in

प्राची यादव ने पैरा वर्ल्‍ड कप में कांस्‍य पदक जीत कर रचा इतिहास, कैनो में पदक जीतने वाली पहली खिलाड़ी बनी


नई दिल्ली. मध्यप्रदेश की पैरा कैनो खिलाड़ी प्राची यादव ने पैरा केनो वर्ड कप में इतिहास रचते हुए भारत को कास्य पदक दिलाया है.इस प्रतियोगिता का आयोजन पौलेंड के पोजनन शहर में किया गया है. प्राची ने महिलाओं के 200 मीटर वीएल-2 इवेंट में यह उपलब्धि हासिल करने में कामयाब रही. इसी के साथ प्राची यादव भारतीय कयाकिंग और कैनोइंग में पदक जीतने वाली भारत की पहली खिलाड़ी बन गई हैं. इससे पहले भी प्राची टोक्‍यो पैरालंपिक में सेमीफाइनल में अपनी जगह बनाने में कामयाब रहीं थी.

प्राची ने 1:04.71 सेकंड्स की टाइमिंग के साथ ब्रॉन्ज पदक पर कब्जा जमाया. कनाडा की ब्रिआना हेनेसी प्राची से आगे रही और 1:01.58 सेकंड की टाइमिंग के साथ सिल्वर मेडल हासिल किया. ऑस्ट्रेलिया की सुजैन साइपेल ने 1:01.54 सेकंड की टाइमिंग के साथ गोल्ड मेडल हासिल किया. भारत की ओर से इस प्रतियोगिता में यह अब तक की सबसे बेहतर परफॉर्मेंस है. इस प्रतियोगिता की शुरुआत 26 मई को हुई थी.

प्राची यादव छोटे तालाब पर पिछले चार सालों से कड़ी ट्रेनिंग ले रही हैं. टोक्‍यो पैरालंपिक के लिए प्राची ने लॉक डाउन में भी स्पेशल परमिशन लेकर अपनी ट्रेनिंग जारी रखी थी. प्राची के कोच मयंक ठाकुर ने उनके प्रदर्शन पर खुशी जताते हुए और तारीफ करते हुए कहा कि वे बहुत मेहनती हैं और अपना पूरा ध्‍यान उन्होंने खेल पर ही फोकस करती हैं.

वहीं बात करें अगर पुरुष वर्ग की तो 200 मीटर रेस के वीएल 2 इवेंट में मंजीत सिंह फाइनल में जगह बनाने में कामयाब रहे. एक अन्य खिलाड़ी जयदीप ने भी 200 मीटर रेस में वीएल 3 इवेंट में भाग लिया और बढ़िया प्रदर्शन करते हुए जयदीप भी सेमीफाइनल तक का सफर तय करने में सफल रहे. टीम के कोच राहुल बुधोलिया हैं.

Tags: Khel News, Sports news

.


हरियाणा: प्रदेश का सबसे ऊंचा घोड़ा गुलबाग नहीं रहा, लग्जरी गाड़ियों की कीमत को भी मात देती थी गुलबाग की कीमत

शासन के आदेश के अनुसार किस तरह के शिक्षक का उल्लंघन करता है?