पौली गांव में ग्रामीणों ने अंडरपास की मांग को लेकर जींद-रोहतक मार्र्ग पर लगाया जाम


ख़बर सुनें

जुलाना। अंडरपास बनाने की मांग को लेकर पौली गांव में ग्रामीणों ने शुक्रवार को जींद-रोहतक मार्ग पर जाम लगा दिया। करीब एक घंटे तक लगे जाम के दौरान सैकड़ों वाहन फंसे रहे। इसकी जानकारी होते ही जुलाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और उनकी मांग को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने जाम खत्म कर दिया।
जाम लगाने वालों में पौली गांव निवासी संजय, संतोष, सुनीता और राजबीर ने बताया कि गांव में अंडरपास नहीं होने से ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों को सड़क के दूसरी ओर से खेतों से पानी और चारा लाना पड़ रहा है। कई बार पौली गांव में सड़क पार करते समय हादसे भी हो चुके हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव का जलघर भी सड़क की दूसरी तरफ है। इसके अलावा गांव की एक बस्ती भी दूसरी ओर पड़ती है। ऐसे में ग्रामीणों को दूसरी ओर जाने में दो किलोमीटर का सफर तय करना पड़ रहा है। ग्रामीणों की मांग है कि पौली गांव में अंडरपास बनाया जाए ताकि उन्हें परेशानियों से निजात मिल सके। जाम लगने की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे और जाम को खुलवाया।
बाक्स
जाम की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। ग्रामीणों को समझाया गया कि वे अंडरपास की मांग को लेकर उच्चाधिकारियों से मिलें और अपनी समस्या से अवगत करवाएं। सड़क जाम करना गैर कानूनी है। इस पर ग्रामीण मान गए और जाम को खोल दिया।-समरजीत थाना प्रभारी जुलाना।

जुलाना। अंडरपास बनाने की मांग को लेकर पौली गांव में ग्रामीणों ने शुक्रवार को जींद-रोहतक मार्ग पर जाम लगा दिया। करीब एक घंटे तक लगे जाम के दौरान सैकड़ों वाहन फंसे रहे। इसकी जानकारी होते ही जुलाना पुलिस मौके पर पहुंच गई और उनकी मांग को उच्चाधिकारियों तक पहुंचाने का आश्वासन दिया। इसके बाद ग्रामीणों ने जाम खत्म कर दिया।

जाम लगाने वालों में पौली गांव निवासी संजय, संतोष, सुनीता और राजबीर ने बताया कि गांव में अंडरपास नहीं होने से ग्रामीणों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। ग्रामीणों को सड़क के दूसरी ओर से खेतों से पानी और चारा लाना पड़ रहा है। कई बार पौली गांव में सड़क पार करते समय हादसे भी हो चुके हैं। ग्रामीणों ने बताया कि गांव का जलघर भी सड़क की दूसरी तरफ है। इसके अलावा गांव की एक बस्ती भी दूसरी ओर पड़ती है। ऐसे में ग्रामीणों को दूसरी ओर जाने में दो किलोमीटर का सफर तय करना पड़ रहा है। ग्रामीणों की मांग है कि पौली गांव में अंडरपास बनाया जाए ताकि उन्हें परेशानियों से निजात मिल सके। जाम लगने की सूचना मिलते ही थाना प्रभारी पुलिस बल के साथ गांव में पहुंचे और जाम को खुलवाया।

बाक्स

जाम की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंच गई थी। ग्रामीणों को समझाया गया कि वे अंडरपास की मांग को लेकर उच्चाधिकारियों से मिलें और अपनी समस्या से अवगत करवाएं। सड़क जाम करना गैर कानूनी है। इस पर ग्रामीण मान गए और जाम को खोल दिया।-समरजीत थाना प्रभारी जुलाना।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

जिले में कोरोना का एक केस मिला, 13 मामले सक्रिय

चूरा पोस्त सप्लायर काबू, भेजा जेल