in

परिवार को बिना बताए जयपुर घूमने निकले 3 दोस्त, 2 की मौत, KMP पर मोकलवास गांव के पास ट्रॉल में पीछे से टकराई बाइक


गुड़गांव: परिवार को बिना बताए जयपुर घूमने निकले तीन दोस्तों को क्या पता था कि वे एक साथ कभी घर नहीं लौट पाएंगे। करनाल से बाइक पर सवार होकर निकले 3 दोस्तों की बाइक केएमपी पर मोकलवास गांव के पास अंधेरे में आगे चल रहे ट्रॉल से टकरा गई। इस हादसे में घायल हुए दो युवकों ने शनिवार को इलाज के दौरान दम तोड़ दिया, जबकि तीसरी को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर किया गया है। आरोप है कि ट्रॉला बहुत धीमी गति से चल रहा था, जो कि अंधेरा ज्यादा होने के कारण युवकों को दिखाई नहीं दिया।

केएमपी पर यह हादसा शुक्रवार देर रात करीब 11 बजे हुआ। सड़क पर घायल पड़े बाइक सवार तीन युवकों को देख राहगीरों ने पुलिस को सूचना दी। ईआरवी पुलिस मौके पर पहुंची और ऐम्बुलेंस बुलाकर तीनों घायलों को इलाज के लिए सेक्टर-10 के सिविल अस्पताल में भर्ती कराया। यहां गंभीर रूप से घायल दो युवकों की मौत हो गई, जबकि तीसरे को घायल हालत में दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल रेफर कर दिया गया। घायल अंकित करनाल के गांव शामगढ़ का रहने वाला है। वो अपने गांव के दो युवकों 19 साल के आर्यन व 17 साल के गुरमीत के साथ स्पलैंडर बाइक पर सवार होकर करनाल से जयपुर जा रहे थे।

अंधेरे में नही दिखा ट्रॉला
देर रात केएमपी पर अंधेरे में आगे चल रहा ट्रॉला दिखाई नहीं दिया। ट्रॉला काफी धीमी स्पीड से चल रहा था, जिस कारण बाइक पीछे से टकरा गई। बाइक को आर्यन चला रहा था। गुरमीत बीच में बैठा था और अंकित सबसे पीछे। हादसे की सूचना पाकर परिवार के लोग गुड़गांव पहुंचे। अंकित के चाचा बालकिशन के बयान पर शनिवार शाम बिलासपुर थाने में अज्ञात ट्रॉला चालक के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। थाना पुलिस की टीम अब मामले में कार्रवाई कर रही है।

घर से बिना बताए निकले थे जयपुर घूमने
जांच में सामने आया कि तीनों दोस्त करनाल में अपने परिवार को बगैर बताए जयपुर घूमने निकल पड़े थे। तीनों ही पढ़ाई नहीं करते और घर पर ही रहते हैं। शुक्रवार शाम को तीनों ने अचानक जयपुर घूमने का प्लान बना लिया। आर्यन अपनी स्पलैंडर बाइक घर से ले आया और तीनों बाइक पर ही जयपुर निकल पड़े।

.


राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद-संत कबीर ने समाज को समरूपता और समासता का रास्ता

Aravali Forest: अरावली की हरियाली बचाने की मुहिम रंग लाई, NGT ने दिए जांच के आदेश