in

निर्माण के आखिरी समय में रूका बजट मिला, जल्द पूरा होगा वन स्टॉप सेंटर का काम


ख़बर सुनें

निर्माण के आखिरी समय में रुका बजट मिला, जल्द पूरा होगा वन स्टॉप सेंटर का काम
फोटो: 9
– 40 लाख रुपये से बन रहा है वन स्टॉप सेंटर व महिला एवं बाल विकास विभाग का कार्यालय
– फिलहाल तेजली रोड पर किराये के भवन में चल रहा है वन स्टॉप सेंटर
संवाद न्यूज एजेंसी
यमुनानगर। महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यालय में बन रहे वन स्टॉप सेंटर का काम एक बार फिर से रफ्तार पकड़ेगा। निर्माण के आखिरी समय में सेंटर के भवन का काम बजट के अभाव में रुक गया था। विभाग ने कार्य पूरा करने के लिए करीब तीन लाख रुपये जारी किए हैं। इसी माह के आखिरी में नए भवन में वन स्टॉप सेंटर व विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय शिफ्ट हो सकता है। इस भवन के निर्माण पर कुल 40 लाख रुपये खर्च होंगे। लंबे समय से विभाग को भवन की दरकार थी।
किराये के भवन में चल रहा वन स्टॉप सेंटर
विभाग द्वारा संचालित वन स्टॉप सेंटर लंबे समय से तेजली खेल परिसर रोड स्थित किराये के भवन में चल रहा है। इस सेंटर में घरेलू हिंसा, दुष्कर्म, घर से भागी हुई या फिर शादी का झांसा देकर भगाई गई युवतियों और समाज द्वारा सताई गई महिलाओं को निर्धारित समय तक रखा जाता है। जब तक कोई युवती या महिला सेंटर में रहती है उसकी देखरेख व भोजन की व्यवस्था महिला एवं बाल विकास विभाग को ही करनी होती है। उनकी देखरेख के लिए विभाग को अलग से स्टाफ नियुक्त करना पड़ रहा है। जबकि जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय अर्जुन नगर में है। ऐसे में एक जगह कार्यालय व दूसरी जगह वन स्टॉप सेंटर होने से स्टाफ को काफी भागदौड़ करते हुए परेशानी का सामना करना पड़ता है।
विभाग को जर्जर भवन से मिलेगी मुक्ति
जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय इस समय जिस भवन में चल रहा है वह काफी पुराना होने की वजह से जर्जर हो चुका है। इसमें जगह का भी अभाव है। एक-एक कमरे में कई कर्मचारी बैठे हैं। इसके अलावा रिकॉर्ड को रखने में भी दिक्कत होती है। वहीं पुराना भवन अर्जुन नगर की गलियों व आबादी से काफी नीचा है। मानसून सीजन में अक्सर कार्यालय परिसर में बारिश का पानी जमा हो जाता है। पानी को रोकने के लिए विभाग ने दरवाजे पर ईंटों की दीवार बना रखी है। जो नया भवन बन रहा है उसमें नीचे जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय शिफ्ट होगा। प्रथम मंजिल पर वन स्टॉप सेंटर बनेगा। इससे विभाग का हर माह होने वाला काफी खर्च बचेगा।
बजट जारी हो गया है : बलजीत कौर
महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी बलजीत कौर का कहना है कि कार्यालय परिसर में ही 40 लाख रुपये से नया भवन बनाया जा रहा है। इसका कुछ बजट रुक गया था जो अब जारी हो गया है। हमारा प्रयास है कि इसी माह कार्यालय में शिफ्ट हो जाएं। नीचे विभाग का कार्यालय होगा, जबकि प्रथम मंजिल पर वन स्टॉप सेंटर होगा। पुराना भवन काफी जर्जर हो गया है।

निर्माण के आखिरी समय में रुका बजट मिला, जल्द पूरा होगा वन स्टॉप सेंटर का काम

फोटो: 9

– 40 लाख रुपये से बन रहा है वन स्टॉप सेंटर व महिला एवं बाल विकास विभाग का कार्यालय

– फिलहाल तेजली रोड पर किराये के भवन में चल रहा है वन स्टॉप सेंटर

संवाद न्यूज एजेंसी

यमुनानगर। महिला एवं बाल विकास विभाग के कार्यालय में बन रहे वन स्टॉप सेंटर का काम एक बार फिर से रफ्तार पकड़ेगा। निर्माण के आखिरी समय में सेंटर के भवन का काम बजट के अभाव में रुक गया था। विभाग ने कार्य पूरा करने के लिए करीब तीन लाख रुपये जारी किए हैं। इसी माह के आखिरी में नए भवन में वन स्टॉप सेंटर व विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय शिफ्ट हो सकता है। इस भवन के निर्माण पर कुल 40 लाख रुपये खर्च होंगे। लंबे समय से विभाग को भवन की दरकार थी।

किराये के भवन में चल रहा वन स्टॉप सेंटर

विभाग द्वारा संचालित वन स्टॉप सेंटर लंबे समय से तेजली खेल परिसर रोड स्थित किराये के भवन में चल रहा है। इस सेंटर में घरेलू हिंसा, दुष्कर्म, घर से भागी हुई या फिर शादी का झांसा देकर भगाई गई युवतियों और समाज द्वारा सताई गई महिलाओं को निर्धारित समय तक रखा जाता है। जब तक कोई युवती या महिला सेंटर में रहती है उसकी देखरेख व भोजन की व्यवस्था महिला एवं बाल विकास विभाग को ही करनी होती है। उनकी देखरेख के लिए विभाग को अलग से स्टाफ नियुक्त करना पड़ रहा है। जबकि जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय अर्जुन नगर में है। ऐसे में एक जगह कार्यालय व दूसरी जगह वन स्टॉप सेंटर होने से स्टाफ को काफी भागदौड़ करते हुए परेशानी का सामना करना पड़ता है।

विभाग को जर्जर भवन से मिलेगी मुक्ति

जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय इस समय जिस भवन में चल रहा है वह काफी पुराना होने की वजह से जर्जर हो चुका है। इसमें जगह का भी अभाव है। एक-एक कमरे में कई कर्मचारी बैठे हैं। इसके अलावा रिकॉर्ड को रखने में भी दिक्कत होती है। वहीं पुराना भवन अर्जुन नगर की गलियों व आबादी से काफी नीचा है। मानसून सीजन में अक्सर कार्यालय परिसर में बारिश का पानी जमा हो जाता है। पानी को रोकने के लिए विभाग ने दरवाजे पर ईंटों की दीवार बना रखी है। जो नया भवन बन रहा है उसमें नीचे जिला कार्यक्रम अधिकारी का कार्यालय शिफ्ट होगा। प्रथम मंजिल पर वन स्टॉप सेंटर बनेगा। इससे विभाग का हर माह होने वाला काफी खर्च बचेगा।

बजट जारी हो गया है : बलजीत कौर

महिला एवं बाल विकास विभाग की जिला कार्यक्रम अधिकारी बलजीत कौर का कहना है कि कार्यालय परिसर में ही 40 लाख रुपये से नया भवन बनाया जा रहा है। इसका कुछ बजट रुक गया था जो अब जारी हो गया है। हमारा प्रयास है कि इसी माह कार्यालय में शिफ्ट हो जाएं। नीचे विभाग का कार्यालय होगा, जबकि प्रथम मंजिल पर वन स्टॉप सेंटर होगा। पुराना भवन काफी जर्जर हो गया है।

.


श्रीकृष्ण संग्रहालय की हालत पर्यटकों को कर रही मायूस

सिद्धू मूसेवाला हत्याकांड: पंजाब पुलिस ने हत्या में शामिल दो संदिग्धों को घर पर ठहराने के आरोप में व्यक्ति को किया काबू