in

पर्याप्त बिजली न मिलने पर किसानों ने बंद किया उपकेंद्र का गेट, खड़ा किया ट्रैक्टर


ख़बर सुनें

गोहाना। खेतों में पर्याप्त बिजली न मिलने से गुस्साए किसानों ने मंगलवार को महम रोड स्थित 132 केवीए के उपकेंद्र पहुंचकर प्रदर्शन किया। बाद में उपकेंद्र का गेट बंद कर उसके सामने ट्रैक्टर खड़ा कर दिया। किसानों द्वारा सब स्टेशन का गेट बंद करने की सूचना पर एक्सईएन संदीप कुंडू व पुलिस पहुंची। उन्होंने किसानों को समझाकर गेट खोलने की बात कही। किसानों ने कहा कि धान रोपाई का समय है, लेकिन कृषि फीडरों पर शेड्यूल के अनुसार निर्धारित आठ घंटे भी बिजली नहीं मिल रही। इससे खेतों की सिंचाई नहीं कर पा रहे। अधिकारियों ने समाधान का आश्वासन दिया। उसके बाद ही किसानों ने गेट खोला। किसानों ने मुख्यमंत्री व बिजली मंत्री के नाम मांगों संबंधी ज्ञापन एक्सईएन संदीप कुंडू को सौंपा।
भारतीय किसान यूनियन चढूनी से जुड़े क्षेत्र के किसान मंगलवार सुबह करीब 11 बजे महम रोड स्थित 132 केवी के सब स्टेशन पहुंचे और सब स्टेशन परिसर में धरना दिया। यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि अप्रैल में गेहूं की कटाई के दौरान दिन में कृषि फीडरों पर बिजली सप्लाई बंद की गई थी। गेहूं की कटाई होने के बाद कृषि फीडरों पर रोजाना पांच घंटे बिजली दी जा रही है। इन पांच घंटों में भी अघोषित कट लगते रहते हैं। जबकि शेड्यूल आठ घंटे का निर्धारित है। इस दौरान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल व यूनियन के जिला अध्यक्ष अशोक लठवाल के साथ ही अन्य सदस्यों ने कहा कि खेतों में पर्याप्त बिजली न मिलने से किसान फसलों की सिंचाई नहीं कर पा रहे। मौके पर पहुंचे बिजली निगम के एक्सईएन संदीप कुंडू व शहर थाना प्रभारी बदन सिंह ने किसानों को समझा कर गेट खुलवाया।

गोहाना। खेतों में पर्याप्त बिजली न मिलने से गुस्साए किसानों ने मंगलवार को महम रोड स्थित 132 केवीए के उपकेंद्र पहुंचकर प्रदर्शन किया। बाद में उपकेंद्र का गेट बंद कर उसके सामने ट्रैक्टर खड़ा कर दिया। किसानों द्वारा सब स्टेशन का गेट बंद करने की सूचना पर एक्सईएन संदीप कुंडू व पुलिस पहुंची। उन्होंने किसानों को समझाकर गेट खोलने की बात कही। किसानों ने कहा कि धान रोपाई का समय है, लेकिन कृषि फीडरों पर शेड्यूल के अनुसार निर्धारित आठ घंटे भी बिजली नहीं मिल रही। इससे खेतों की सिंचाई नहीं कर पा रहे। अधिकारियों ने समाधान का आश्वासन दिया। उसके बाद ही किसानों ने गेट खोला। किसानों ने मुख्यमंत्री व बिजली मंत्री के नाम मांगों संबंधी ज्ञापन एक्सईएन संदीप कुंडू को सौंपा।

भारतीय किसान यूनियन चढूनी से जुड़े क्षेत्र के किसान मंगलवार सुबह करीब 11 बजे महम रोड स्थित 132 केवी के सब स्टेशन पहुंचे और सब स्टेशन परिसर में धरना दिया। यूनियन के राष्ट्रीय अध्यक्ष गुरनाम सिंह चढूनी ने कहा कि अप्रैल में गेहूं की कटाई के दौरान दिन में कृषि फीडरों पर बिजली सप्लाई बंद की गई थी। गेहूं की कटाई होने के बाद कृषि फीडरों पर रोजाना पांच घंटे बिजली दी जा रही है। इन पांच घंटों में भी अघोषित कट लगते रहते हैं। जबकि शेड्यूल आठ घंटे का निर्धारित है। इस दौरान यूनियन के प्रदेश उपाध्यक्ष सत्यवान नरवाल व यूनियन के जिला अध्यक्ष अशोक लठवाल के साथ ही अन्य सदस्यों ने कहा कि खेतों में पर्याप्त बिजली न मिलने से किसान फसलों की सिंचाई नहीं कर पा रहे। मौके पर पहुंचे बिजली निगम के एक्सईएन संदीप कुंडू व शहर थाना प्रभारी बदन सिंह ने किसानों को समझा कर गेट खुलवाया।

.


राजस्थानी गर्म हवाएं झुलसा रहीं तन, 44.7 डिग्री सेल्सियस पर पहुंचा पारा

घर बुलाकर बनाई अश्लील वीडियो, ब्लैकमेल कर मांगे दो लाख रुपये