पालिका बाजार की दुकान में लगी आग


ख़बर सुनें

रोहतक। शहर के पालिका बाजार में शनिवार की रात को करीब 12 बजे तीन मंजिला इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान में आग लग गई, जिसकी चपेट में आने से लाखों रुपये के एससी, वाशिंग मशीन, एलईईडी व दूसरे उपकरण जलकर राख हो गए। फायर ब्रिगेड ने दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फायर कर्मियों के पास धुएं से बचाव के मास्क न होने के कारण आग बुझाने में काफी दिक्कत आई। रविवार को हादसे की सूचना पाकर पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर व व्यापारी नेता बाजार में पहुंचे और दुकानदार को सांत्वना दी।
पालिका बाजार के प्रधान गुलशन निझावन ने बताया कि डीएलएफ कॉलोनी निवासी पीयूष गोयल की पालिका बाजार में तीन मंजिला इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान है। रात को करीब 12 बजे बाजार के चौकीदार ने देखा कि दुकान के अंदर आग लगी हुई है और तीसरी मंजिल से धुआं निकल रहा है। तत्काल उसने दुकानदार को फोन किया। दुकानदार पीयूष ने सबसे पहले फायर ब्रिगेड को सूचना दी। पालिका बाजार व दूसरे दुकानदार भी मौके पर आ गए। फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची और दरवाजा खोलकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन गहरा धुआं होने के कारण अंदर घुसने में काफी दिक्कत आई। दुकानदारों ने बताया कि फायर कर्मियों के पास धुएं से बचाव के मास्क नहीं थे। इस कारण फायरकर्मी अंदर तक जल्दी नहीं घुस सके। पहले उन्होंने बौछारों से आग पर काबू पाने का प्रयास किया। करीब दो घंटे बाद रात 2 बजे आग बुझ सकी। दुकानदार ने रविवार को देखा तो दुकान के अंदर लगे एससी, बिक्री के लिए लगे एससी, वाशिंग मशीन, एलईईडी व दुकान का रिकॉर्ड जलकर नष्ट हो चुका था। बताया जा रहा है कि दुकानदार को 20 लाख के करीब का नुकसान होने की आशंका है।

रोहतक। शहर के पालिका बाजार में शनिवार की रात को करीब 12 बजे तीन मंजिला इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान में आग लग गई, जिसकी चपेट में आने से लाखों रुपये के एससी, वाशिंग मशीन, एलईईडी व दूसरे उपकरण जलकर राख हो गए। फायर ब्रिगेड ने दो घंटे की मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया। फायर कर्मियों के पास धुएं से बचाव के मास्क न होने के कारण आग बुझाने में काफी दिक्कत आई। रविवार को हादसे की सूचना पाकर पूर्व मंत्री मनीष ग्रोवर व व्यापारी नेता बाजार में पहुंचे और दुकानदार को सांत्वना दी।

पालिका बाजार के प्रधान गुलशन निझावन ने बताया कि डीएलएफ कॉलोनी निवासी पीयूष गोयल की पालिका बाजार में तीन मंजिला इलेक्ट्रॉनिक्स की दुकान है। रात को करीब 12 बजे बाजार के चौकीदार ने देखा कि दुकान के अंदर आग लगी हुई है और तीसरी मंजिल से धुआं निकल रहा है। तत्काल उसने दुकानदार को फोन किया। दुकानदार पीयूष ने सबसे पहले फायर ब्रिगेड को सूचना दी। पालिका बाजार व दूसरे दुकानदार भी मौके पर आ गए। फायर ब्रिगेड की दो गाड़ियां मौके पर पहुंची और दरवाजा खोलकर आग पर काबू पाने का प्रयास किया, लेकिन गहरा धुआं होने के कारण अंदर घुसने में काफी दिक्कत आई। दुकानदारों ने बताया कि फायर कर्मियों के पास धुएं से बचाव के मास्क नहीं थे। इस कारण फायरकर्मी अंदर तक जल्दी नहीं घुस सके। पहले उन्होंने बौछारों से आग पर काबू पाने का प्रयास किया। करीब दो घंटे बाद रात 2 बजे आग बुझ सकी। दुकानदार ने रविवार को देखा तो दुकान के अंदर लगे एससी, बिक्री के लिए लगे एससी, वाशिंग मशीन, एलईईडी व दुकान का रिकॉर्ड जलकर नष्ट हो चुका था। बताया जा रहा है कि दुकानदार को 20 लाख के करीब का नुकसान होने की आशंका है।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

हरियाणा निकाय चुनाव: छह मंत्रियों और 34 विधायकों की प्रतिष्ठा दांव पर, आप भी तलाशना चाहती सियासी जमीन

आर्थिक संकट के बीच पेट्रोल पंप पर चाय पिलाता नजर आया श्रीलंका का विश्व कप विजेता खिलाड़ी