प्रधानमंत्री को युवाओं की भावनाओं को समझना चाहिए : गहलोत


जयपुर, 19 जून (भाषा) कांग्रेस ने सशस्त्र बलों में संविदा के आधार पर युवाओं की अल्पकालिक भर्ती से जुड़ी केंद्र सरकार की ‘अग्निपथ’ योजना के खिलाफ रविवार को यहां प्रदर्शन किया।

पार्टी ने सरकार से युवाओं और देश के हित को ध्यान में रखते हुए इस योजना को तत्काल वापस लेने की मांग की।

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आरोप लगाया कि सरकार ने जल्दबाजी में फैसला लिया है, जिससे युवाओं और आम लोगों में नाराजगी है।

कांग्रेस के कार्यकर्ता और नेता रविवार को हल्की बारिश के बीच विरोध-प्रदर्शन के लिए अमर ज्योति पर एकत्रित हुए।

अमर जवान ज्योति पर गहलोत ने संवाददाताओं से बातचीत में कहा, ‘‘प्रधानमंत्री को युवाओं की भावनाओं को समझना चाहिए और समय रहते योजना को वापस लेना चाहिए। फैसला बिना किसी चर्चा के जल्दबाजी में लिया गया है, जिसका पूरे देश में विरोध हो रहा है।’’

वहीं, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा ने कहा कि संविदा के आधार पर सैनिकों की भर्ती शुरू करने का फैसला देश विरोधी, जन विरोधी और राष्ट्रीय सुरक्षा के खिलाफ है।

उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘मोदी सरकार जनता के हितों के खिलाफ है। पहले प्रधानमंत्री ने किसानों, व्यापारियों को धोखा दिया और अब वह युवाओं के साथ छल कर रहे हैं। उनकी नीतियां आम लोगों के खिलाफ और पूंजीपतियों के पक्ष में हैं। सरकार को इस योजना को वापस लेना ही होगा।’’

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

फादर्स डे 2022: आनंद महिंद्रा ने ट्विटर पर शेयर किया दिल को छू लेने वाला पोस्ट

राजस्थान में किशोर-किशोरी ने आत्महत्या की