in

बच्चे का अपहरण कर एक करोड़ फिरौती मांगने की थी योजना, क्राइम ब्रांच ने तीन बदमाशों को किया अरेस्ट


गुड़गांवः कार लूट के आरोप में पकड़े गए तीन बदमाशों से पूछताछ में हुए खुलासे से पुलिसवाले भी हैरान हो गए। उन्होंने बताया कि दो कार लूटने का मकसद फर्रुखनगर से प्रॉपर्टी डीलर के बेटे का अपहरण कर एक करोड़ रुपये फिरौती मांगना था पर मां वैष्णो देवी दर्शन पर जाने के कारण वह गुरुवार को ट्यूशन नहीं गया, जिससे योजना फेल हो गई।

दरअसल सेक्टर-10 थाना क्षेत्र में 16 व 25 मई को बदमाशों ने दो कार लूटी। फर्रुखनगर क्राइम ब्रांच इंचार्ज एसआई अमित कुमार की टीम ने गुरुवार को साढराणा के पास से तीन बदमाशों को अरेस्ट किया। इनके पास से लूटी गई दोनों कार, पिस्टल व दो गोली मिली। इनकी पहचान फर्रुखनगर के विनय, खेड़ा झांझरौला गांव के अमित और सुल्तान गांव के तुषार के रूप में हुई। विनय ने कंप्यूटर साइंस में बीएससी किया है। अमित बीएससी तृतीय वर्ष का छात्र है, जबकि तुषार 12वीं पास है। विनय ने अपहरण की योजना बनाई और दोस्तों के साथ इसे फाइनल किया।

वारदात के लिए इन्होंने दो कार लूटी। एक कार से अपहरण करना था जबकि दूसरी में फिरौती की रकम लेने जाना था। कार के नंबर नोट भी हो जाते तो पुलिस को पता चलता कि ये लूट की हैं। इससे आरोपियों की पहचान भी नहीं हो पाती। 4 दिन से ये बच्चे के ट्यूशन आने-जाने के दौरान रेकी कर रहे थे। उसे बेहोश करने के लिए कोल्ड ड्रिंक में नशीली गोलियां भी मिला रखी थीं। गुरुवार को वारदात के लिए निकले पर बच्चा ट्यूशन पढ़ने नहीं आया। इसी बीच पुलिस ने इन्हें काबू कर लिया।

अपहरण के बाद आरोपी बच्चे को सिलेरियो कार की डिग्गी में बंद करने वाले थे। इसके लिए डिग्गी से स्टेपनी भी हटवा दी थी। इसमें तकिया भी रख दिया गया था। बच्चे को नशीली कोल्ड ड्रिंक पिलाने के बाद बेहोशी की हालत में उसे डिग्गी में डालते, फिर कार को एक मॉल के बेसमेंट में बनी पार्किंग में खड़ी कर देते। बच्चे के पिता से रुपये मिलते ही ये कार का पता बता देते। एसीपी क्राइम प्रीतपाल सिंह ने बताया कि 3 आरोपियों को अरेस्ट कर लूटी गई कार बरामद की गई है। पूछताछ में प्रॉपर्टी डीलर के बेटे के अपहरण की साजिश के कारण दोनों कार लूटने का पता चला है।

.


प्राइमा इमरान खान पर देशद्रोह का खेल

चुनाव मैदान 38 फीसदी महिलाएं, सामान्य वार्ड में पुरुषों से होगा मुकाबला