प्रतियोगी परीक्षाओं में तैयारी करवा विद्यार्थियों की करेंगे मजबूत बुनियाद


ख़बर सुनें

यमुनानगर। विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी स्कूल में ही करवाई जाएगी। इसके लिए शिक्षा विभाग की ओर से विद्यार्थियों को विशेष कोचिंग दी जाएगी। इसके लिए बुनियाद योजना शुरू की जा रही है। जिसके तहत नौवीं कक्षा से विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार किया जाएगा।
इस योजना की शुरुआत 30 जून को पंचकूला के इंद्रधनुष ऑडिटोरियम से शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव महावीर सिंह करेंगे। योजना को लेकर अतिरिक्त निदेशक अमृता सिंह ने इस बारे आवश्यक निर्देश दिए। राजकीय विद्यालय के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शुरू से ही तैयार करने के लिए बुनियाद कार्यक्रम योजना बनाई है। इसके लिए प्रदेश भर में कुल 51 बुनियाद केंद्र बनाए गए हैं। सभी केंद्रों पर प्रभारी नियुक्त कर दिए गए हैं। योजना के तहत राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एनटीएसई) और किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (केवीपीवाई) जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाएगी। इस योजना का ट्रायल हो चुका है और 30 जून को यह लॉन्च की जाएगी।
बुनियाद के दौरान कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को विभाग की ओर से सभी सुविधाएं दी जाएंगी। यह विद्यार्थी बुनियाद केंद्र व टैबलेट के जरिए कोचिंग लेंगे। रेवाड़ी इसका मुख्य केंद्र बनाया गया है। जबकि प्रदेश भर में कुल 51 केंद्र स्थापित किए गए हैं। कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को वर्दी, किताबें, टैबलेट, बैग, परिवहन सहित अन्य सभी मूल सुविधाओं विभाग की ओर से दी जाएगी। पहले चरण में मेरिट में रहने वाले चार सौ विद्यार्थियों को दूसरे चरण में एनटीएसई की तैयारी करवाई जाएगी। जबकि शेष विद्यार्थियों को जेईई और नीट की तैयारी करवाई जाएगी।
बाक्स
तीन जुलाई से शुरू होगा पंजीकरण
बुनियाद योजना में कुल दो चरण होंगे, पहले चरण में हर जिले से करीब 200 विद्यार्थी भाग लेंगे। इन विद्यार्थियों को ऑनलाइन कोचिंग दी जाएगी। तीन जुलाई से कोचिंग के लिए पंजीकरण शुरू होगा ओर 18 जुलाई तक होगा। पहले चरण में प्रदेशभर से कुल तीन हजार विद्यार्थियों को शामिल किया जाएगा। यह विद्यार्थी सभी जिलों के 51 बुनियाद केंद्रों में कोचिंग लेंगे। विद्यार्थियों का चयन परीक्षा से किया जाएगा।
——–
वर्जन
विभाग की महत्वाकांक्षी योजना बुनियाद 30 जून को पंचकूला से प्रदेश भर में लांच की जाएगी। इसके लिए 3 से 18 जुलाई तक पंजीकरण होंगे। परीक्षा से विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। चयनित विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग दी जाएगी। इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है।
-पिरथी सैनी, उप जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी।

यमुनानगर। विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी स्कूल में ही करवाई जाएगी। इसके लिए शिक्षा विभाग की ओर से विद्यार्थियों को विशेष कोचिंग दी जाएगी। इसके लिए बुनियाद योजना शुरू की जा रही है। जिसके तहत नौवीं कक्षा से विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए तैयार किया जाएगा।

इस योजना की शुरुआत 30 जून को पंचकूला के इंद्रधनुष ऑडिटोरियम से शिक्षा विभाग के अतिरिक्त मुख्य सचिव महावीर सिंह करेंगे। योजना को लेकर अतिरिक्त निदेशक अमृता सिंह ने इस बारे आवश्यक निर्देश दिए। राजकीय विद्यालय के विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए शुरू से ही तैयार करने के लिए बुनियाद कार्यक्रम योजना बनाई है। इसके लिए प्रदेश भर में कुल 51 बुनियाद केंद्र बनाए गए हैं। सभी केंद्रों पर प्रभारी नियुक्त कर दिए गए हैं। योजना के तहत राष्ट्रीय प्रतिभा खोज परीक्षा (एनटीएसई) और किशोर वैज्ञानिक प्रोत्साहन योजना (केवीपीवाई) जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी करवाई जाएगी। इस योजना का ट्रायल हो चुका है और 30 जून को यह लॉन्च की जाएगी।

बुनियाद के दौरान कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को विभाग की ओर से सभी सुविधाएं दी जाएंगी। यह विद्यार्थी बुनियाद केंद्र व टैबलेट के जरिए कोचिंग लेंगे। रेवाड़ी इसका मुख्य केंद्र बनाया गया है। जबकि प्रदेश भर में कुल 51 केंद्र स्थापित किए गए हैं। कोचिंग लेने वाले विद्यार्थियों को वर्दी, किताबें, टैबलेट, बैग, परिवहन सहित अन्य सभी मूल सुविधाओं विभाग की ओर से दी जाएगी। पहले चरण में मेरिट में रहने वाले चार सौ विद्यार्थियों को दूसरे चरण में एनटीएसई की तैयारी करवाई जाएगी। जबकि शेष विद्यार्थियों को जेईई और नीट की तैयारी करवाई जाएगी।

बाक्स

तीन जुलाई से शुरू होगा पंजीकरण

बुनियाद योजना में कुल दो चरण होंगे, पहले चरण में हर जिले से करीब 200 विद्यार्थी भाग लेंगे। इन विद्यार्थियों को ऑनलाइन कोचिंग दी जाएगी। तीन जुलाई से कोचिंग के लिए पंजीकरण शुरू होगा ओर 18 जुलाई तक होगा। पहले चरण में प्रदेशभर से कुल तीन हजार विद्यार्थियों को शामिल किया जाएगा। यह विद्यार्थी सभी जिलों के 51 बुनियाद केंद्रों में कोचिंग लेंगे। विद्यार्थियों का चयन परीक्षा से किया जाएगा।

——–

वर्जन

विभाग की महत्वाकांक्षी योजना बुनियाद 30 जून को पंचकूला से प्रदेश भर में लांच की जाएगी। इसके लिए 3 से 18 जुलाई तक पंजीकरण होंगे। परीक्षा से विद्यार्थियों का चयन किया जाएगा। चयनित विद्यार्थियों को प्रतियोगी परीक्षाओं के लिए कोचिंग दी जाएगी। इसकी रूपरेखा तैयार की जा रही है।

-पिरथी सैनी, उप जिला मौलिक शिक्षा अधिकारी।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

पीयू केंद्रीयकरण का मुद्दा गरमाया , प्रोफेसर ने हिमाचल की हिस्सेदारी का पक्ष रखा

डॉक्टर की पर्ची बिना दवाई दी तो केमिस्ट पर होगी कार्रवाई : एसपी