in

नैना बरसे रिम झिम रिम झिम… गीत पर झूमे


ख़बर सुनें

करनाल। वॉइस ऑफ इंडिया संस्था की ओर से भारत रत्न स्वर कोकिला लता मंगेशकर को करनाल क्लब में उन्हीं के गीतों से श्रद्धांजलि दी गई। कलाकारों को लता मंगेशकर अवॉर्ड से नवाजा गया। नव चेतना मंच के समन्वयक एसपी चौहान, प्राचार्य डॉ. गुरिंद्र सिंह, गुलमोहर बाग के निदेशक मनोज गुप्ता व कपिल गुप्ता ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम शुरू किया।
अमृत पाल और मनिंदर ने वादा कर ले साजना… गीत गाकर समा बांध दिया। संगीत की शिक्षा प्राप्त कर रहे केशव और बानी ने ये दिल तुम बिन कहीं लगता नही… गीत गाकर वाहवाही लूटी। उभरती कलाकार शालू ने अपने अनोखे अंदाज में बिंदिया चमकेगी… गीत सुनाकर श्रोताओं की तालियां बटोरी। गायक डॉ. अभय सूद ने ये समा समा है ये प्यार का… गीत मनमोहक अंदाज में सुनाया। वॉइस ऑफ इंडिया के सदस्य और आकाशवाणी कलाकार चंद्र मेहता ने नैना बरसे रिम झिम रिम झिम.. गीत सुनाया।
पूर्व बैंकर अशोक महेंद्रू ने साजन मेरा उस पार है.. गीत गाया। चंडीगढ़ से पधारे अमृत पाल सिंह ने वादियां मेरा दामन रास्ते मेरी बाहें… गुनगुनाया। छात्रा अन्नू बत्रा ने शास्त्रीय संगीत आधारित गीत मो से छल किए जाए… सुनाया। पानीपत सिविल अस्पताल में कार्यरत नेत्र विशेषज्ञ डॉ. शालिनी मेहता ने कार्यक्रम का टाइटल गीत रहें ना रहें हम महका करेंगे बन के कली बन के सबा… गाकर श्रोताओं को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया। नव चेतना मंच के संयोजक एसपी चौहान ने आदमी मुसाफिर है… गीत सुना के तालियां बटोरी।
उत्तर भारत में लता मंगेशकर और मोहम्मद रफी के गीतों को जीवंत अंदाज में पेश करने वाले दिलशाद अहमद और मनिंदर बब्बू ने आशाओं के सावन में और जिंदगी प्यार का गीत है… गाया।
कार्यक्रम का संचालन रेडियो उद्घोषक एवं वॉइस ऑफ इंडिया के महासचिव महेश शर्मा ने किया। अध्यक्ष डॉ. कृष्ण अरोड़ा ने बताया कि आगामी 31 जुलाई को मोहम्मद रफी नाइट को बड़े स्तर पर आयोजित किया जाएगा। जिसमें बॉलीवुड की हस्तियों को भी बुलाने का प्रयास किया जाएगा।
इस अवसर पर आर्जव शर्मा, वीरेंद्र लाडी, केएल सोढ़ी, अजय शर्मा, अनिल भग , डॉ. वीके सिंगला, डॉ. अशोक गुप्ता, प्रितपाल सिंह पन्नू, नरेश अरोड़ा, रीना अरोड़ा, अशोक अरोड़ा, राज अरोड़ा, ओमप्रकाश, सुकांत, राकेश वर्मा, राजीव गाबा व शाम अरोड़ा मौजूद रहे।

करनाल। वॉइस ऑफ इंडिया संस्था की ओर से भारत रत्न स्वर कोकिला लता मंगेशकर को करनाल क्लब में उन्हीं के गीतों से श्रद्धांजलि दी गई। कलाकारों को लता मंगेशकर अवॉर्ड से नवाजा गया। नव चेतना मंच के समन्वयक एसपी चौहान, प्राचार्य डॉ. गुरिंद्र सिंह, गुलमोहर बाग के निदेशक मनोज गुप्ता व कपिल गुप्ता ने दीप प्रज्ज्वलित कर कार्यक्रम शुरू किया।

अमृत पाल और मनिंदर ने वादा कर ले साजना… गीत गाकर समा बांध दिया। संगीत की शिक्षा प्राप्त कर रहे केशव और बानी ने ये दिल तुम बिन कहीं लगता नही… गीत गाकर वाहवाही लूटी। उभरती कलाकार शालू ने अपने अनोखे अंदाज में बिंदिया चमकेगी… गीत सुनाकर श्रोताओं की तालियां बटोरी। गायक डॉ. अभय सूद ने ये समा समा है ये प्यार का… गीत मनमोहक अंदाज में सुनाया। वॉइस ऑफ इंडिया के सदस्य और आकाशवाणी कलाकार चंद्र मेहता ने नैना बरसे रिम झिम रिम झिम.. गीत सुनाया।

पूर्व बैंकर अशोक महेंद्रू ने साजन मेरा उस पार है.. गीत गाया। चंडीगढ़ से पधारे अमृत पाल सिंह ने वादियां मेरा दामन रास्ते मेरी बाहें… गुनगुनाया। छात्रा अन्नू बत्रा ने शास्त्रीय संगीत आधारित गीत मो से छल किए जाए… सुनाया। पानीपत सिविल अस्पताल में कार्यरत नेत्र विशेषज्ञ डॉ. शालिनी मेहता ने कार्यक्रम का टाइटल गीत रहें ना रहें हम महका करेंगे बन के कली बन के सबा… गाकर श्रोताओं को तालियां बजाने पर मजबूर कर दिया। नव चेतना मंच के संयोजक एसपी चौहान ने आदमी मुसाफिर है… गीत सुना के तालियां बटोरी।

उत्तर भारत में लता मंगेशकर और मोहम्मद रफी के गीतों को जीवंत अंदाज में पेश करने वाले दिलशाद अहमद और मनिंदर बब्बू ने आशाओं के सावन में और जिंदगी प्यार का गीत है… गाया।

कार्यक्रम का संचालन रेडियो उद्घोषक एवं वॉइस ऑफ इंडिया के महासचिव महेश शर्मा ने किया। अध्यक्ष डॉ. कृष्ण अरोड़ा ने बताया कि आगामी 31 जुलाई को मोहम्मद रफी नाइट को बड़े स्तर पर आयोजित किया जाएगा। जिसमें बॉलीवुड की हस्तियों को भी बुलाने का प्रयास किया जाएगा।

इस अवसर पर आर्जव शर्मा, वीरेंद्र लाडी, केएल सोढ़ी, अजय शर्मा, अनिल भग , डॉ. वीके सिंगला, डॉ. अशोक गुप्ता, प्रितपाल सिंह पन्नू, नरेश अरोड़ा, रीना अरोड़ा, अशोक अरोड़ा, राज अरोड़ा, ओमप्रकाश, सुकांत, राकेश वर्मा, राजीव गाबा व शाम अरोड़ा मौजूद रहे।

.


तीन किशोरियां लापता, तलाश जारी

भूजल संकट : 455 में से 444 गांव रेड जोन में