ दिसंबर 2021 में सदर गोहाना में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ था। जिसमें आरोपी का साथी पकड़ा गया था और वह अभी तक उस मामले में फरार चल रहा है। इसके अतिरिक्त आरोपी के खिलाफ जून 2018 में शराब तस्करी का एक मामला खरखौदा सोनीपत में दर्ज हुआ था। 
-फोटो 4 : गांजा के साथ पकड़ा गया आरोपी सीआईए की टीम के साथ।

विस्तार

हरियाणा के बहादुरगढ़ में पुलिस की अपराध शाखा ने सोनीपत जिले के निवासी एक युवक को 122 किलो, 500 ग्राम गांजे के साथ गिरफ्तार किया है। यह व्यक्ति गांजे की तस्करी के आरोप में पहले भी गिरफ्तार हो चुका है। आरोपी दिल्ली, बहादुरगढ़, रोहतक व सोनीपत के एरिया में गांजा सप्लाई का धंधा करता रहा है। 

अपराध जांच शाखा प्रथम बहादुरगढ़ के प्रभारी निरीक्षक अशोक कुमार ने बताया कि सहायक उप निरीक्षक पुनीत कुमार के नेतृत्व में पुलिस की टीम थाना शहर बहादुरगढ़ क्षेत्र में खुफिया तौर पर तैनात थी। टीम को गुप्त सूचना मिली थी कि सोनीपत जिले के गांव फरमाना का निवासी वीरेंद्र उर्फ काला नशा तस्करी का धंधा करता है। वह एक स्विफ्ट गाड़ी में काफी मात्रा में नशीला पदार्थ गांजा लिए हुए है और उसे सप्लाई करने के लिए दिल्ली की तरफ से आकर बहादुरगढ़ बाईपास से होते हुए रोहतक, सोनीपत की तरफ जाएगा।

उन्होंने बताया कि सीआईए की टीम गुप्त सूचना के आधार पर सेक्टर-9 बाईपास बहादुरगढ़ नया बस अड्डा के नजदीक पहुंची। बाईपास पर नाकाबंदी करके छोटे वाहनों पर निगाह रखनी शुरू कर दी। इस बीच आई एक स्विफ्ट गाड़ी को टीम में रुकने के लिए इशारा किया तो नाके से कुछ कदम पहले गाड़ी रोककर चालक ने भागने की कोशिश की, जिसे टीम काबू कर लिया।

ड्यूटी मजिस्ट्रेट के समक्ष हुई तलाशी के दौरान गाड़ी की डिग्गी से छह कट्टों (बोरियों) में 122 किलो 500 ग्राम गांजा पाया गया। पुलिस ने गाड़ी सहित उपरोक्त आरोपी को काबू कर लिया। उसके खिलाफ थाना शहर बहादुरगढ़ में मामला दर्ज किया गया।

आरोपी से बरामद गांजा की मार्केट में कीमत लाखों रुपये बताई गई है। मामले की गहन जांच की जा रही है। आरोपी को उप निरीक्षक राजेश कुमार की टीम ने अदालत में पेश किया। अदालत से आरोपी को पूछताछ के लिए 06 दिन के पुलिस रिमांड पर लिया गया।

अशोक कुमार ने बताया कि आरोपी दिल्ली, बहादुरगढ़, रोहतक व सोनीपत के एरिया में गांजा सप्लाई का धंधा करता रहा है। उसके खिलाफ दिसंबर 2021 में सदर गोहाना में एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज हुआ था। जिसमें आरोपी का साथी पकड़ा गया था और वह अभी तक उस मामले में फरार चल रहा है। इसके अतिरिक्त आरोपी के खिलाफ जून 2018 में शराब तस्करी का एक मामला खरखौदा सोनीपत में दर्ज हुआ था। 

-फोटो 4 : गांजा के साथ पकड़ा गया आरोपी सीआईए की टीम के साथ।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

असफल होने के बाद विफल होने के कारण आरआर के पूरी तरह से टॉमसन,-कहा टीम से फेल हो गया

आईपीएल 2022 फ़ाइनल: आनुवंशिक रूप से आनुवंशिक रूप से आनुवंशिक