पांच प्रश्न हल करने का दिया जाए अवसर


ख़बर सुनें

जींद। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाओं में कोई भी पांच प्रश्न हल करने की मांग को लेकर वीरवार को चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रणपाल राणा को ज्ञापन सौंपा। युवाओं ने मांग की कि इस प्रकार नियम पहले भी लागू हो चुका है, इसलिए इसे छात्रहित में लागू किया जाए। कुलपति ने विद्यार्थियों को आश्वासन दिया कि वह जल्द ही मामले में बैठक लेकर कोई फैसला लेंगे। जो छात्रहित में होगा, वहीं फैसला लिया जाएगा।
एबीवीपी के सोशल मीडिया सह-संयोजक रोहन सैनी ने बताया कि सीआरएसयू में जुलाई माह में स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाएं शुरू होंगी। कोरोना के कारण इस वर्ष भी जनवरी व फरवरी महीने में कक्षाएं काफी प्रभावित रही। विश्वविद्यालय इकाई उपाध्यक्ष शशि नरवाल ने बताया कि कोरोना के कारण परीक्षाओं का समय आगे बढ़ गया था, लेकिन इस बार विवि प्रशासन परीक्षाओं को पहले करवा रहा है। अब जुलाई में परीक्षाएं होने के कारण उनको पाठ्यक्रम पूरा करने में समस्या आ रही है। इसलिए छात्रहित में स्नातक तथा स्नातकोत्तर परीक्षाओं में कोई भी पांच प्रश्न हल करने की छूट दी जानी चाहिए। इस मौके पर महिमा, ज्योति, अभिषेक, नवीन मलिक, सपना सोनम आदि मौजूद रहे।

जींद। अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद ने स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाओं में कोई भी पांच प्रश्न हल करने की मांग को लेकर वीरवार को चौधरी रणबीर सिंह विश्वविद्यालय के कुलपति प्रोफेसर रणपाल राणा को ज्ञापन सौंपा। युवाओं ने मांग की कि इस प्रकार नियम पहले भी लागू हो चुका है, इसलिए इसे छात्रहित में लागू किया जाए। कुलपति ने विद्यार्थियों को आश्वासन दिया कि वह जल्द ही मामले में बैठक लेकर कोई फैसला लेंगे। जो छात्रहित में होगा, वहीं फैसला लिया जाएगा।

एबीवीपी के सोशल मीडिया सह-संयोजक रोहन सैनी ने बताया कि सीआरएसयू में जुलाई माह में स्नातक व स्नातकोत्तर की परीक्षाएं शुरू होंगी। कोरोना के कारण इस वर्ष भी जनवरी व फरवरी महीने में कक्षाएं काफी प्रभावित रही। विश्वविद्यालय इकाई उपाध्यक्ष शशि नरवाल ने बताया कि कोरोना के कारण परीक्षाओं का समय आगे बढ़ गया था, लेकिन इस बार विवि प्रशासन परीक्षाओं को पहले करवा रहा है। अब जुलाई में परीक्षाएं होने के कारण उनको पाठ्यक्रम पूरा करने में समस्या आ रही है। इसलिए छात्रहित में स्नातक तथा स्नातकोत्तर परीक्षाओं में कोई भी पांच प्रश्न हल करने की छूट दी जानी चाहिए। इस मौके पर महिमा, ज्योति, अभिषेक, नवीन मलिक, सपना सोनम आदि मौजूद रहे।

.


What do you think?

Written by Haryanacircle

गहलोत ने नए प्रारूप के साथ अभियान शुरू करने के दिए निर्देश

Punjab Budget Session: आज से शुरू हो रहा पंजाब का बजट सत्र, सदन में सुनाई देगी सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड की गूंज