in

परियोजना राज्य का हक, काम नहीं रुकेगा: ईआरसीपी पर बोले गहलोत


जयपुर, छह जुलाई (भाषा) राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पूर्वी राजस्थान नहर परियोजना (ईआरसीपी) को लेकर बुधवार को केंद्र सरकार पर निशाना साधा और कहा कि इस परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा मिलना राज्य का हक है। इसके साथ ही गहलोत ने कहा कि अगर केंद्र सरकार इस परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा नहीं देती है तो भी इसे पूरा किया जाएगा।

मुख्यमंत्री यहां ईआरसीपी पर कांग्रेस जनप्रतिनिधि सम्मेलन (केंद्र सरकार से ईआरसीपी को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा देने की मांग) को संबोधित कर रहे थे।

गहलोत ने अपने संबोधन में कहा,‘‘ भारत सरकार ने इसे राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा नहीं दिया तो भी राज्य सरकार इसे पूरा करेगी।’

उन्होंने कहा कि पार्टी इस योजना को लेकर हस्ताक्षर अभियान चलाएगी और आम जनता को इससे जोड़गी ताकि प्रधानमंत्री पर दबाव पड़े और उन्हें इसे राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा देना पड़े।

उन्होंने कहा, ‘‘हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व गृहमंत्री अमित शाह से कहना चाहते हैं कि इसमें हमारी कोई राजनीति नहीं है। हम चाहते हैं कि 13 जिलों के लिए महत्वपूर्ण इस योजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा मिले।’’

उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री ने दो बार, जयपुर और अजमेर में बैठक में इस परियोजना पर संवेदनशीलता व सकारात्मक रूख से विचार करने की घोषणा की थी, लेकिन इसके बाद कुछ नहीं हुआ।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अपने सीमित संसाधनों के बावजूद राज्य सरकार ने इस परियोजना पर काम जारी रखा है।

उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार व मुख्यमंत्री लगातार ईआरसीपी को राष्ट्रीय परियोजना को दर्जा दिए जाने की मांग कर रहे हैं। परियोजना 37000 करोड़ रुपये से अधिक की है इससे राज्य के 13 जिलों में पेयजल उपलब्धता सुनिश्चित होगी।

उन्होंने कहा कि देश में 16 परियोजनाओं को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा मिला है तो क्या राजस्थान की एक परियोजना को ऐसा दर्जा नहीं मिल सकता। उन्होंने कहा, ‘‘हम भीख नहीं मांग रहे, हमारा हक मांग रहे हैं।’’

केंद्र सरकार द्वारा इस परियोजना पर काम बंद करने को लेकर राज्य को पत्र लिखे जाने का जिक्र करते हुए गहलोत ने कहा कि परियोजना पर काम बंद नहीं होगा।

अपने संबोधन में गहलोत ने इस परियोजना को राष्ट्रीय परियोजना का दर्जा नहीं दिलवा पाने के लिए राज्य से राष्ट्रीय जनतांत्रिक गंठबंधन (राजग) के 25 सांसदों, विशेषकर केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत पर भी निशाना साधा।

सम्मेलन को अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के महासचिव व राजस्थान प्रभारी अजय माकन, कांग्रेस की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष गोविंद सिंह डोटासरा, राज्य सरकार में मंत्री महेश जोशी, प्रताप सिंह खाचरियावास, गोविंद मेघवाल सहित अनेक नेताओं ने संबोधित किया।

प्रस्तावित ईआरसीपी योजना से लाभान्वित होने वाले जिले भरतपुर, अलवर, कोटा, बारां, झालावाड़, सवाईमाधोपुर, टोंक, अजमेर, जयपुर, दौसा, करौली, बूंदी एवं धौलपुर के कांग्रेस विधायक व अन्य जनप्रतिनिधि इस कार्यक्रम में शामिल हुए।

.


Sidhu Moose Wala Murder: सिद्धू मूसेवाला को AK-47 से मारी पहली गोली, गोल्‍डी बराड़ ने दी थी शूटर मनप्रीत को बंदूक

Bhagwant Mann: भगवंत मान करने जा रहे दूसरी शादी, जानें कौन हैं पंजाब सीएम की दुलहनियां डॉ. गुरप्रीत कौर