फिर से बेटियों ने मारी बाजी, दसवीं के परिणाम में रहीं टॉप


ख़बर सुनें

बारहवीं कक्षा के परिणाम घोषित होने के बाद तीसरे ही दिन हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने दसवीं कक्षा का परिणाम भी घोषित कर दिया है। इस परिणाम में भी बेटियों ने बाजी मारी है। 492, 491 और 490 अंक प्राप्त कर जिले की तीन बेटियां रिया देवी, साक्षी व नैंसी टॉप थ्री में रहीं हैं। वहीं 489 अंक के साथ कीर्ति ने चौथा स्थान हासिल किया है। परिणाम घोषित होते ही बेटियों के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया। सभी बेटियों ने यह बगैर किसी ट्यूशन के हासिल किया है।
जिले में कुल 11953 विद्यार्थियों ने दसवीं कक्षा की परीक्षा दी थी, जिनमें से 7298 उत्तीर्ण हुए और 1081 की कंपार्टमेंट आई। 61.06 प्रतिशत परिणाम के साथ कुरुक्षेत्र प्रदेश के जिलों में 10वें स्थान पर रहा है। जबकि 85.06 प्रतिशत के साथ सोनीपत पहले और 55.24 प्रतिशत परिणाम के साथ पंचकूला आखिरी नंबर पर रहा। वहीं बुधवार को जारी हुए बारहवीं कक्षा के परिणाम में 63.16 प्रतिशत परिणाम के साथ 17वें नंबर पर रहा था।
हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से परिणाम शाम को पांच बजे जारी की घोषणा की गई थी, लेकिन फिर भी विद्यार्थी सुबह से ही मोबाइल पर बार-बार चेक करते रहे। शाम को पांच बजे जैसे की परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड हुआ तो किसी के चेहरे खुशी से खिले नजर आए, वहीं कुछ कम नंबर आने की वजह से उदास दिखाई दिए।

बारहवीं कक्षा के परिणाम घोषित होने के बाद तीसरे ही दिन हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड ने दसवीं कक्षा का परिणाम भी घोषित कर दिया है। इस परिणाम में भी बेटियों ने बाजी मारी है। 492, 491 और 490 अंक प्राप्त कर जिले की तीन बेटियां रिया देवी, साक्षी व नैंसी टॉप थ्री में रहीं हैं। वहीं 489 अंक के साथ कीर्ति ने चौथा स्थान हासिल किया है। परिणाम घोषित होते ही बेटियों के घर बधाई देने वालों का तांता लग गया। सभी बेटियों ने यह बगैर किसी ट्यूशन के हासिल किया है।

जिले में कुल 11953 विद्यार्थियों ने दसवीं कक्षा की परीक्षा दी थी, जिनमें से 7298 उत्तीर्ण हुए और 1081 की कंपार्टमेंट आई। 61.06 प्रतिशत परिणाम के साथ कुरुक्षेत्र प्रदेश के जिलों में 10वें स्थान पर रहा है। जबकि 85.06 प्रतिशत के साथ सोनीपत पहले और 55.24 प्रतिशत परिणाम के साथ पंचकूला आखिरी नंबर पर रहा। वहीं बुधवार को जारी हुए बारहवीं कक्षा के परिणाम में 63.16 प्रतिशत परिणाम के साथ 17वें नंबर पर रहा था।

हरियाणा विद्यालय शिक्षा बोर्ड की ओर से परिणाम शाम को पांच बजे जारी की घोषणा की गई थी, लेकिन फिर भी विद्यार्थी सुबह से ही मोबाइल पर बार-बार चेक करते रहे। शाम को पांच बजे जैसे की परिणाम बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड हुआ तो किसी के चेहरे खुशी से खिले नजर आए, वहीं कुछ कम नंबर आने की वजह से उदास दिखाई दिए।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पंजाब में अवैध खनन के आरोप में कांग्रेस का पूर्व विधायक गिरफ्तार

जमानती बन हजारों की धोखाधड़ी