प्रत्याशियों संग पार्टी के तीन सांसदों की प्रतिष्ठा दांव पर


ख़बर सुनें

कैथल। नगर परिषद चुनाव में प्रत्याशियों के साथ ही भाजपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के तीन सांसदों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। तीनों ने अपने प्रत्याशियों को जिताने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। मतदान के बाद मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है, लेकिन आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। परिणाम जो भी हो, लेकिन कैथल की राजनीति में यह गहरा असर डालेगा।
कैथल नगरपालिका में प्रधानी के लिए भाजपा ने सुरेश गर्ग नौच की पुत्रवधू सुरभि गर्ग को प्रत्याशी बनाया है, जिसके लिए लोकसभा सांसद नायब सैनी ने पूरा जोर लगाया है। वहीं राज्यसभा सांसद रणदीप सुरजेवाला ने पूर्व कार्यकारी चेयरमैन रहे डा. पवन थरेजा की पत्नी आदर्श थरेजा को उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने थरेजा के लिए जमकर प्रचार-प्रसार किया।
वहीं आम आदमी पार्टी ने नीलम गुप्ता को चेयरपर्सन का उम्मीदवार बनाया है, जिसके लिए पार्टी से राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता ने जमकर प्रचार किया। आम आदमी पार्टी के चुनाव के दिन दिखे माहौल से अंदाजा लगाया जा रहा है कि आप की वोटों को लेकर लोग जो संभावना जता रहे थे, उससे कहीं ज्यादा वोट प्रत्याशी को मिल सकते हैं, जो जीतने व हारने वाले उम्मीदवारों के समीकरण बिगाड़ सकते हैं।
ये थी ढाई साल पहले हुए विस चुनाव में शहर की वोटिंग स्थिति
विधानसभा चुनाव 2020 में शहर में लगभग 98000 से अधिक वोट थे, जिसमें से 73 हजार 526 लोगों ने वोट डाले थे। इस चुनाव में भाजपा-कांग्रेस के बीच मुकाबला था। जिसमें भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस को शहर के बूथों पर 3552 वोटों से हराया था। भाजपा के विजयी उम्मदीवार रहे विधायक लीला राम को 36915 तो कांग्रेस प्रत्याशी रहे रणदीप सुरजेवाला को शहर में 33363 वोट मिले थे। अब देखना है कि 19 जून को हुई 77 हजार 317 वोटों में से भाजपा-कांग्रेस और आप को कितने-कितने वोट मिलते हैं।

कैथल। नगर परिषद चुनाव में प्रत्याशियों के साथ ही भाजपा, कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के तीन सांसदों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। तीनों ने अपने प्रत्याशियों को जिताने के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी है। मतदान के बाद मुख्य मुकाबला भाजपा और कांग्रेस के बीच माना जा रहा है, लेकिन आम आदमी पार्टी की प्रत्याशी को भी नजरअंदाज नहीं किया जा सकता है। परिणाम जो भी हो, लेकिन कैथल की राजनीति में यह गहरा असर डालेगा।

कैथल नगरपालिका में प्रधानी के लिए भाजपा ने सुरेश गर्ग नौच की पुत्रवधू सुरभि गर्ग को प्रत्याशी बनाया है, जिसके लिए लोकसभा सांसद नायब सैनी ने पूरा जोर लगाया है। वहीं राज्यसभा सांसद रणदीप सुरजेवाला ने पूर्व कार्यकारी चेयरमैन रहे डा. पवन थरेजा की पत्नी आदर्श थरेजा को उम्मीदवार बनाया है। उन्होंने थरेजा के लिए जमकर प्रचार-प्रसार किया।

वहीं आम आदमी पार्टी ने नीलम गुप्ता को चेयरपर्सन का उम्मीदवार बनाया है, जिसके लिए पार्टी से राज्यसभा सांसद सुशील गुप्ता ने जमकर प्रचार किया। आम आदमी पार्टी के चुनाव के दिन दिखे माहौल से अंदाजा लगाया जा रहा है कि आप की वोटों को लेकर लोग जो संभावना जता रहे थे, उससे कहीं ज्यादा वोट प्रत्याशी को मिल सकते हैं, जो जीतने व हारने वाले उम्मीदवारों के समीकरण बिगाड़ सकते हैं।

ये थी ढाई साल पहले हुए विस चुनाव में शहर की वोटिंग स्थिति

विधानसभा चुनाव 2020 में शहर में लगभग 98000 से अधिक वोट थे, जिसमें से 73 हजार 526 लोगों ने वोट डाले थे। इस चुनाव में भाजपा-कांग्रेस के बीच मुकाबला था। जिसमें भारतीय जनता पार्टी ने कांग्रेस को शहर के बूथों पर 3552 वोटों से हराया था। भाजपा के विजयी उम्मदीवार रहे विधायक लीला राम को 36915 तो कांग्रेस प्रत्याशी रहे रणदीप सुरजेवाला को शहर में 33363 वोट मिले थे। अब देखना है कि 19 जून को हुई 77 हजार 317 वोटों में से भाजपा-कांग्रेस और आप को कितने-कितने वोट मिलते हैं।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

यहां गलियां कच्ची, लोग कीचड़ से गुजरने को मजबूर

पांच नए कोरोना संक्रमित मिले